'अब वो खिलाड़ी भी धोनी की आलोचना कर रहे हैं, जो अपने करियर में ठीक से नहीं खेले'

महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास को लेकर अटकलों का बाजार वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की विदाई के बाद से ही गर्म है.

टीम इंडिया के पूर्व चयनकर्ता ने कहा कि धोनी ने सेमीफाइनल में टीम की रणनीति के अनुसार ही बल्लेबाजी की, मौजूदा समय में टीम के पास उनसे बेहतर विकेटकीपर बल्लेबाज नहीं है.

  • Share this:
    भारतीय क्रिकेट में इस समय सबसे बड़ा सवाल महेंद्र सिंह धोनी को लेकर है. सवाल कई हैं. क्या वे वेस्टइंडीज दौरे पर जाएंगे, क्या उन्होंने खुद दौरे पर जाने से मना किया है या फिर उन्हें टीम में चुना ही नहीं जाएगा. या फिर क्या वे जल्द ही संन्यास का ऐलान करने वाले हैं? इन सवालों का जवाब हर कोई अपने-अपने हिसाब से तलाश रहा है या यूं कहिए कि अनुमान लगा रहा है.

    इस बीच, पूर्व चयनकर्ता संजय जगदाले धोनी के साथ खड़े नजर आ रहे हैं. उनका साफतौर पर मानना है कि मौजूदा टीम इंडिया में धोनी का कोई विकल्प ही नहीं है और पूर्व भारतीय कप्तान को अपने करियर पर फैसला करने का पूरा हक है.

    जगदाले ने तो यहां तक कह दिया कि आज वो क्रिकेटर भी धोनी की आलोचना कर रहे हैं जो खुद कभी अपने करियर के दौरान ठीक से नहीं खेल सके. जगदाले ने कहा कि धोनी महान खिलाड़ी हैं और हमेशा निस्वार्थ रूप से देश के लिए खेलते रहे हैं.

    Dhoni, Dhoni Retirement, MS Dhoni, arun pandey, dhoni friend, एमएस धोनी, धोनी संन्‍यास, धोनी रिटायर, अरुण पांडे, संजय जगदाले, sanjay jagdale
    संजय जगदाले भारतीय टीम के पूर्व चयनकर्ता रह चुके हैं. (फाइल फोटो)


    हालांकि जगदाले ने साथ ही कहा कि चयनकर्ताओं को धोनी से मिलना चाहिए और उनसे बात करनी चाहिए कि आखिर उनके दिमाग में क्या चीजें चल रही हैं, जैसा कि सचिन तेंदुलकर के संन्यास से पहले किया गया था. चयनकर्ताओं को धोनी को यह भी बताना चाहिए कि वे भविष्य को लेकर उनके बारे में क्या सोचते हैं. मेरे हिसाब से धोनी से बेहतर विकेटकीपर बल्लेबाज टीम में कोई भी नहीं है.

    Dhoni, Dhoni Retirement, MS Dhoni, arun pandey, dhoni friend, एमएस धोनी, धोनी संन्‍यास, धोनी रिटायर, अरुण पांडे, संजय जगदाले, sanjay jagdale
    महेंद्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम में शामिल किया जाएगा या नहीं, इसका फैसला रविवार को होने वाली चयन समिति की बैठक में होगा.


    वर्ल्ड कप में धोनी की धीमी बल्लेबाजी को लेकर भले ही कई लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं, लेकिन इस बारे में संजय जगदाले का मानना कुछ और ही है. उन्होंने कहा कि धोनी ने वर्ल्ड कप में टीम की जरूरत के हिसाब से बल्लेबाजी की. सेमीफाइनल में भी वह रणनीति के हिसाब से ही खेल रहे थे, लेकिन दुर्भाग्य से अहम मौके पर रन आउट हो गए. मगर अब वो लोग भी धोनी की आलोचना कर रहे हैं जो खुद कभी अपने करियर में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके. सच्चा खिलाड़ी ही धोनी की कीमत जान सकता है. उन्होंने साथ ही कहा कि 38 साल के किसी खिलाड़ी से ऐसी उम्मीद करना सही नहीं है कि वो उसी एनर्जी से खेल सके जैसा कि अपने शुरुआती दिनों में खेला करता था.

    यह भी पढ़ें- पत्नियों पर फैसले का हक विराट-शास्‍त्री को क्यों : बोर्ड

    लाइव मैच में डियो लगाती नजर आईं महिला कमेंटेटर, वीडियो वायरल

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.