होम /न्यूज /खेल /

पूर्व पाक स्पिनर ने की कई टीमों में खेलने वाले भारत की तारीफ, बोले- दूसरे देश ऐसा सोच नहीं सकते

पूर्व पाक स्पिनर ने की कई टीमों में खेलने वाले भारत की तारीफ, बोले- दूसरे देश ऐसा सोच नहीं सकते

दानिश कनेरिया ने बीसीसीआई की रणनीति की तारीफ की है. (BCCI Twitter)

दानिश कनेरिया ने बीसीसीआई की रणनीति की तारीफ की है. (BCCI Twitter)

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की दो अलग-अलग भारतीय टीमों को हर समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए तैयार रखने के प्रयास के लिए प्रशंसा की है. बीसीसीआई सचिव जय शाह ने इस साल की शुरुआत में खुलासा किया था कि दो अलग-अलग भारतीय टीमें अलग-अलग स्थानों पर एक साथ दो सीरीज खेल सकती हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. टीम इंडिया हरारे में गुरुवार (18 अगस्त) से शुरू हो रही 3 मैचों की वनडे सीरीज में जिम्बाब्वे से भिड़ेगी. इस सीरीज के लिए टीम के सीनियर खिलाड़ियों को आराम दिया गया है. केएल राहुल को इस सीरीज की कप्तानी दी गई है. उनके नेतृत्व में युवा टीम इंडिया जिम्बाब्वे से मुकाबला करने उतरेगी. 12 महीनों में ऐसे कई मौके आए हैं जब दो अलग-अलग भारतीय टीमों ने अलग-अलग जगहों पर दो अलग-अलग सीरीज खेली हैं.

जुलाई 2021 में जब विराट कोहली की अगुवाई वाली टेस्ट टीम इंग्लैंड में थी, तब शिखर धवन ने 3 वनडे और 3 टी20 इंटरनेशनल के लिए श्रीलंका के खिलाफ दूसरी टीम इंडिया की कमान संभाली थी. इस साल की शुरुआत में भी जब रोहित शर्मा एंड कंपनी एजबेस्टन टेस्ट की तैयारी कर रही थे, तब हार्दिक पांड्या ने आयरलैंड में 2 टी20 मैचों में एक टीम का नेतृत्व किया. एक ही समय में अलग-अलग जगहों पर कई टीमों को मैदान में उतारना भारतीय क्रिकेट में एक नया मानदंड बन गया है और बीसीसीआई सचिव जय शाह पहले ही कह चुके हैं कि भविष्य में ऐसा अधिक बार होगा.

ईशान किशन और शुभमन गिल के साथ शिखर धवन ने शेयर किया मजेदार VIDEO, क्रिकेटर्स ने दिए मजेदार रिएक्शन

कनेरिया ने की BCCI की तारीफ

पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया ने बीसीसीआई की इस खास रणनीति की सराहना की है. अपने नए यूट्यूब वीडियो में उन्होंने कहा कि भारत के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के भंडार ने उन्हें वनडे मैचों के लिए जिम्बाब्वे में एक ‘बी टीम’ भेजने की अनुमति दी है. कनेरिया ने कहा, ”दो भारतीय टीम बनाने की बात हो रही है, क्योंकि उनके पास इतने खिलाड़ी हैं कि उन सभी को एक टीम में समायोजित करना मुश्किल हो जाता है. जिम्बाब्वे टेस्ट खेलने वाला देश है और वे प्रभावशाली क्रिकेट खेलते हैं, लेकिन इसके बावजूद भारत ने सीरीज के लिए दूसरी पंक्ति की टीम भेजी है.”

BCCI नई प्रतिभाओं को दे रही मौका

उन्होंने आगे कहा, ”हमने देखा कि इस साल की शुरुआत में भी जब कई भारतीय खिलाड़ी इंग्लैंड में थे, तब एक अलग भारतीय टीम ने श्रीलंका में सफेद गेंद का खेल खेला था.” कनेरिया ने सुझाव दिया कि भारत ने जो किया है, उसे दोहराना अन्य देशों के लिए आसान काम नहीं होगा. उन्होंने बताया कि बीसीसीआई एक समय में दो अलग-अलग टीमों को मैदान में उतारकर नई प्रतिभाओं को अवसर दे रहा है.

Asia Cup 2022: भारत ने पाकिस्तान को किया तहस-नहस, 9 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके

कनेरिया ने कहा, ”यदि उनके पास दो टीमें हैं तो निश्चित रूप से विश्व क्रिकेट पर इसका बड़ा प्रभाव पड़ेगा. किसी अन्य देश ने दो टीमों के होने की बात नहीं की है और मुझे नहीं लगता कि वे ऐसा कर पाएंगे. पाकिस्तान के पास भी बहुत सारे प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्हें पर्याप्त मौके नहीं मिल रहे हैं.”

उन्होंने कहा, ”दूसरी ओर भारत अपने खिलाड़ियों को मौका दे रहा है. चाहे वे कहीं से भी आए हों. पाकिस्तान के साथ ऐसा नहीं है. वे नीदरलैंड के खिलाफ सीरीज के लिए नए खिलाड़ियों को भेज सकते थे और शान मसूद को कप्तान होना चाहिए था.”

Tags: BCCI, Cricket news, Danish Kaneria, Team india

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर