'सफल होने के लिए 6-पैक की जरूरत नहीं', आजम के समर्थन में उतरे फाफ डुप्लेसी

फाफ डुप्लेसी ने पाकिस्तान के युवा बल्लेबाज आजम खान का समर्थन किया है. (Instagram/Faf Du Plessis)

फाफ डुप्लेसी ने पाकिस्तान के युवा बल्लेबाज आजम खान का समर्थन किया है. (Instagram/Faf Du Plessis)

22 साल के आजम खान को पाकिस्तान की टी20 टीम में चुना गया है जिस पर कुछ आलोचकों ने इसे पक्षपातपूर्ण बताया. वह पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज मोईन खान के बेटे हैं. पीएसएल में उनकी टीम क्वेटा ग्लैडिएटर्स के साथी फाफ डुप्लेसी ने उनका समर्थन किया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के आगामी दौरों के लिए पाकिस्तान की टी20 टीम में चुने गए युवा बल्लेबाज आजम खान (Azam Khan) के समर्थन में फाफ डुप्लेसी (Faf Du Plessis) उतरे हैं. आजम को पहली बार राष्ट्रीय टीम में जगह मिली है. उन्हें टीम में शामिल करने से क्रिकेट फैंस के बीच थोड़ा विवाद भी छिड़ गया क्योंकि कुछ का मानना है कि आजम का चयन अनुचित और पक्षपातपूर्ण था. आजम पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोईन खान के बेटे हैं. दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज बल्लेबाज ने कहा कि क्रिकेट में सफल होने के लिए हमेशा 6-पैक की जरूरत नहीं होती है.

22 वर्षीय आजम पाकिस्तान सुपर लीग में क्वेटा ग्लैडिएटर्स (Quetta Gladiators) के लिए खेलते हैं. उनका वजह पहले करीब 100 किग्रा था लेकिन उन्होंने अपनी फिटनेस पर काफी मेहनत की और वजन भी कम किया. फाफ ने क्वेटा टीम के अपने साथी का बचाव करते हुए कहा कि वह एक शानदार बल्लेबाज हैं.

डुप्लेसी ने क्रिकेट पाकिस्तान से बातचीत में कहा, 'मुझे नहीं लगता कि क्रिकेट में सफल होने के लिए 6-पैक की जरूरत होती है. आजम एक शानदार हिटर हैं. मैंने उन्हें ज्यादा खेलते तो नहीं देखा क्योंकि उनके साथ मैं अब तक कम ही मैच खेल पाया हूं. उनके पास काफी ताकत है, जिसका इस्तेमाल वह गेंद पर करते हैं. पीएसएल के आखिरी चरण में उन पर नजरें रहेंगी.'

इसे भी पढ़ें, पाकिस्तानी टीम में जगह मिलने पर 'घमासान' के बाद बोले आजम खान- जवाब जरूर दूंगा
आजम और डुप्लेसी ने पीएसएल के मौजूदा सीजन में खेले थे लेकिन कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों के चलते इसे स्थगित करना पड़ा. अब 9 जून से यह लीग फिर शुरू होगी. इससे पहले आजम ने भी अपने सभी आलोचकों को जवाब दिया था. उन्होंने कहा कि वह सोशल मीडिया ट्रोलिंग पर कोई ध्यान नहीं देते हैं और जितना हो सके, इसे अनदेखा करने की कोशिश करते हैं. आजम ने जोर देकर कहा कि ईश्वर ने उन्हें प्रतिभा का आशीर्वाद दिया है और वह अपने कौशल का पूरा इस्तेमाल करना चाहते हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज