ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी की बेटी बनी धावक, 4000 मीटर की रेस आसानी से जीती

माइकल स्लेटर की बेटी ने सिडनी मोटर स्पोर्ट्स पार्क में ही क्रॉस कंट्री रेस जीती. (michael slater instagram)

माइकल स्लेटर की बेटी ने सिडनी मोटर स्पोर्ट्स पार्क में ही क्रॉस कंट्री रेस जीती. (michael slater instagram)

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर और कॉमेंटेटर माइकल स्लेटर की बेटी इसाबेला ने चार किमी की क्रॉस कंट्री रेस जीती है. स्लेटर ने इसका वीडियो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर किया है. स्लेटर हाल ही आईपीएल 2021 स्थगित होने के बाद ऑस्ट्रेलिया लौटे हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और कॉमेंटेटर माइकल स्लेटर की बेटी इसाबेला ने चार किमी की क्रॉस कंट्री रेस जीती है. इस रेस का आयोजन सिडनी मोटर स्पोर्ट्स पार्क में हुई थी. स्लेटर ने इसका वीडियो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर किया. इस वीडियो के साथ उन्होंने कैप्शन दिया- मेरी बेटी ने क्रॉस कंट्री रेस जीती. मुझे तुम पर गर्व है. रेस के दौरान लगातार बारिश हो रही थी. लेकिन इसका इसाबेला पर कोई असर नहीं पड़ा और बड़ी आसानी से उन्होंने ये रेस जीत ली.

स्लेटर का क्रिकेटर करियर उतार-चढ़ाव भरा रहा. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का शानदार आगाज किया था. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 1993 में टेस्ट डेब्यू किया था. इसी साल न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में उन्होंने 76 से ज्यादा के औसत से 305 रन बनाए थे. वहीं 1994-95 में इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में स्लेटर ने 62.30 के औसत से 623 रन बनाए. लेकिन 2001 में खराब फॉर्म के कारण उन्हें टीम से बाहर होना पड़ा.

View this post on Instagram

A post shared by Michael Slater (@mj_slats)



इतना ही नहीं, बचपन की दोस्त और पहली पत्नी स्टेफनी से अलगाव का असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ा था. इसी वजह से उनका क्रिकेट करियर भी पटरी से उतर गया था. हालांकि, कॉमेंट्री की शुरुआत के बाद उनकी जिंदगी दोबारा पटरी पर लौटी. स्लेटर ने योगा टीचर जो से दूसरी शादी की. जो ने स्लेटर को डिप्रेशन से बाहर आने में काफी मदद की. स्लेटर पत्नी जो और तीन बच्चों के साथ फिलहाल सिडनी में रहते हैं.

स्लेटर ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री की आलोचना की थी

स्लेटर आईपीएल 2021 के कॉमेंट्री पैनल में भी शामिल थे. लेकिन कोरोना के कारण लीग के स्थगित होने के बाद वो वापस ऑस्ट्रेलिया लौट गए. लेकिन इससे पहले, उन्होंने देश के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन द्वारा भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर बैन लगाने को लेकर नाराजगी जताई थी. तब स्लेटर ने कहा था कि प्रधानमंत्री मॉरिसन को अपने लोगों की फिक्र नहीं हैं. अगर सरकार को हमारी चिंता है तो वो हमें जल्द से जल्द स्वदेश लौटने की मंजूरी दे. हालांकि, बाद में बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों और कॉमेंट्री टीम में शामिल लोगों को चार्टर्ड फ्लाइट से मालदीव भेजा था. जहां दो हफ्ते स्लेटर को क्वारंटीन रहना पड़ा था.



स्लेटर और वॉर्नर के बीच मालदीव में हुआ था विवाद

क्वारंटीन के दौरान भी मालदीव के होटल में उनके और डेविड वॉर्नर के बीच हाथापाई की खबरें भी आई थी. हालांकि, दोनों ने पुराने दोस्त होने का हवाला देकर इन खबरों को अफवाह करार दिया था. तब स्लेटर ने इस खबर पर सफाई देते हुए कहा था कि मैं और वॉर्नर दोनों पुराने दोस्त हैं. हमारे बीच किसी तरह का कोई विवाद नहीं हुआ.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज