कोविड-19 से जुड़ी जटिलटाओं के कारण हॉकी अंपायर सुरेश कुमार ठाकुर का निधन

हॉकी अंपायर सुरेश कुमार ठाकुर का मोहाली में निधन हो गया.

हॉकी अंपायर सुरेश कुमार ठाकुर का मोहाली में निधन हो गया.

सुरेश कुमार ठाकुर ने कुआलालंपुर में अजलन शाह हॉकी टूर्नामेंट और हैम्बर्ग (जर्मनी) में हुए चार देशों की प्रतियाोगिता के अलावा कई अन्य टूर्नामेंटों में भी अंपायरिंग की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 4:00 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हॉकी के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर सुरेश कुमार ठाकुर का कोविड-19 से जुड़ी जटिलताओं के कारण शुक्रवार को मोहाली में निधन हो गया. वह 51 साल के थे. हॉकी इंडिया ने शनिवार को यह जानकारी दी. ठाकुर ने कुआलालंपुर में अजलन शाह हॉकी टूर्नामेंट और हैम्बर्ग (जर्मनी) में हुए चार देशों की प्रतियाोगिता के अलावा कई अन्य टूर्नामेंटों में भी अंपायरिंग की थी. उन्होंने 2013 और 2014 में हॉकी इंडिया लीग में भी मैच अधिकारी की भूमिका निभाई थी.

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबाम ने कहा, ‘‘ सुरेश कुमार ठाकुर अंतरराष्ट्रीय सर्किट में जाने-माने अंपायर थे और हॉकी के मैदान में उनकी कमी खलेगी.’’उन्होंने कहा, ‘‘ उन्होंने कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लिया और हर मैच में अपनी छाप छोड़ने में सफल रहे. हम हॉकी इंडिया की तरफ से सुरेश के परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं और आशा करते हैं कि वे इस कठिन समय का सामना कर पायेंगे.

यह भी पढ़ें:

IPL 2021 : राजस्थान ने कोलकाता को हराकर दर्ज की सीजन में दूसरी जीत, क्रिस मॉरिस ने झटके 4 विकेट
 IPL : ना मोबाइल, ना फोटो लेकिन छा गया रियान पराग का 'सेल्फी सेलिब्रेशन'

भारतीय क्रिकेटर वेदा कृष्णामूर्ति की मां का निधन

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सदस्य वेदा कृष्णामूर्ति की मां चेलुवम्बदा देवी का कोरोना वायरस संक्रमण से निधन हो गया. बेंगलुरू की इस क्रिकेटर ने शनिवार को ट्वीट कर मां के निधन की जानकारी दी. भारत के लिए 48 एकदिवसीय और 76 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलने वाली इस क्रिकेटर ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ अम्मा के निधन के बाद मुझे जो संदेश मिले है मैं उनका सम्मान करती हूं. आप समझ सकते है कि उनके बिना मेरे परिवार के बारे में नहीं सोचा जा सकता है. आप मेरी बहन के लिए प्रार्थना करिये. मैं जांच में नेगेटिव आयी हूं और चाहूंगी की आप हमारी निजता का सम्मान करें. इस तरह की स्थिति से गुजरने वालों के साथ मेरी संवेदनाएं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज