होम /न्यूज /खेल /

IND vs ZIM: टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने कहा- सुंदर मुझसे बेहतर ऑलराउंडर, लेकिन...

IND vs ZIM: टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने कहा- सुंदर मुझसे बेहतर ऑलराउंडर, लेकिन...

IND vs ZIM: वॉशिंगटन सुंदर एक बार फिर टीम से बाहर हो गए हैं. (AFP)

IND vs ZIM: वॉशिंगटन सुंदर एक बार फिर टीम से बाहर हो गए हैं. (AFP)

IND vs ZIM: टीम इंडिया अभी जिम्बाब्वे के दौरे पर है. दोनों के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज कल से शुरू हो रही है. इस बीच ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) एक बार फिर चोट के चलते टीम से बाहर हो गए हैं.

हाइलाइट्स

टीम इंडिया को जिम्बाब्वे दौरे पर 3 वनडे खेलने हैं
ऑफ स्पिनर सुंदर की जगह शाहबाज अहमद को मिली जगह
केएल राहुल और दीपक चाहर भी चोट से वापसी कर रहे

नई दिल्ली. वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) बेशक एक बेहतरीन ऑलराउंडर है. मैनचेस्टर में चल रहे काउंटी क्रिकेट के दौरान वे एक बार फिर चोटिल हो गए, जिसके कारण वह जिम्बाब्वे के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज से (IND vs ZIM) बाहर हो गए हैं. इससे पहले वहां उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए 11 विकेट लिए थे. सीरीज का पहला मैच कल यानी 18 अगस्त को हरारे में खेला जाएगा. दूसरा 20 को और तीसरा 22 अगस्त को खेला जाएगा. इससे पहले भी कई बार सुंदर चोट के कारण टीम इंडिया से बाहर हो चुके हैं. पूर्व भारतीय कोच रवि शास्त्री ने सुंदर को खुद से बेहतरीन ऑलराउंडर बताया है.

हरारे के लिए टीम के रवाना होने से 5 दिन पहले वॉशिंगटन के बाएं कंधे में चोट लगी थी. हालांकि चोट अधिक गंभीर नहीं है. लेकिन सुंदर ने एक बार फिर मौका खो दिया. सुंदर के लिए ये अभिशाप रहा है कि जब भी वो टीम में जगह बनाने के लिए फिट हो जाते है, तब उन्हें किसी न किसी तरह की चोट का सामना करना पड़ता है. पिछले साल नेट प्रैक्टिस के दौरान उन्हें उंगली में फ्रेक्चर का सामना करना पड़ा था. फिर ठीक 6 महीने बाद दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले वो कोविड-19 से संक्रमित हो गए थे. फिर हैमस्ट्रिंग और आईपीएल में उंगली की चोट ने उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर रखा.

इंग्लैंड के खिलाफ बनाए 96 रन
2021 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में नाबाद 96 रन की पारी खेलने के बाद उन्हें टेस्ट खेलने का मौका नहीं मिला. वे फिर चोट से प्रभावित रहे. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री के अनुसार वह वैल्युएबल खिलाड़ी से चोटिल खिलाड़ी बन गया है. वह अगर अपनी गेंदबाजी में सुधार कर सकते हैं, तो वो एक बेहतरीन ऑलराउंडर के रूप में उभर सकते है. पिछले एक दशक में भारतीय टीम में एक ऐसे बल्लेबाज की कमी रही है, जो स्पिन गेंदबाजी कर सकता हो. एक समय में भारत के पास सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, सुरेश रैना, युवराज सिंह जैसे नाम थे, जिनके सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से भारत ने कई मैच जीते.

सुंदर की गेंदबाजी बेहतर
इन सब खिलाड़ियों की तुलना में सुंदर की गेंदबाजी काफी अलग है. सुंदर गति बदलने में माहिर है. वह नई गेंद से गेंदबाजी कर सकते है और पावरप्ले के चतुर गेंदबाज हैं. साथ ही डेथ ओवर्स में भी गेंदबाजी करने की क्षमता रखते हैं. सुंदर का एक अतिरिक्त बल्लेबाज और अतिरिक्त गेंदबाज की तरह टीम में होना टीम को बेहतर बना सकता है. रवींद्र जडेजा की निरंतरता लगातार कम होती जा रही है और 50 ओवर का वर्ल्ड कप मात्र एक साल दूर है.

Asia Cup 2022: भारत ने पाकिस्तान को किया तहस-नहस, 9 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके

ऐसे में वॉशिंगटन सुंदर एक बेहतर विकल्प हो सकते हैं. शास्त्री ने कहा कि सुंदर में मुझसे अधिक क्षमता है और उन्हें हर फॉर्मेट में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करनी चाहिए. उन्हें अपने फिटनेस पर काम करने के साथ खुद को चोट न पहुंचाने के लिए भी सावधान रहने की जरूरत है.

Tags: BCCI, India vs Zimbabwe, Ravi shastri, Team india, Washington Sundar, Zimbabwe

अगली ख़बर