टीम में नहीं लिया तो क्रिकेटर ने पूर्व तेज गेंदबाज अमित भंडारी को मारने गुंडे भेजे, हॉकी स्टिक से पीटा

8 जनवरी को दिल्ली और डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन ने 56 संभावित खिलाड़ियों के नाम की सूचि जारी की थी, जिसमें अनुज डेढा का नाम शामिल था.

News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 5:11 PM IST
News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 5:11 PM IST
भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और दिल्ली के कप्तान रहे अमित भंडारी पर सोमवार सुबह कुछ लोगों ने हमला कर दिया. इस हमले में वे गंभीर रूप से घायल हो गए. दिल्ली U-23 क्रिकेट टीम के खिलाड़ी अनुज डेढा पर हमले का आरोप है. जिस वक्त हमला हुआ उस समय भंडारी सेंट स्टीफन कॉलेज के मैदान में सीनियर टीम का अभ्यास मैच देख रहे थे. वह इस वक्त दिल्ली टीम के चयनकर्ता हैं.  बता दें कि अमित भंडारी ने भारत के लिए दो वनडे मैच खेले थे.

बताया जा रहा है कि अनुज डेढा ने अंडर-23 टीम में चयन न किए जाने के चलते हमला कराया.  28 जनवरी को दिल्ली और डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन ने 56 संभावित खिलाड़ियों के नाम की सूची जारी की थी, जिसमें अनुज डेढा का नाम शामिल था.

हमले में अनुज भंडारी को गंभीर चोटें आई हैं. उनके सिर में छह टांके लगाए गए हैं और पांव फ्रैक्चर बताया जा रहा है. पुलिस ने अनुज डेढा और एक हमलावर को हिरासत में ले लिया है. जबकि अन्य की तलाश चल रही है.



दिल्‍ली क्रिकेट बोर्ड के अध्‍यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाएगी.

वहीं पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी इस घटना की आलोचना की है. उन्‍होंने टि्वटर पर लिखा, 'दिल्‍ली में ऐसा होते देखना बहुत बुरा है. इस मामले को दबाया नहीं जा सकता और मैं व्‍यक्तिगत तौर पर यह तय करूंगा कि मामला दबे नहीं. जिस खिलाड़ी ने चयन न होने पर हमला कराया है उस पर सभी तरह के क्रिकेट से आजीवन प्रतिबंध लगे.'

दिल्ली क्रिकेट कमेटी के सदस्य सिद्धार्थ वर्मा ने बताया, "डेढा नाराज था कि उसे अंडर -23 के लिए नहीं चुना गया है. वह कुछ दिनों से भंडारी को धमकी दे रहा था. लेकिन जिस तरह से उन्होंने हमला किया वह चौंकाने वाला है. हम पहले ही पुलिस में शिकायत दर्ज करा चुके हैं और उन सभी के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा."

दिल्‍ली क्रिकेट टीम के मैनेजर शंकर ने घटना के बारे में बताया कि वह अपने साथियों के साथ खाना खा रहे थे. भंडारी दूसरे चयनकर्ताओं ओर सीनियर टीम के कोच मिथुन मन्‍हास के साथ संभावितों का ट्रायल मैच देख रहे थे.
Loading...

सैनी ने बताया कि सबसे पहले दो लोग भंडारी के पास पहुंचे और बहस करने लगे. इसके कुछ ही देर बाद 15 लोग हॉकी स्टिक और साइकिल चेन के साथ वहां पहुंचे. जब दूसरे लड़के बीच-बचाव करने पहुंचे तो उन्‍होंने कहा कि हम लोगों के बीच मत आओ नहीं तो हम गोली मार देंगे. इसके बाद उन्‍होंने भंडारी को हॉकी स्टिक और रॉड से पीटा.

ये भी पढ़ें: चंद्रकांत पंडित: जिद से टीम और खिलाड़ियों की 'किस्‍मत' बदलने वाले कोच से क्‍यों रूठा है आईपीएल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर