809 विकेट लेने वाला गेंदबाज सड़क पर 13 घंटे करता है काम, परिवार पालने के लिए चिप्स भी बेचे

एविन चैटफील्ड की दिलचस्प कहानी
एविन चैटफील्ड की दिलचस्प कहानी

एक ऐसा गेंदबाज (Former New Zealand bowler Ewen Chatfield) जिसका नाम एक वक्त पर पूरी दुनिया में मशहूर था, वो आज पैसों के लिए सड़क पर 13 घंटे बिताता है

  • Share this:
नई दिल्ली. एक ऐसा क्रिकेटर जिसकी गेंद की रफ्तार और स्विंग अच्छे-अच्छे बल्लेबाजों के होश उड़ा देती थी. एक ऐसा गेंदबाज जिसकी सटीक लाइन -लेंग्थ अच्छे बल्लेबाजों का टेस्ट लेती थी, वो गेंदबाज जिसने अपने क्रिकेट करियर में 809 विकेट लिये, वो खिलाड़ी आज परिवार पालने के लिए 13 घंटे सड़क पर बिताता है. हम बात कर रहे हैं लगभग 70 साल के हो चुके न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज एविन चैटफील्ड (Ewen Chatfield) की जिन्होंने न्यूजीलैंड के लिए 43 टेस्ट, 114 वनडे खेले हैं. यही नहीं उन्होंने 157 फर्स्ट क्लास मैच और 171 लिस्ट ए मैचों में भी हिस्सा लिया है. आइए आपको बताते हैं एविन जॉन चैटफील्ड की कहानी.

एविन चैटफील्ड का करियर
एविन चैटफील्ड (Ewen Chatfield) की ताकत थी उनका गेंद पर गजब का कंट्रोल. चैटफील्ड ने इसी के दम पर 43 टेस्ट में 180 विकेट झटके और वनडे में उनके नाम 118 विकेट रहे. पूरे करियर में चैटफील्ड ने 809 विकेट झटके. चैटफील्ड उस न्यूजीलैंड टीम का हिस्सा थे जिसने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम के खिलाफ उनके ही घर पर टेस्ट सीरीज जीती. चैटफील्ड ने सच रिचर्ड हेडली के साथ मिलकर दुनिया के कई दिग्गज बल्लेबाजों पर कहर बरपाया. फरवरी 1980 में चैटफील्ड ने उस वक्त सनसनी मचा दी जब उन्होंने वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम को तीन दिवसीय मैच में ढेर कर दिया. चैटफील्ड ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली पारी में 6 और दूसरी पारी में 7 विकेट झटके.

सिर पर लगी थी गंभीर चोट
चैटफील्ड (Ewen Chatfield) का टेस्ट करियर बेहद ही दर्दनाक अंदाज में शुरू हुआ था. 1974-75 में इंग्लैंड के खिलाफ ऑकलैंड टेस्ट में डेब्यू करने वाले चैटफील्ड 11वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज पीटर लीवर ने उन्हें बाउंसर फेंकी. चैटफील्ड ने शॉट खेला और गेंद बल्ले का किनारा लेकर सीधे उनके सिर पर जा लगी. गेंद लगते ही चैटफील्ड बेहोश हो गए, वो सांस तक नहीं ले पा रहे थे. इसके बाद इंग्लैंड के फीजियो बर्नार्ड थॉमस ने उनकी छाती दबाई और उनके मुंह में सांस भरी तब जाकर उन्हें होश आया. इतनी गंभीर चोट के बावजूद चैटफील्ड ने 14 सालों तक क्रिकेट खेला.



रिटायरमेंट के बाद ऐसे पाल रहे परिवार का पेट
फरवरी 1989 में संन्यास लेने के बाद विलियम चैटफील्ड (Ewen Chatfield) ने परिवार पालने के लिए छोटी-मोटी नौकरियां की. न्यूजीलैंड के क्रिकेट खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और भारतीय क्रिकेटर जितना पैसा नहीं मिलता है. इस वजह से चैटफील्ड को चिप्स बेचने वाले स्टोर में नौकरी करनी पड़ी. वैसे इस नौकरी से पहले उन्होंने हट वैली एसोसिएशन की टीम को कोचिंग भी दी लेकिन वेलिंगटन से उसके विलय के बाद उन्हें इस पद से इस्तीफा देना पड़ा.

इसके बाद चैटफील्ड (Ewen Chatfield) ने दूध की वैन चलाई, यहां तक कि वो कूरियर बॉय भी बने. आज की बात करें तो चैटफील्ड एक टैक्सी ड्राइवर हैं. वो वेलिंगटन की सड़कों पर कॉरपोरेट कैब्स चलाते हैं. चैटफील्ड लगभग 13 घंटे तक सड़क पर कैब चलाते हैं. जो भी खेल पत्रकार न्यूजीलैंड जाता है, वो चैटफील्ड से वेलिंगटन की सड़क पर जरूर टकराता है. सोचिए इतना बड़ा क्रिकेटर सड़क पर टैक्सी चला रहा है, क्या आप भारत में ऐसी बात सोच सकते हैं?

आकाश चोपड़ा ने पाकिस्तानी खिलाड़ियों को खुलेआम कहा 'बेशर्म', जानिए क्या है वजह

650 से ज्यादा विकेट लेने वाला गेंदबाज संभालता है बच्चे, पत्नी चलाती है घर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज