पिता की चाय की दुकान, मां चराती हैं जानवर, खुद की एक आंख खराब पर बड़े-बड़े क्रिकेटरों को चटाई धूल

जी पेरियास्‍वामी (G PeriyaSwamy) ने TNPL के फाइनल में 5 विकेट लिए और टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा 21 विकेट चटकाए. यह इस टूर्नामेंट के इतिहास का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है.

News18Hindi
Updated: September 8, 2019, 10:45 AM IST
पिता की चाय की दुकान, मां चराती हैं जानवर, खुद की एक आंख खराब पर बड़े-बड़े क्रिकेटरों को चटाई धूल
जी पेरियास्‍वामी एक आंख से नहीं देख पाते हैं.
News18Hindi
Updated: September 8, 2019, 10:45 AM IST
पिछले महीने तमिलनाडु प्रीमियर लीग (Tamilnadu Premier League) में जब चेपॉक सुपर गिलीज (Chepauk Super Gillies) ने लगातार दूसरी बार यह टूर्नामेंट जीता तो दाएं हाथ के एक तेज गेंदबाज जी पेरियास्‍वामी (G PeriyaSwamy)का नाम सबसे ज्‍यादा सुर्खियों में रहा. इस गेंदबाज ने फाइनल में 5 विकेट लिए और टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा 21 विकेट चटकाए. यह इस टूर्नामेंट के इतिहास का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है. इस तरह के प्रदर्शन के बूते पेरियास्‍वामी को प्‍लेयर ऑफ द फाइनल और टूर्नामेंट चुना गया. लेकिन उनके लिए क्रिकेट के इस स्‍तर तक का सफर आसान नहीं रहा था.

7 साल की उम्र में तमिलनाडु के इस क्रिकेटर को चिकन पॉक्‍स हो गया था. इसके चलते उनकी दायीं आंख की रोशनी चली गई थी. इसके चलते स्‍कूल में उन्‍हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. स्‍कूल के बच्‍चे उन्‍हें परेशान किया करते थे. ऐसे में 7वीं के बाद उन्‍हें स्‍कूल छोड़नी पड़ी.

पिता की चाय की दुकान, मां चराती हैं जानवर
पेरियास्‍वामी तमिलनाडु के सलेम जिले के चिनप्‍पाम्‍पट्टी के रहने वाले हैं. उनके परिवार की माली हालत खराब थी ऐसे में क्रिकेट खेलना काफी मुश्किल था. लेकिन ऐसे समय में टी नटराजन और चिनप्‍पाम्‍पट्टी क्रिकेट क्‍लब चलाने वाले जयप्रकाश ने उनकी मदद की. पेरियास्‍वामी के पिता गणेशन चाय की दुकान चलाते हैं और मां गंधमणि पालतू पशु चराती हैं. पेरियास्‍वामी ने टेनिस बॉल क्रिकेट से शुरुआत की. लेकिन परिवार की मदद के लिए वे जानवर चराने के साथ ही कताई-बुनाई का काम भी किया करते थे. एक समय उन्‍होंने क्रिकेट छोड़कर वेल्‍डर के रूप में भी काम किया.

g periyaswamy, g periyaswamy story, g periyaswamy struggle, g periyaswamy tnpl, g periyaswamy chepauk super gillies, tamilnadu premier league, जी पेरियास्वामी, जी पेरियास्वामी टीएनपीएल, जी पेरियास्वामी क्रिकेट, जी पेरियास्वामी तमिलनाडु प्रीमियर लीग
जी पेरियास्‍वामी को टीएनपीएल 2019 का प्‍लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया. वे फाइनल में प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे थे.


मलिंगा जैसे एक्‍शन ने बजाया बल्‍लेबाजों का बैंड
उनके दोस्‍त और मीडियर पेसर टी नटराजन ने पेरियास्‍वामी की काफी मदद की. टीएनपीएल से पहले पेरियास्‍वामी ने कभी भी फ्लड लाइट में क्रिकेट नहीं खेला था. लेकिन मलिंगा जैसे एक्‍शन के सहारे उन्‍होंने विपक्षी बल्‍लेबाजों को खूब छकाया और कामयाबी हासिल की. इस टूर्नामेंट में वे नटराजन के जूते पहनकर ही खेले. टीएनपीएल में उनके साथी और ऑलराउंडर विजय शंकर ने पेरियास्‍वामी को एक्‍स फैक्‍टर बताया.
Loading...

tamilnadu premier league, TNPL 2019, g periyaswamy, malinga like bowler, chepauk super gillies, जी पेरियास्‍वामी, तमिलनाडु प्रीमियर लीग, क्रिकेट न्‍यूज
जी पेरियास्‍वामी को अब आईपीएल से उम्‍मीद है.


मजेदार बात है कि इस साल की उपविजेता टीम डिंडीगुल ड्रैगंस ने उन्‍हें ट्रायल में नहीं चुना था. बाद में टूर्नामेंट में पेरियास्‍वामी ने इस टीम के खिलाफ कमाल का प्रदर्शन किया. पहले क्‍वालिफायर में उन्‍होंने डिंडीगुल के खिलाफ 27 रन देकर 3 विकेट लिए और फिर फाइनल में 15 रन देकर 5 विकेट झटके.

tamilnadu premier league, TNPL 2019, g periyaswamy, malinga like bowler, chepauk super gillies, जी पेरियास्‍वामी, तमिलनाडु प्रीमियर लीग, क्रिकेट न्‍यूज
जी पेरियास्‍वामी का एक्‍शन लसित मलिंगा जैसा है.


'सपने की तरह लग रहा है'
पेरियास्‍वामी ने अपने सफर के बारे में ईएसपीएनक्रिकइंफो को बताया, 'यह एक सपने की तरह लग रहा है. मैंने कभी टीएनपीएल में खेलने और फिर इसके जीतने की उम्‍मीद नहीं रखी थी. मैं काम किया करता था तो मुझे इसमें खेलने के लिए परिवार से सहमति लेनी पड़ी. टेनिस बॉल से आने के चलते शुरू में मुझे लेदर बॉल की ग्रिप से दिक्‍कत हुई. लेकिन फिर आदत हो गई. स्लिंग एक्‍शन और यॉर्कर फेंकने की आदत नेचुरली है.'


आईपीएल से बुलावे की आस
पेरियास्‍वामी मशहूर एक्‍टर रजनीकांत व विजयकांत और पूर्व मुख्‍यमंत्री एम करुणानिधि की आवाज की नकल करने में भी उस्‍ताद हैं. नटराजन और जयप्रकाश को उम्‍मीद है कि टीएनपीएल में प्रदर्शन के बाद पेरियास्‍वामी को आईपीएल में किसी न किसी टीम से बुलावा आ सकता है.

कोहली गणित में थे फिसड्डी, बताया- बड़ी मुश्किल से 100 में से 3 नंबर आते थे

डेविड वॉर्नर ने लगाई 0 पर आउट होने की हैट्रिक, शर्मिंदा होकर दिया ऐसा रिएक्शन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 8, 2019, 10:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...