संजू सैमसन के चयन के बाद गौतम गंभीर ने दी सलाह, कहा-मौके का फायदा उठाओ

संजू सैमसन पहली बार 19 साल की उम्र में टीम में शामिल हुए थे

संजू सैमसन पहली बार 19 साल की उम्र में टीम में शामिल हुए थे

महान क्रिकेटर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) सहित कई दिग्गजों ने संजू सैमसन (Sanju Samson) की जमकर तारीफ की थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2019, 5:00 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ तीन मैचों की टी20 श्रृंखला के लिये संजू सैमसन (Sanju Samson) को भारतीय टीम में शामिल किये जाने पर खुशी जताते हुए कहा कि इसका लंबे समय से इंतजार था . गंभीर (Gautam Gambhir) लंबे समय से केरल के इस क्रिकेटर को टीम में शामिल किये जाने की पैरवी कर रहे थे . बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ श्रृंखला तीन नवंबर से खेली जायेगी .

गंभीर (Gautam Gambhir) ने ट्वीट किया ,‘संजू सैमसन को टी20 टीम में शामिल किये जाने की बधाई . इस मौके का पूरा फायदा उठाना संजू . इसका लंबे समय से इंतजार था.’



सैमसन (Sanju Samson) ने भारत के लिए एकमात्र मैच जुलाई 2015 में टी20 के रूप में खेला था जब कम अनुभवी टीम ने जिम्बाब्वे (Zimbabwe) का दौरा किया था. तब वह 19 साल के थे. उसके बाद से उन्हें अनुशासन कारणों से केरल टीम से भी निकाल दिया गया. इसके बाद से विकेटकीपर बल्लेबाज का सफर उतार चढ़ावों भरा रहा है जिन्हें अनुशासनहीनता के आधार पर केरल टीम से भी बाहर कर दिया गया था.
राहुल द्रविड़ ने की थी पंत की तारीफ

वह निरंतर अच्छा प्रदर्शन भी नहीं कर सके और इस बीच उनकी फिटनेस भी अच्छी नहीं रही. इस दौरान उन्होंने बेहतरीन पारियां भी खेलीं. इसी तरह की एक पारी इस महीने में विजय हजारे ट्राफी में सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर से रही जिसमें उन्होंने नाबाद 212 रन बनाये. महान क्रिकेटर राहुल द्रविड़ सहित कई ने सैमसन की तारीफ की लेकिन प्रदर्शन में निरंतरता की कमी उनके खिलाफ जाती रही. दिनेश कार्तिक की वापसी के बाद ऋषभ पंत के आने से वह पिछले दो वर्षों में भारत की सीमित ओवरों की टीम से बाहर रहे.

संजू सैमसन ने जड़ा दोहरा शतक

संजू सैमसन (Sanju Samson) का 212 रन का स्‍कोर लिस्‍ट ए क्रिकेट में किसी भी विकेटकीपर के लिए सबसे बड़ा स्‍कोर है. उन्‍होंने पाकिस्‍तान के आबिद अली के रिकॉर्ड को तोड़ा. उन्‍होंने पिछले साल इस्‍लामाबाद के लिए खेलते हुए नाबाद 209 रन बनाए थे. वहीं भारतीय विकेटकीपर्स में यह रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के नाम था जिन्‍होंने 2005 में श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 183 रन बनाए थे.

जसप्रीत बुमराह की फिटनेस पर आई बड़ी खबर, जानिए सर्जरी को लेकर क्या है प्लान?

जैवलिन थ्रोअर से बने पेसर, 17 साल तक बॉल हाथ में नहीं ली,जन्मदिन पर ली हैट्रिक

 

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज