• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • कोरोना वायरस के बाद अब गौतम गंभीर को सताया ये 'डर', दे दिया बड़ा बयान

कोरोना वायरस के बाद अब गौतम गंभीर को सताया ये 'डर', दे दिया बड़ा बयान

गौतम गंभीर ने इस पाकिस्तानी गेंदबाज को बताया सबसे अच्छा स्पिनर

गौतम गंभीर ने इस पाकिस्तानी गेंदबाज को बताया सबसे अच्छा स्पिनर

आईसीसी (ICC) की क्रिकेट कमेटी ने गेंद पर थूक लगाने को प्रतिबंधित करने की सिफारिश की है

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने क्रिकेट में संतुलन बनाए रखने के लिए आईसीसी से सलाइवा का विकल्प ढूंढने की अपील की है. बता दें आईसीसी की क्रिकेट कमेटी ने सोमवार को अपनी बैठक में फैसला किया कि कोरोना वायरस के चलते गेंद पर थूक का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. हालांकि गंभीर को लगता है कि बिना सलाइवा के इस्तेमाल के गेंदबाजों को काफी मुश्किल पेश आएगी और इससे खेल का संतुलन बिगड़ जाएगा.

    क्रिकेट देखने में मजा नहीं आएगा
    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, ' सलाइवा को बैन करना गेंदबाजों के लिए सबसे मुश्किल चीज है. आईसीसी को इसका विकल्प ढूंढना ही होगा क्योंकि गेंद को चमकाए बिना मुझे नहीं लगता कि गेंदबाज बल्लेबाजों को चुनौती दे पाएंगे. गेंदबाज गेंद चमकाएंगे नहीं तो उन्हें मदद कैसे मिलेगी. क्रिकेट में संतुलन नहीं रहेगा तो उसे देखने में मजा कैसे आएगा.' बता दें खबरें आई थी कि खेल के सामान बनाने वाली कंपनी कूकाबूरा गेंद को चमकाने के लिए एक पदार्थ बनाने पर काम कर रही है.

    आईसीसी क्रिकेट कमेटी ने की हैं ये सिफारिश
    बता दें अनिल कुंबले की अध्यक्षता में हुई आईसीसी क्रिकेट कमेटी की बैठक में पसीने से गेंद को चमकाने की इजाजत दे दी गई है लेकिन खिलाड़ी गेंद पर थूक नहीं लगा पाएंगे. साथ ही कमेटी ने सिफारिश की है कि मुकाबलों में स्थानीय अंपायर और मैच रेफरी इस्तेमाल किये जाएंगे. यही नहीं कमेटी ने डीआरएस का रिव्यू एक-एक और बढ़ाने की सिफारिश भी की है.

    खिलाड़ी मैदान में उतरेंगे तो होगा डर!
    गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने ये भी कहा कि कोरोना वायरस के बाद जब क्रिकेट की वापसी होगी तो खिलाड़ी मैदान पर थोड़ा बहुत जरूर डरेंगे. कुछ समय बाद जरूर खिलाड़ी मैच के माहौल में इस डर को भूल सकते हैं. बता दें राहुल द्रविड़ ने भी खिलाड़ियों के डर की बात कही थी. खिलाड़ियों की फिटनेस पर गंभीर ने कहा कि लॉकडाउन में पिछले दो महीने से समय बिता रहे खिलाड़ियों को वापसी करने में दिक्क्त नहीं होगी.

    गंभीर (Gautam Gambhir) के मुताबिक आज सभी खिलाड़ी काफी पेशेवर हैं और वो लगातार अपनी फिटनेस पर काम कर रहे हैं, वर्कआउट कर रहे हैं. हालांकि गंभीर को लगता है कि स्किल्स के नजरिए से ये मुश्किल होगा क्योंकि उन्होंने इतने दिन से अभ्यास नहीं किया है. स्किल में सुधार मुश्किल होगा. गौतम गंभीर ने आगे कहा कि खिलाड़ी मानसिक तौर पर जरूर तरोताजा होंगे.

    मैच जीतने के लिए 'किस' करता है ये दिग्गज खिलाड़ी, ले चुका है 1093 विकेट

    अफरीदी के बारे में बात तक नहीं करते विराट कोहली, कहा- वो इस लायक नहीं!

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज