टीम इंडिया के इस खिलाड़ी ने दिए आम तो बेन स्टोक्स ने नाम रख दिया 'मैंगो मैन'

रूट का पहले टेस्ट में खेलना अनिश्चित है क्योंकि दूसरे बच्‍चे के जन्म के बाद उन्हें सात दिन पृथकवास में रहना होगा.

इंग्लैंड (England) के आलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Prfemier League) में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के लिए खेलते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के इस साल होने वाले 13वें सीजन को लेकर भले ही अनिश्चितता बरकरार है, लेकिन आईपीएल (IPL) से जुड़ी खबरों में लोगों की दिलचस्पी बिल्कुल भी कम नहीं हुई है. बता दें कि बीसीसीआई (BCCI) ने कोरोना वायरस के चलते आईपीएल को अनिश्चित काल तक के​ लिए स्थगित करने का फैसला किया है. इस बीच, भारतीय तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) ने इंग्लैंड के आलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) को लेकर दिलचस्प खुलासा किया है. दरअसल, ये दोनों खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के लिए खेलते हैं.

    तब से मेरा नाम रख दिया मैंगो मैन
    बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) ने अपनी आईपीएल (IPL) टीम के इंस्टाग्राम हैंडल से लाइव चैट में कई रोचक किस्से बताए. उन्होंने कहा, आईपीएल के दौरान मैंने बेन स्टोक्स (Ben Stokes) को आम दिए, जिन्हें पाकर इंग्लैंड का दिग्गज आलराउंडर बेहद खुश हुआ. इसके बाद से उन्होंने मेरा नाम मैंगो मैन ही रख दिया. जयदेव ने कहा कि मैं मैदान पर उतरने का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं, लेकिन मैं शिकायत नहीं कर सकता क्योंकि हमें कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मिलकर लड़ना होगा.

    रणजी खिताब करियर के बेहतरीन पलों में से एक
    जयदेव उनाकट (Jaydev Unadkat) की कप्तानी में सौराष्ट्र (Saurashtra) ने बंगाल को हराकर इस साल का रणजी खिताब (Ranji Trophy) अपने नाम किया है. इस बारे में उन्होंने कहा, सौराष्ट्र को अपनी कप्तानी में उसका पहला रणजी ट्रॉफी खिताब दिलाना मेरे करियर के सबसे बेहतरीन पलों में से हैं. ट्रॉफी को हाथ में लेने का अहसास बेहद सुखद था. रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में सौराष्ट्र ने पहली पारी में 44 रनों की बढ़त के आधार पर बंगाल को हराया था. रणजी ट्रॉफी के इस सीजन में उनादकट ने 67 विकेट लिए और टूर्नामेंट के इतिहास में एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन गए. उन्होंने डोडा गणेश को पीछे छोड़ा, जिन्होंने 1998-99 के सत्र में 62 विकेट चटकाए थे.

    विश्व कप जीते तो बालकनी में चिल्ला रहा था...
    जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) से जब उनके पसंदीदा भारतीय क्रिकेटर के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मुझे भारतीय टीम के मैच देखना बहुत पसंद है. साल 2007 में जब हमने टी20 विश्व कप जीता था तो मैं अपने घर की बालकनी में खड़े होकर जोर-जोर से चिल्ला रहा था. जो भी भारत के लिए खेलता है, वो मुझे प्रेरित करता है. जयदेव उनादकट ने टीम इंडिया के लिए एक टेस्ट, 7 वनडे और 10 टी20 मुकाबलों में हिस्सा लिया है.

    टी20 वर्ल्ड कप पर ICC बना रही है आपात योजना, दिया ये बड़ा बयान

    IPL में कपिल देव, रवि शास्त्री पर होती करोड़ों रुपये की बारिश!

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.