अपना शहर चुनें

States

न्यूजीलैंड क्रिकेट के प्रमुख ग्रेग बार्कले बने ICC के नए चेयरमैन

न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) के प्रमुख ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) को आईसीसी का नया चेयरमैन बनाया गया है.
न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) के प्रमुख ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) को आईसीसी का नया चेयरमैन बनाया गया है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) को नया चेयरमैन मिल गया. न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) के प्रमुख ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) को आईसीसी का नया चेयरमैन बनाया गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) के प्रमुख ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) का नया स्वतंत्र चेयरमैन चुना गया है. बार्कले ने सिंगापुर के इमरान ख्वाजा (Imran Khwaja) को पछाड़ा और वह भारत के शशांक मनोहर (Shashank Manohar) की जगह लेंगे. मंगलवार को आईसीसी की तिमाही बैठक के दौरान मतदान हुआ. इलेक्ट्रॉनिक मतदान प्रक्रिया में 16 बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने हिस्सा लिया, जिसमें टेस्ट खेलने वाले देशों के 12 पूर्ण सदस्य, तीन एसोसिएट देश और एक स्वतंत्र महिला निदेशक (पेप्सीको की इंदिरा नूई) शामिल हैं.

बार्कले ने कहा, ‘‘आईसीसी का चेयरमैन चुना जाना सम्मान की बात है और समर्थन के लिए मैं अपने साथी आईसीसी निदेशकों का धन्यवाद देना चाहता हूं. उम्मीद करता हूं कि हम एकजुट होकर खेल को आगे ले जाएंगे और वैश्विक महामारी से उबरकर मजबूत वापसी और प्रगति करेंगे.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपने सदस्यों के साथ मिलकर काम करते हुए हमारे महत्वपूर्ण बाजारों के अलावा इसके बाहर भी खेल को मजबूत करने को लेकर उत्सुक हूं जिससे कि दुनिया के अधिक लोग क्रिकेट का लुत्फ उठा सकें.’’ न्यूजीलैंड के इस अधिकारी ने मतदान में 11-5 से जीत दर्ज की. दूसरे दौर के मतदान में उन्हें क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका का महत्वपूर्ण वोट मिला जिससे वह जीत दर्ज करने में सफल रहे.



ऑस्‍ट्रेलिया दौरे से लौटने के बाद इंग्‍लैंड की मेजबानी करेगा भारत, सफेद गेंद से खेले जाएंगे 8 मैच
पिछले हफ्ते पहले दौर के मतदान के दौरान उन्हें 10 और ख्वाजा को छह वोट मिले थे लेकिन मौजूदा नियमों के अनुसार विजेता के लिए 16 सदस्यों के आईसीसी बोर्ड में दो-तिहाई बहुमत यानी 11 वोट हासिल करना जरूरी है. आईसीसी के सीईओ मनु साहनी बोर्ड के 17वें सदस्य हैं, लेकिन उन्हें मतदान का अधिकार हासिल नहीं है.

आईसीसी के नए चेयरमैन चुने जाने के बाद ग्रेग बार्कले ने कहा, ''आईसीसी का चेयरमैन चुना जाना मेरे लिए काफी गर्व की बात है. मैं अपने साथी आईसीसी डायरेक्टर्स को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे सपोर्ट किया. मुझे उम्मीद है कि हम एकसाथ काम करके खेलों का नेतृत्व करेंगे. साथ ही विश्वभर में फैली कोरोना वायरस महामारी से निकलर एक मजबूत स्थिति में वापस आएंगे और आगे बढ़ने की तरफ देखेंगे.''





माना जा रहा है कि भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया के अलावा न्यूजीलैंड ने बार्कले के पक्ष में वोट किया, जिन्होंने टीमों के अधिक द्विपक्षीय सीरीज खेलने का समर्थन किया जो इस मुश्किल आर्थिक हालात में इन बोर्ड के वित्तीय मॉडल के अनुकूल है. दूसरी तरफ ख्वाजा को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का समर्थन हासिल था. सिंगापुर क्रिकेट बोर्ड के पूर्व प्रमुख आईसीसी टूर्नामेंटों की संख्या बढ़ाने के पक्ष में थे जिससे एसोसिएट देशों के लिए राजस्व राशि में इजाफा होता.

बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली का खुलासा, कहा- 22 बार कराया कोरोना टेस्‍ट

ऑकलैंड के व्यावसायिक अधिवक्ता बार्कले 2012 से एनजेडसी बोर्ड का हिस्सा हैं. वह फिलहाल आईसीसी बोर्ड में न्यूजीलैंड के प्रतिनिधि हैं लेकिन स्वतंत्र रूप से जिम्मेदारी निभाने के लिए इस पद को छोड़ेंगे. बार्कले आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप 2015 के भी निदेशक थे और वह नार्दर्न डिस्ट्रिक्ट्स क्रिकेट संघ के बोर्ड के पूर्व सदस्य और चेयरमैन भी रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज