Home /News /sports /

टीम इंडिया के पूर्व कोच ग्रेग चैपल फिर गांगुली पर बरसे, बोले- वे मेहनत नहीं करना चाहते थे

टीम इंडिया के पूर्व कोच ग्रेग चैपल फिर गांगुली पर बरसे, बोले- वे मेहनत नहीं करना चाहते थे

ग्रेप चैपल के रहते सौरव गांगुली टीम से बाहर हो गए थे.

ग्रेप चैपल के रहते सौरव गांगुली टीम से बाहर हो गए थे.

टीम इंडिया के पूर्व कोच ग्रैग चैपल (Greg Chappell) पूर्व भारतीय कप्तान कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) पर फिर बरसे हैं. चैपल 2005 से 2007 तक टीम इंडिया के कोच थे. हालांकि इस दौरान टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था.

    नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व कोच ग्रैग चैपल (Greg Chappell) ने एक बार फिर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की आलोचना की है. उन्होंने कहा कि सौरव गांगुली अपने खेल में सुधार नहीं करना चाहते थे और वह केवल टीम पर नियंत्रण चाहते थे. चैपल साल 2005 से लेकर 2007 तक टीम इंडिया के कोच थे, तब उनके और गांगुली के बीच काफी विवाद भी हुए थे.

    ग्रेग चैपल ने सौरव गांगुली को टीम से बाहर कर दिया था. भारत 2007 में वर्ल्ड से पहले ही राउंड में बाहर हो गया था, तब भी टीम के कोच चैपल ही थे. क्रिकेट लाइफ स्‍टोरीज पोडकास्‍ट में बातचीत करते हुए ग्रेग चैपल ने बताया कि टीम इंडिया के कोच रहते हुए उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था, क्योंकि उनसे अपेक्षाएं काफी ज्यादा थीं. उन्होंने इन मुश्किलों का कारण सौरव गांगुली को बताया और कहा, ‘सौरव गांगुली के कप्तान रहने के कारण कुछ मसले थे. व‍ह कड़ी मेहनत नहीं करना चाहते थे. खेल को भी सुधारना नहीं चाहते थे. वह बस टीम के कप्तान बने रहना चाहते थे ताकि चीजें नियंत्रित कर सकें.’

    राहुल द्रविड़ की तारीफ की

    ग्रैग चैपल ने बताया कि सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, अनिल कुंबले, राहुल द्रविड़ और युवा खिालड़ियों के साथ काम करना अद्भुत था. धोनी भी उनमें से एक थे. उन्होंने कहा कि वे टीम की सोच में सुधार लाना चाहते थे. राहुल द्रविड़ ही ऐसे खिलाड़ी थे, जो टीम को बेहतर बनाने में निवेश करने के लिए तैयार थे. ग्रेग चैपल ने कहा, ‘राहुल द्रविड़ ने भारत को दुनिया की सर्वश्रेष्‍ठ टीम बनाने के लिए अपनी कप्तानी के समय काफी समय निवेश किया. हालांकि टीम में हर किसी की ऐसी सोच नहीं थी. जब सौरव गांगुली टीम से ड्रॉप हुए, तो हम पर खिलाड़‍ियों ने काफी ध्‍यान दिया, क्‍योंकि उन्‍हें अहसास हो गया था कि अगर गांगुली गए तो कोई भी जा सकता है.’

    गांगुली ने कोच के लिए संपर्क किया था

    ग्रेग चैपल ने बताया कि उन्हें टीम इंडिया का कोच बनाने के लिए गांगुली ने ही संपर्क किया था. उस समय ऑस्ट्रेलिया की टीम के कोच जॉन बुकानन थे. ऐसे में चैपल ने फैसला किया कि अगर अपना देश नहीं तो वह दुनिया की सबसे मजबूत टीम भारत के कोच बनेंगे. जो सौरव गांगुली चैपल को टीम में लेकर आए उन्हें ही चैपल ने टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया था.

    Tags: Cricket news, Greg Chappell, Sourav Ganguly, Team india

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर