मदद मांगने पर यूजर ने किया ट्रोल तो हनुमा विहारी बोले, तुम जैसे लोगों के कारण इस स्थिति में है देश

हनुमा विहारी के साथ वॉट्सएप ग्रुप में लगभग 100 लोग वॉलंटियर के तौर जुड़े हैं जो मदद कर रहे हैं.

हनुमा विहारी के साथ वॉट्सएप ग्रुप में लगभग 100 लोग वॉलंटियर के तौर जुड़े हैं जो मदद कर रहे हैं.

हनुमा विहारी ( Hanuma Vihari ) ने सोशल मीडिया पर 22 साल की एक लड़की के लिए मदद मांगी थी, जिसके पिता और भाई दोनों वेंटिलेटर पर हैं

  • Share this:

नई दिल्‍ली. भारतीय बल्‍लेबाज हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) इस दिनों अपने खेल के कारण नहीं, बल्कि कोसों दूर बैठकर भी देश के लोगों की मदद करने के लिए चर्चा में हैं. हनुमा काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए इस समय ब्रिटेन में हैं, मगर वो वहीं से कोरोना वायरस से लड़ रहे देश के लोगों की मदद कर रहे हैं. मदद के लिए वह अपने ट्विटर हैंडल का बखूबी इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने 100 स्वयंसेवकों की टीम तैयार की है. इनमें आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और कर्नाटक के उनके दोस्त शामिल हैं.

यह टीम प्लाज्मा, बिस्तर या आवश्यक दवाइयों की व्यवस्था नहीं कर पा रहे लोगों की मदद कर रही है. हनुमा ने बीते दिनों 22 साल की लड़की अनुषा के लिए सोशल मीडिया के जरिए मदद मांगी, जिसके पिता और भाई दोनों वेंटिलेटर पर जिंदगी के लिए जंग लड़ रहे हैं.


इस मदद पर एक यूजर ने उन्‍हें ट्रोल करने की कोशिश की, मगर हनुमा ने ऐसा जवाब दिया, जिससे उसकी बोलती ही बंद हो गई. हनुमा ने अनुषा के परिवार के लिए मदद मांगते हुए इंस्‍टाग्राम पर लिखा कि 22 साल की अनुषा के पिता और भाई दोनों वेंटिलेटर पर हैं. उनके पास कोई बचत नहीं है और अस्‍पताल का बिल हर रोज डेढ़ लाख रुपये से भी ज्‍यादा है. उनके और उनके परिवार के लिए कोई भी मदद बहुत बड़ी होगी.

यह भी पढ़ें : 

कोरोना से जंग लड़ रहे हैं युजवेंद्र चहल के माता-पिता, गेंदबाज ने बयां किया दर्द, कहा- अपनों को पास रखें



स्टुअर्ट मैकगिल अपहरण केस: पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को बंदूक की नोक पर पीटा, कपड़े भी उतारे

उनके इस पोस्‍ट पर एक यूजर ने उन्‍हें ट्रोल करते हुए कहा कि आप पैसे क्‍यों नहीं दे देते. आप तो जाने माने खिलाड़ी हैं. इस पर हनुमा ने यूजर को जवाब देते हुए कहा कि यह शर्मनाक है, मगर भारत इस स्थिति में हैं, क्‍योंकि आप जैसे लोग इस देश में रह रहे हैं. बहुत शर्मनाक है

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज