लाइव टीवी

Happy Birthday: राष्ट्रपति के कहने पर संन्यास से वापस आए थे इमरान खान, फिर पाकिस्तान को जिताया वर्ल्ड कप

News18Hindi
Updated: October 5, 2019, 8:53 AM IST
Happy Birthday: राष्ट्रपति के कहने पर संन्यास से वापस आए थे इमरान खान, फिर पाकिस्तान को जिताया वर्ल्ड कप
इमरान खान की कप्तानी में पाकिस्तान ने 1992 में वर्ल्ड कप जीता था

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान और मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) का आज 67वां जन्मदिन है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2019, 8:53 AM IST
  • Share this:
पाकिस्तान के पीएम और पूर्व कप्तान इमरान खान (Imran Khan) का आज जन्मदिन है. 5 अक्टूबर 1952 को लाहौर (Lahore) में जन्में इमरान खान (Imran Khan)  आज 67 साल के हो गए हैं. वैसे तो अभी इमरान खान पाकिस्तान (Pakistan) के पीएम हैं लेकिन दुनिया उन्हें उनके खेल के लिए जानती है. इमरान खान ने अपने करियर में 88 टेस्ट मैच खेले और 37.69 की औसत से 3807 रन बनाए, साथ ही उन्होंने 362 विकेट भी लिए. इमरान खान (Imran Khan)  ने 175 वनडे में 33.41 की औसत से 3709 रन बनाए और इस फॉर्मेट में उनके नाम 182 विकेट थे. इमरान खान (Imran Khan)  ने अपने करियर में कई बड़े कारनामों को अंजाम दिया, लेकिन उनके जीवन में एक ऐसी घटना घटी जिसने इमरान की ही नहीं पूरे पाकिस्तानी क्रिकेट को बदलकर रख दिया.

इमरान ने 1987 में ले लिया था संन्यास
1987 वर्ल्ड कप खत्म होने के बाद इमरान खान ने संन्यास का ऐलान कर दिया था. इसके बाद पाकिस्तान के तानाशाह जनरल जिया उल हक ने इमरान खान को संन्यास वापस लेकर टीम का कप्तान बनने के लिए कहा, जिसे उन्होंने मान लिया. इमरान के इस कदम ने पाकिस्तान क्रिकेट को बदलकर रख दिया. साल 1992 में इमरान खान की कप्तानी में पाकिस्तान ने वर्ल्ड कप जीता.

Pakistan, गसीोल कपोल, ैदीत् महज, मीगमकाू लाैे
इमरान खान पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री हैं


1992 वर्ल्ड कप में इमरान खान ने गेंद और बल्ले से जोरदार प्रदर्शन किया. पाकिस्तान की बल्लेबाजी कमजोर होने के चलते उन्होंने ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी की और 8 मैचों में 185 रन बनाए. इसके अलावा उन्होंने 7 विकेट भी लिए और अपनी टीम को वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका अदा की. वर्ल्ड कप फाइनल जीतने के बाद इमरान खान ने संन्यास ले लिया.

वर्ल्ड कप जीतने के बाद दिया विवादित भाषण
इमरान खान ने वर्ल्ड कप जीतने के बाद जो भाषण दिया वो काफी विवादों में रहा. दरअसल इमरान खान ने वर्ल्ड कप जीत के बाद अपनी टीम के खिलाड़ियों का ना शुक्रिया अदा किया और ना ही उनका कहीं नाम लिया.
Loading...

डेनिस लिली थे इमरान की प्रेरणा
इमरान खान की तेज गेंदबाजी की प्रेरणास्त्रोत डेनिस लिली थी. डेनिस लिली की तेज गेंदबाजी देख उन्होंने असल मायनों में तेज गेंदबाज बनने का फैसला किया. इमरान खान ने महज 16 साल की उम्र में अपना फर्स्ट क्लास क्रिकेट डेब्यू कर लिया था. इसके बाद उन्हें जल्द ही पाकिस्तान के लिए खेलने का मौका मिला. हालांकि उनका डेब्यू अच्छा नहीं रहा और उन्हें अपना दूसरा टेस्ट मैच खेलने के लिए तीन सालों का इंतजार करना पड़ा. इसके बाद वो अगले दो सालों में सिर्फ 3 ही टेस्ट खेल पाए. हालांकि 1976 के बाद उन्हें भरपूर मौके मिले और फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 8:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...