होम /न्यूज /खेल /Mohammad Kaif Birthday: वह खिलाड़ी जिसने भारतीय फील्डिंग में लाई क्रांति... युवराज सिंह से है खास कनेक्शन

Mohammad Kaif Birthday: वह खिलाड़ी जिसने भारतीय फील्डिंग में लाई क्रांति... युवराज सिंह से है खास कनेक्शन

मोहम्मद कैफ आज अपना 42वां जन्मदिन मना रहे हैं. (AFP)

मोहम्मद कैफ आज अपना 42वां जन्मदिन मना रहे हैं. (AFP)

Mohammad Kaif Birthday: मोहम्मद कैफ अपनी चुस्त फील्डिंग से 15-20 रन बचा लेते थे. उनकी गिनती दुनिया के बेहतरीन फील्डर मे ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मोहम्मद कैफ को दुनिया उनकी बेहतरीन फील्डिंग के लिए जानती है
कैफ की कप्तानी में भारत ने 2000 में अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता था

नई दिल्ली. मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif) की गिनती दुनिया के बेहतरीन फील्डर में होती है. कैफ ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर बल्लेबाज से की थी लेकिन उन्होंने अपनी पहचान बेहतरीन फील्डर के रूप में बनाई. भारतीय क्रिकेट टीम का पूर्व मिडिल ऑर्डर बैटर फील्डिंग के दौरान चीते की तरह फुर्ती दिखाकर गेंद पर झपट्टा मारता था. मोहम्मद कैफ आज यानी गुरुवार (1 दिसंबर) को अपना 42वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं.

साल 2000 में दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif Birthday) और दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारतीय क्रिकेट में फील्डिंग को एक नया आयाम दिया. फील्डिंग के दौरान ग्राउंड पर दोनों की कलाबाजी देखते ही बनती थी. दोनों खिलाड़ी अपनी चुस्त फील्डिंग से टीम के लिए कम से कम 15-20 रन बचा लेते थे. क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेला गया नेटवेस्ट सीरीज का फाइनल आज भी याद है. साल 2002 में नेटवेस्ट सीरीज (2002 NatWest Series Final) के फाइनल में कैफ ने अपनी करिश्माई पारी से तत्कालीन कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को शर्ट उतारने पर मजबूर कर दिया था.

यह भी पढ़ें:PAK vs ENG: पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच पहले टेस्ट को लेकर फैसले में हुई देरी, जानें कब लिया जाएगा अंतिम निर्णय

Exclusive: भारत को वर्ल्ड चैंपियन बना चुके कोच ने कोहली-रोहित पर उठ रहे सवाल पर दिया जवाब, कहा- रेस्ट देना जरूरी था

" isDesktop="true" id="4981483" >

6 मार्च 2000 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ बेंगलुरु में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले मोहम्मद कैफ का जन्म साल 1980 में प्रयागराज (तब इलाहाबाद) में हुआ था. उन्होंने अपनी पढ़ाई मेवा लाल अयोध्‍या प्रसाद इंटरमीडिएट कॉलेज सोरांव से की. कैफ को बचपन से ही क्रिकेट खेलने का शौक था. उन्होंने क्रिकेट के लिए प्रयागराज से कानपुर का रुख किया जहां वह ग्रीन पार्क स्टेडियम के हॉस्टल में रहने लगे. कैफ का क्रिकेट करियर यानी भारतीय टीम का सफर यहीं से शुरू हुआ.

मोहम्मद कैफ की कप्तानी में भारत ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता
मोहम्मद कैफ की कप्तानी में भारत ने साल 2000 में अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता. श्रीलंका में वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद कैफ को उसी साल टीम इंडिया में जगह मिल गई. टेस्ट के दो साल बाद उन्हें वनडे टीम में भी चुन लिया गया. मोहम्मद कैफ साल 2003 में वर्ल्ड कप टीम में भारतीय टीम का हिस्सा थे. कैफ और युवराज कई वर्षों तक टीम इंडिया की फील्डिंग की रीढ़ रहे हैं.

नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल में खेली मैच विनिंग पारी
इंग्लैंड में नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल में जब भारतीय टीम संघर्ष कर रही थी तब मोहम्मद कैफ ने युवराज सिंह के साथ मिलकर टीम इंडिया को यादगार जीत दिलाई. उन्होंने नाबाद 87 रन की पारी खेलकर भारत को धमाकेदार जीत दिलाई. तब टीम इंडिया 325 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी. कैफ ने युवराज के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 121 रन की साझेदारी निभाई. इस यादगार जीत को कप्तान सौरव गांगुली ने खास अंदाज में सेलिब्रेट किया था.

मोहम्मद कैफ का क्रिकेट करियर
मोहम्मद कैफ ने भारत की ओर से 125 वनडे इंटरनेशनल मैचों में दो सेंचुरी और 17 हाफ सेंचुरी की बदौलत 32.01 की औसत से 2753 रन बनाए. वनडे में उनका बेस्ट स्कोर 111 रन रहा. कैफ ने 13 टेस्ट मैचों में एक शतक और तीन अर्धशतक के दम पर 32.84 की औसत से कुल 624 रन बनाए. साल 2006 में मोहम्मद कैफ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला.

Tags: Mohammad kaif, On This Day, Team india

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें