Happy Birthday: 11 छक्के जड़ ठोकी थी सबसे तेज डबल सेंचुरी, अब पैसों के लिए लगाता है जान की बाजी

Happy Birthday: 11 छक्के जड़ ठोकी थी सबसे तेज डबल सेंचुरी, अब पैसों के लिए लगाता है जान की बाजी
Happy Birthday: 49 साल के हुए न्यूजीलैंड के पूर्व बल्लेबाज नाथन एस्टल

आज न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर नाथन एस्टल (Nathane Astle) का 49वां जन्मदिन है. क्राइस्टचर्च में पैदा हुए एस्टल ने न्यूजीलैंड को कई मैच जिताए लेकिन आज वो क्रिकेट छोड़ एक अलग ही खेल के साथ अपने परिवार के साथ जिंदगी काट रहे हैं. एस्टल ने खेल भी ऐसा चुना है कि एक चूक उनकी जिंदगी खत्म कर सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2020, 7:25 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक ऐसा बल्लेबाज जिसकी क्रीज पर मौजूदगी से ही गेंदबाजों में अफरातफरी मच जाती थी. एक ऐसा बल्लेबाज जो क्रीज पर टिका रहता था तो छक्के-चौकों की बरसात होती रहती थी. एक ऐसा बल्लेबाज जिसने अपने क्रिकेट करियर में कई रिकॉर्ड बनाए और तोड़े, आज वही खिलाड़ी अपना 49वां जन्मदिन मना रहा है. बात हो रही है न्यूजीलैंड के पूर्व ओपनर नाथन एस्टल (Nathan Astle) की, जिनका आज बर्थडे है. 15 सितंबर, 1971 को क्राइस्टचर्च में पैदा हुआ नाथन एस्टल ने न्यूजीलैंड को कई मैच जिताए लेकिन आज वो क्रिकेट छोड़कर एक अलग ही खेल से अपने परिवार के साथ जिंदगी काट रहे हैं. एस्टल ने खेल भी ऐसा चुना है कि एक चूक उनकी जिंदगी खत्म कर सकती है.

नाथन एस्टल का करियर
नाथन एस्टल रिटायरमेंट के बाद क्या करते हैं, ये आगे पढ़िए लेकिन पहले जानिए कि आखिर इस कीवी बल्लेबाज का नाम इतनी इज्जत से क्यों लिया जाता है. दाएं हाथ के एस्टल ने अपने करियर में 81 टेस्ट मैचों में 37 से ज्यादा की औसत से 4702 रन बनाए. एस्टल ने 11 टेस्ट शतक ठोके. एस्टल ने 223 वनडे मैचों में भी 34.92 की औसत से 7090 रन बनाए. वनडे में एस्टल ने 16 शतक जमाए. एस्टल ने न्यूजीलैंड के लिए 4 टी20 मैच भी खेले. बता दें एस्टल अच्छे गेंदबाज भी थे और उन्होंने टेस्ट में 51 और वनडे में 99 विकेट चटकाए.


नाथन एस्टल का वर्ल्ड रिकॉर्ड


आपको बता दें नाथन एस्टल के नाम सबसे तेज दोहरा शतक जमाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. नाथन एस्टल का ये रिकॉर्ड पिछले 18 सालों से कायम है. 16 मार्च, 2002 को एस्टल (Nathan Astle) ने क्राइस्टचर्च टेस्ट में तूफानी दोहरा शतक जड़ा था. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इंग्लैंड के खिलाफ महज 153 गेंदों में दोहरा शतक जमाकर सभी को हैरान कर दिया था. एस्टल ने इंग्लैंड के खिलाफ 168 गेंदों में 222 रनों की तूफानी पारी खेली थी.



दिल्ली कैपिटल्स के हर्षल पटेल बोले- इस बार घर का फायदा नहीं, अलग पिच पर खेलना मुश्किल

IPL 2020: पिता हैं पंजाब पुलिस में ड्राइवर, बेटा आईपीएल में गरजने को तैयार

रिटायरमेंट के बाद बने कार रेस
आमतौर पर रिटायरमेंट के बाद क्रिकेट खिलाड़ी अपनी एकेडमी खोलते हैं, या फिर वो कोचिंग, अंपायरिंग और कमेंट्री के क्षेत्र में दिखाई देते हैं. लेकिन नाथन एस्टल संन्यास के बाद कार रेसर बन गए. आपको बता दें एस्टल अब मॉडिफाइड कार रेसिंग करते हैं. यही एस्टल की कमाई का जरिया भी है. मॉडिफाइड कार रेसिंग के दौरान कई बार कार पलटती है. जिससे कार ड्राइवर की जान भी जा सकती है. लेकिन रोमांच से भरपूर ये खेल एस्टल को भाता है और शायद इसीलिए वो इसमें इतना रमे हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज