सरफराज अहमद की कप्तानी में पाकिस्तान जीता था चैंपियंस ट्रॉफी, अब उन्हीं को नालायक बोलते हैं दिग्गज

HBD Sarfaraz Ahmed: सरफराज अहमद की कप्तानी में 2017 में पाकिस्तान ने भारत को हराकर चैम्पियंस ट्रॉफी जीती थी. (Sarfaraz Ahmed Twitter)

Happy Birthday Sarfaraz Ahmed: पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) के पूर्व कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) आज 34 साल के हो गए हैं. इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने पाकिस्तान के लिए 49 टेस्ट, 117 वनडे और 60 टी20 खेले हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) के पूर्व कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed Birthday) का आज जन्मदिन है.  22 मई 1987 को कराची में पैदा हुए सरफराज भले ही बीते कुछ सालों से टीम से अंदर-बाहर हो रहे हैं. लेकिन वो इमरान खान के बाद पचास ओवर की कोई वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीतने वाले पाकिस्तान के दूसरे कप्तान हैं. उनकी अगुआई में 4 साल पहले पाकिस्तान ने इंग्लैंड में चैम्पियंस ट्रॉफी का खिताब जीता था.

    सरफराज के लिए ये कामयाबी इसलिए भी खास थी. क्योंकि उन्हें फरवरी 2017 में ही पाकिस्तान की वनडे टीम का कप्तान बनाया गया था और 4 महीने बाद ही उन्होंने कायापलट कर दिया और टूर्नामेंट की सबसे निचली रैंकिंग वाली टीम को चैम्पियन बना दिया. तब टूर्नामेंट के शुरुआती मुकाबले में भारत ने उसे करारी शिकस्त दी थी. हालांकि, इस हार के बाद पाकिस्तान ने जोरदार वापसी की और दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और इंग्लैंड को हराने के बाद फाइनल में भारत को ही हराकर खिताब पर कब्जा जमाया था.

    सरफराज को 2019 विश्व कप के बाद कप्तानी से हटाया गया
    सरफराज की कामयाबी का ये सफर बहुत लंबा नहीं चला. 2019 के वनडे वर्ल्ड कप में उनकी कप्तानी में पाकिस्तान ने निराशाजनक प्रदर्शन किया और टीम सेमीफाइनल तक भी नहीं पहुंच सकी. टूर्नामेंट में उसे भारत के हाथों भी करारी हार झेलनी पड़ी. इसके बाद उन्हें पहले कप्तानी और फिर टेस्ट, टी20 टीम से भी बाहर कर दिया गया. इसके बाद कई दिग्गजों ने उनकी काफी आलोचना भी की.

    सरफराज की कप्तानी में पाकिस्तान अंडर-19 विश्व कप जीता
    सरफराज ने पहली बार 2006 में सेलेक्टर्स का ध्यान अपनी तरफ खींचा था. तब उनकी कप्तानी में पाकिस्तान ने भारत को हराकर अंडर-19 विश्व कप जीता था. इसके बाद उन्होंने घरेलू क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया और 10 मैच में 523 रन बनाने के साथ विकेट के पीछे 28 शिकार किए. एक साल बाद सरफराज ने भारत के खिलाफ जयपुर में वनडे डेब्यू किया. हालांकि, कामरान और उमर अकमल की मौजूदगी के कारण इस विकेटकीपर बल्लेबाज को नियमित रूप से टीम का हिस्सा बनने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा. अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि वनडे डेब्यू के तीन साल बाद सरफराज को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्ट खेलने का मौका मिला.

    यह भी पढ़ें: डैरेन स्टीवंस ने 9वें विकेट के लिए की 166 रनों की साझेदारी, साथी कमिंस ने बनाए सिर्फ 1 रन

    2014 से सरफराज पाकिस्तान टीम के नियमित सदस्य बने
    2014 में श्रीलंका के खिलाफ दुबई में हुए टेस्ट की दूसरी पारी में सरफराज ने 74 रन बनाए. टीम तो टेस्ट हार गई. लेकिन उन्होंने अपने खेल से दिल जीत लिया और बतौर विकेटकीपर टेस्ट टीम में अपनी जगह पक्की कर ली. अगले 18 महीने में सरफराज ने टेस्ट में 71 से ज्यादा की औसत से रन बनाए. इसका फायदा उन्हें मिला और 2015 के वनडे विश्व कप के बीच में उन्हें टीम में चुना गया.

    सरफराज ने पाकिस्तान के लिए 49 टेस्ट, 117 वनडे और 60 टी20 खेले हैं. तीनों फॉर्मेट में उन्होंने कुल 5784 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 5 शतक भी निकले हैं. उन्होंने टेस्ट में विकेट के पीछे कुल 167, तो वहीं वनडे में 143 शिकार किए.