होम /न्यूज /खेल /

लार पर बैन की आशंका पर बोले हरभजन सिंह, न मिली ऐसी पिच तो मशीन बनकर रहे जाएंगे गेंदबाज

लार पर बैन की आशंका पर बोले हरभजन सिंह, न मिली ऐसी पिच तो मशीन बनकर रहे जाएंगे गेंदबाज

हरभजन सिंह ने चीन पर लगाया आरोप

हरभजन सिंह ने चीन पर लगाया आरोप

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने कहा कि अगर गेंद पर लार का इस्‍तेमाल बैन होता तो पिच से गेंदबाजों को मदद मिलनी चाहिए.

    नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण दुनियाभर में क्रिकेट नहीं खेला जा रहा है. क्रिकेटर्स घर में कैद हैं. इस महामारी ने कई टूर्नामेंट को स्‍थगित करवा दिया है और अब क्रिकेट में एक बड़ा बदलाव भी इसकी वजह से होता नजर आ रहा है. दुनियाभर में लाखों लोग इससे संक्रमित हैं और आने वाले कुछ समय में हालात पहले के जैसे सामान्‍य होते नहीं दिख रहे. कोविड- 19 (Covid-19) के बाद लोगों की जिंदगी भी बदल जाएगी. अधिक सतर्क रहने की जरूरत हैं. ऐसे में गेंद पर लार पर बैन की मांग भी की जा रही है. जिससे किसी तरह की बीमारी के फैलने के खतरे को रोका जा सके. दरअसल गेंदबाज गेंद को चमकाने के लिए उस पर लार या पसीने का इस्‍तेमाल करते हैं. मगर लार पर बैन लगने के बाद गेंदबाजों को ही सबसे ज्‍यादा दिक्‍कत आएगी.

    ऐसे में क्रिकेट जगत दो हिस्‍सों में बंट गया हैं. एक इसके बैन के समर्थन में है और दूसरा नहीं. हालांकि क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया (Cricket Australia) ने गेंद पर लार और पसीने का इस्‍तेमाल करना बैन कर दिया है. अगर आईसीसी भी ऐसा करती है तो फिर गेंदबाजों का क्‍या होगा. यह सवाल इस समय क्रिकेट जगत में हर किसी के पास है. इस सवाल पर अपनी राय रखते हुए भारत के दिग्‍गज स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने कहा कि अगर आईसीसी भी इस पर बैन लगा देती है तो यह गेंदबाजों के लिए काफी मुश्किल हो जाएगा.

    गेंदबाजों के हिसाब से हो पिच
    हिंन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स से बातचीत में हरभजन सिंह ने कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए पिचों को बनाया जाना चाहिए, ताकि एक गेंदबाज को मदद मिल सके. उन्‍होंने कहा कि यदि अपनी गेंदबाजी में सुधार लाने के लिए गेंदबाज गेंद को शाइन नहीं सकता तो उन्‍हें कम से कम पाटा विकेट नहीं देना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता तो गेंदबाज एक गेंदबाजी मशीन बनकर रह जाएंगे और क्रिकेट सिर्फ बल्‍लेबाजों का मैच बन जाएगा.

    आईपीएल (IPL) के आयोजन और विदेशी प्‍लेयर्स के आने पर हरभजन ने कहा कि कई देशों में यात्रा पर पाबंदी है. उन्‍हें नहीं लगता कि आने वाले समय में खिलाड़ी यात्रा करेंगे. आईपीएल के आयोजन पर हरभजन ने कहा कि वे नहीं जानते कि सरकार और बीसीसीआई आईपीएल के भविष्‍य पर क्‍या फैसला लेती है. उन्‍होंने कहा कि अगर 13 साल में पहली बार आईपीएल नहीं होता है तो वो भी ठीक है. इस मुश्किल परिस्थिति में हर क्रिकेट के लिए मजबूर नहीं कर सकते. जिंदगी पहले है. क्रिकेट इंतजार कर सकता है.

    सचिन तेंदुलकर से काफी अलग हैं विराट कोहली, इस स्‍टार खिलाड़ी ने गिनाए अंतर

    अपने ही दो खिलाड़ियों से 'डरा' पाकिस्‍तान बोर्ड, उठाने जा रहा है बड़ा कदम!undefined

    Tags: Coronavirus, Cricket, Harbhajan singh, IPL, Sports news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर