हरभजन सिंह किसान आंदोलन के समर्थन में; ट्वीट कर की भरोसे की बात, चेतावनी भी दी

क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) किसानों को अपना पूरा समर्थन दे रहे हैं.

Farmers Protest: सरकार और किसानों की इस लड़ाई में हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) पूरी तरह आंदोलनकारियों के साथ दिख रहे हैं. भज्जी ने गुरुवार को भी एक ट्वीट किया. ऐसा लगता है कि वे किसानों को सावधान कर रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली की सीमा पर डटे किसानों को सरकार भले ही ज्यादा तवज्जो ना दे रही हो, लेकिन जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक आंदोलनकारियों का प्रभाव बढ़ता जा रहा है. बॉक्सर विंजेंदर सिंह, क्रिकेटर मंदीप सिंह जैसे खिलाड़ी और मीका सिंह, दिलजीत दाेसांझ जैसे अभिनेता किसान आंदोलन (Farmers Protest) के समर्थन में खुलकर सामने आ गए हैं. क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh Cricketer) भी किसानों को अपना पूरा समर्थन दे रहे हैं. वे किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के पक्ष में चार दिन में तीन ट्वीट और इतने ही रीट्वीट कर चुके हैं. हालांकि, गुरुवार का उनका ट्वीट चेतावनी का संदेश लेकर आया.

    सरकार और किसानों की इस लड़ाई में हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) पूरी तरह आंदोलनकारियों के साथ दिख रहे हैं. भज्जी ने गुरुवार को भी एक ट्वीट किया. ऐसा लगता है कि वे किसानों को सावधान कर रहे हैं. उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा, ‘किसी भी व्यक्ति पर सोच-समझकर भरोसा करें क्योंकि नमक भी शक्कर जैसा ही दिखता है.’ भज्जी ने हालांकि, इस पोस्ट में किसान आंदोलन या सरकार का जिक्र नहीं किया है.



    हरभजन सिंह ने इससे पहले 7 और 8 दिसंबर को कुछ फोटो और वीडियो रीट्वीट किए. इसमें किसानों की मदद के लिए बनाए गए शेल्टर होम, दवाइयों के पैकेट दिखाए गए हैं. ऐसे ही एक वीडियो में एक किसान बुजुर्ग के पैर दबा रहा है. भज्जी ने 8 और 9 दिसंबर को ट्वीट किया, किसान से ही हिंदुस्तान है और किसान हमारा सम्मान.

    हरभजन सिंह किसान आंदोलन के पक्ष में 3 दिन में 3 ट्वीट कर चुके हैं.
    हरभजन सिंह किसान आंदोलन के पक्ष में 3 दिन में 3 ट्वीट कर चुके हैं.


    दिल्ली बॉर्डर पर हजारों किसान केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए तीन नए कृषि कानून (New Agriculture Law) का विरोध कर रहे हैं. पंजाब से शुरू हुआ यह आंदोलन दिल्ली की सीमा पर तो आ पहुंचा है. केंद्र सरकार ने सुरक्षाबलों के दम पर किसानों को दिल्ली में घुसने से रोक रखा है. सरकार  आंदोलन खत्म करने के लिए 5 स्तर की बात कर चुकी है. इसके बावजूद मसला अभी नहीं सुलझा है. सरकार और किसानों के बीच अब जल्द ही छठे दौर की बातचीत होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.