• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • सचिन तेंदुलकर से काफी अलग हैं विराट कोहली, इस स्‍टार खिलाड़ी ने गिनाए अंतर

सचिन तेंदुलकर से काफी अलग हैं विराट कोहली, इस स्‍टार खिलाड़ी ने गिनाए अंतर

उन्होंने आगे कहा, ' हमें तेंदुलकर और कोहली के नाम पर मंजूरी मिल गयी. कोहली मेरा पसंदीदा बल्लेबाज है और मैंने सबसे महंगे इलाके की सड़क का नाम उनके नाम से रखा है.’

उन्होंने आगे कहा, ' हमें तेंदुलकर और कोहली के नाम पर मंजूरी मिल गयी. कोहली मेरा पसंदीदा बल्लेबाज है और मैंने सबसे महंगे इलाके की सड़क का नाम उनके नाम से रखा है.’

टीम इंडिया (Team India) के इस स्‍टार खिलाड़ी के अनुसार पहला अंतर तो ये है कि विराट कोहली (Virat Kohli) मैच जीतना चाहते हैं, वहीं सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) की कोशिश शांत रहकर सब कुछ करने की होती थी

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. विराट कोहली (Virat Kohli) और सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भारतीय क्रिकेट में चुनिंदा बड़े नामों में से दो बड़े नाम हैं. जहां कोहली भारतीय क्रिकेट के आधुनिक युग को बताते हैं, वहीं सचिन तेंदुलकर भारतीय क्रिकेट के गोल्‍डन समय की यादों को ताजा करते हैं. 2011 वर्ल्‍ड कप की विजयी भारतीय टीम का हिस्‍सा रहे सुरेश रैना (Suresh Raina) उन भाग्‍यशाली क्रिकेटर्स में से एक हैं, जिन्‍हें दोनों के साथ खेलने का मौका मिला. खलीज टाइम्‍स को हाल ही में दिए एक इंटरव्‍यू में रैना ने दोनों खिलाड़ियों के साथ अपने खेल के अनुभव के बारे में बताया. साथ ही यह भी बताया कि आखिर क्‍यों कोहली सचिन से काफी अलग हैं. रैना ने कहा कि सचिन और विराट दोनों के नाम ही काफी शतक है. विराट मैच जीतना चाहते हैं तो वहीं सचिन की हमेशा कोशिश रहती है कि सब कुछ बहुत शांत हो.

    सचिन ने दिलाया टीम को भरोसा
    रैना ने कहा कि सचिन के कारण ही टीम 2011 वर्ल्‍ड कप जीत पाई. वो इकलौत ऐसे व्‍यक्ति थे, जिन्‍होंने पूरी टीम को भरोसा दिलाया कि हम ये कर सकते हैं. वो हमारे लिए दूसरे कोच की तरह थे. वहीं विराट के लिए रैना ने कहा कि वे हर फॉर्मेट में कमाल कर प्रदर्शन कर रहे हैं. कोहली बेहतरीन कप्‍तान हैं. वो गेंद को तेजी से मारते हैं. कोहली के आसपास जो भी रहता है, वो काफी पॉजिटिव रहता हैं. रैना कहा कि मैं काफी भाग्‍यशाली हूं कि दोनों के साथ खेलने का मौका मिला. 2011 के वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर ने 53.55 की औसत से 482 रन बनाए थे. सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की लिस्ट में वह दूसरे नंबर पर थे. सचिन का स्ट्राइक रेट लगभग 92 का था.

    मेसी से की सचिन की तुलना
    इस दौरान रैना ने सचिन की तुलना अर्जेटीना के दिग्‍गज फुटबॉलर लियोनल मेसी से कर दी. उन्‍होंने कहा कि मैं मेसी का बहुत बड़ा फैन हूं. वह जमीन से जुड़े व्‍यक्ति हैं. सचिन और मेसी दोनों ही अपने आसपास के लोगों की फिक्र करने में काफी अच्‍छे हैं. उन्‍होंने कहा कि खेल में आपको विनम्र रहना होता है. उन्‍होंने कहा कि आप दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी बन सकते हैं, मगर आपकी विरासत सबसे अहम होती है. आपको हर एक के लिए आभार जताने की जरूरत होती है.

    अपने ही दो खिलाड़ियों से 'डरा' पाकिस्‍तान बोर्ड, उठाने जा रहा है बड़ा कदम!

    '1992 के बाद अपने ही देश को वर्ल्‍ड कप जीतते हुए नहीं देखना चाहते थे अकरम'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज