IPL 2021: हरभजन सिंह बोले-40 साल का हूं और अब भी खेल सकता हूं, कुछ साबित करने की जरूरत नहीं

 हरभजन सिंह इस सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा हैं (IPL/BCCI)

हरभजन सिंह इस सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा हैं (IPL/BCCI)

IPL 2021: हरभजन सिंह ने 1998 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था और उनके नाम पर अब 700 से अधिक अंतरराष्ट्रीय विकेट दर्ज हैं. आईपीएल में भी यह खिलाड़ी 150 से ज्यादा विकेट ले चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 5:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने बुधवार को कहा कि अब भी इसलिए खेल रहे हैं क्योंकि वह खेलना चाहते हैं. हरभजन ने कहा कि उन्हें किसी के सामने कुछ साबित करने की जरूरत नहीं है. हरभजन इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में इस साल कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से खेलेंगे और उनमें जितनी भी क्रिकेट बची है वह उसका पूरा लुत्फ उठाना चाहते हैं.

हरभजन ने कहा, ‘‘कई लोग सोचते हैं कि भाई ये क्यों खेल रहा है. अरे भाई ये उनकी सोच है मेरी नहीं. मेरी सोच है कि मैं अभी खेल सकता हूं तो मैं खेलूंगा. मुझे अब किसी के सामने कुछ साबित करने की जरूरत नहीं है. मेरा इरादा अच्छा खेल दिखाना और मैदान पर खेल का पूरा लुत्फ उठाना है. क्रिकेट खेलकर मुझे अब भी संतुष्टि मिलती है.’’ इस ऑफ स्पिनर ने कहा, ‘‘मैंने अपने लिए मानदंड स्थापित किये हैं और यदि मैं उनको पूरा नहीं करता हूं तो किसी अन्य को नहीं बल्कि स्वयं को दोष दूंगा. मैं तब स्वयं से प्रश्न करूंगा कि क्या मैंने पर्याप्त प्रयास किये थे. ’’

हरभजन ने 1998 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था और उनके नाम पर अब 700 से अधिक अंतरराष्ट्रीय विकेट दर्ज हैं. उन्होंने कहा, ‘‘हां, मैं अब 20 साल का नहीं हूं और मैं वैसा अभ्यास नहीं करूंगा जैसा तब किया करता था. हां, मैं 40 साल का हूं और मैं जानता हूं कि मैं अब भी फिट हूं और इस स्तर पर सफल होने के लिये जो करना है वह जरूर करूंगा. ’’

यह भी पढ़ें:
CSK के कप्तान धोनी के मुरीद हुए मोईन अली, कहा-खेल सुधारने में मदद करते हैं

IPL : कप्तान बनने के बाद ऋषभ पंत का पहला वीडियो, जमकर पसीना बहाते आए नजर

हरभजन ने पिछले साल आईपीएल में नहीं खेलने के बारे में कहा, ‘‘पिछले वर्ष जब आईपीएल हुआ तो भारत में कोविड-19 अपने चरम पर था. मैं अपने परिवार को लेकर चिंतित था और फिर भारत लौटने पर पृथकवास पर रहना था. लेकिन इस साल टूर्नामेंट भारत में हो रहा है और हम नयी आदतों के आदी हो चुके हैं.’’ उन्होंने कहा कि टीका आ चुका है. इसके अलावा परिवार ने भी खेलने के लिये कहा.  मेरी पत्नी (गीता) ने कहा कि मुझे खेलना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज