भारत में बढ़ते कोरोना के कारण T20 वर्ल्ड कप पर खतरा, ICC के बयान ने बढ़ाई चिंता !

भारत में इस साल अक्टूबर-नवंबर में टी20 विश्व कप होना है. कोरोना के कारण इसे एक साल के लिए टाला गया था. (ICC Twitter)

भारत में इस साल अक्टूबर-नवंबर में टी20 विश्व कप होना है. कोरोना के कारण इसे एक साल के लिए टाला गया था. (ICC Twitter)

आईसीसी के अंतरिम सीईओ ज्यॉफ एलार्डिस ICC CEO Geoff Allardice) ने बुधवार को कहा कि इस साल के आखिर में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप (T20 World Cup 2021) के लिए उनके पास बैकअप प्लान है. लेकिन ये सही समय आने पर ही अमल में आएगा. फिलहाल, हम भारत से विश्व कप कहीं और शिफ्ट करने पर विचार नहीं कर रहे.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में इस साल अक्टूबर-नवंबर में टी20 क्रिकेट विश्व कप (T20 World Cup 2021) होना है. लेकिन इससे पहले ही देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. बीते 24 घंटे में ही देश में 1.15 लाख लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं. ऐसे में टी20 विश्व कप के आयोजन में भी मुश्किलें आने की आशंका हैं. इस पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने अपना रुख साफ किया है. आईसीसी के अंतरिम सीईओ ज्यॉफ एलार्डिस (ICC CEO Geoff Allardice) ने बुधवार को कहा कि इस साल के आखिर में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए उनके पास बैकअप प्लान है. लेकिन ये सही समय पर ही अमल में आएगा. फिलहाल, हमने उस पर काम शुरू नहीं किया है.क्योंकि हम तय शेड्यूल के मुताबिक, भारत में ही विश्व कप के आयोजन की तैयारी कर रहे हैं.

एलार्डिस ने आगे कहा कि आईसीसी के पास टी20 विश्व कप के लिए अपने वैकल्पिक प्लान को अमल लाने के लिए अभी वक्त है. फिलहाल, उसका पूरा ध्यान 18 जून को इंग्लैंड के साउथैम्प्टन में भारत-न्यूजीलैंड के बीच होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल पर है. उन्होंने कहा कि हमारे पास बैकअप के रूप में यूएई है, जहां पिछले साल आईपीएल का आयोजन किया गया था. बातचीत के दौरान, आईसीसी के अंतरिम सीईओ से डिसीजन रिव्यू सिस्टम (Decision Review System) के बारे में भी पूछा गया, जिसमें विवादास्पद अंपायर कॉल शामिल है. इसकी वजह से हाल ही में भारत और इंग्लैंड के बीच सीमित ओवर सीरीज में काफी गलत फैसले देखने को मिले थे. और भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी इस पर सवाल उठाए थे.

IPL 2020 में सबसे ज्यादा 71 यॉर्कर डालने वाले नटराजन बोले- धोनी की एक सलाह से बदला मेरा करियर



डीआरएस में फिलहाल बड़े बदलाव की उम्मीद नहीं: एलार्डिस
बता दें कि डीआरएस को अंपायर की गलतियों को सुधारने के हिसाब से अमल में लाया गया था. लेकिन अभी भी इसमें कई खामियां हैं. एलार्डिस ने कहा कि मुझे लगता है कि जब आप एक रीप्ले देखते हैं, तो स्वाभाविक प्रतिक्रिया यह है कि हम क्या कर सकते हैं. हम सही निर्णय लेने के लिए तकनीक का उपयोग कर रहे हैं. लेकिन इसमें भी सटीकता नहीं मिल पा रही है. फिलहाल, हम इसे लेकर जिस स्थिति में हैं, वो ठीक है.

विराट के पार्टनर ने गौतम गंभीर को बताया रोल मॉडल, बोले- उनके वीडियो आज भी देखता हूं

डीआरएस और थर्ड अंपायर से जुड़े नियमों में तीन बदलाव हुए
हाल ही में आईसीसी क्रिकेट बोर्ड और क्रिकेट कमेटी में भी अंपायर्स कॉल को लेकर चर्चा हुई थी. लेकिन अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली कमेटी ने इसे बरकरार रखने का फैसला लिया था. हालांकि, कमेटी ने डीआरएस और तीसरे अंपायर के नियमों में 3 बदलाव किए थे. इसमें सबसे बड़ा बदलाव ये हुआ कि अब विकेट जोन की ऊंचाई को बढ़ाकर स्टंप के ऊपर तक कर दिया गया है. इस फैसले के बाद अब अपायर कॉल विकेट की ऊंचाई और चौड़ाई दोनों में एक समान रहेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज