ICC Cricket World Cup 2019: बांग्‍लादेश की उलटफेर करने की ताकत टॉप टीमों के लिए है 'खतरा'

ICC Cricket World Cup 2019: बांग्‍लादेश की उलटफेर करने की ताकत टॉप टीमों के लिए है 'खतरा'
बांग्‍लादेश की टीम सभी के लिए 'खतरा' साबित होगी.(Photo-PTI)

बांग्लादेश टीम ने 1999 विश्व कप में पहली बार कदम रखा था और 1992 चैंपियन पाकिस्तान को हराकर उलटफेर किया था.

  • Share this:
आईसीसी विश्‍व कप 2015 के बाद से बांग्‍लादेश टीम ने अपने खेल में जबर्दस्‍त सुधार किया है और मौजूदा विश्‍व कप में भी हर कोई उसका प्रदर्शन देखना चाहेगा. सच कहा जाए तो इस टीम को कोई भी विश्‍व कप का दावेदार नहीं मान रहा है, लेकिन यह टीम अपनी उलटफेर करनी की क्षमता के कारण विरोधियों के लिए चुनौती बन सकती है.

इसका सबूत अप्रैल 2015 से अक्तूबर 2016 के बीच पाकिस्तान, भारत, दक्षिण अफ्रीका, जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान के खिलाफ लगातार पांच वनडे सीरीज में जीत हासिल करना है. वहीं, उसने विश्‍व कप से पहले आयरलैंड की मेजबानी में खेली गई ट्राई सीरीज में वेस्‍टइंडीज को रौंदकर अपना पहला बड़ा खिताब जीता है.

मुर्तजा की कप्‍तानी में चुनौती देगी बांग्‍लादेश 
बांग्‍लादेश ने पिछले कुछ सालों में जबर्दस्‍त प्रदर्शन किया है. 2015 विश्व कप के क्वार्टरफाइनल, 2017 चैंपियंस ट्रॉफी सेमीफाइनल और 2018 एशिया कप फाइनल के फाइनल में जगह बनाना इसका सबूत है. इस टीम ने ये बेजोड़ प्रदर्शन मशरफे मुर्तजा की कप्‍तानी में किया है और आईसीसी क्रिकेट विश्‍व कप 2019 में भी वही टीम का लीड कर रहे हैं.
इस टीम ने पिछले 20 मैचों में से 13 में जीत हासिल की है और यही बात उनका मनोबल बढ़ा सकती है. टीम की बल्‍लेबाजी और गेंदबाजी ठीक है, लेकिन बड़े मैचों का दबाव उसका खेल बिगाड़ सकता है. वहीं, 209 वनडे मैचों में 1752 रन बनाने के साथ-साथ 31.69 के औसत से 265 विकेट लेने वाले मुशरफे मुर्तजा ने 77 मैचों में टीम की कप्‍तानी की है.



ये हैं स्‍टार खिलाड़ी
इस टीम के पास शाकिब अल हसन, सौम्य सरकार, तमीम इकबाल, मुशफिकुर रहीम और मुस्ताफिजुर रहमान के रूप में कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं, जो मैच का पासा पलट सकते हैं. जबकि मुर्तजा का अनुभव भी कमाल का है.



2019 की वर्ल्‍ड कप टीम: मशरफे मुर्तजा (कप्तान), तमीम इकबाल, महमूदुल्लाह, मुशफिकुर रहीम (विकेटकीपर), शाकिब हल हसन, सौम्य सरकार, लिटन दास, सब्बीर रहमान, मेहदी हसन, मोहम्मद मिथुन, रूबेल हुसैन, मुस्ताफिजुर रहमान, अबु जायद, मोहम्मद सैफुद्दीन और मोसादेक हुसैन.

बांग्‍लादेश का विश्‍व कप इतिहास
इस टीम ने 1999 विश्व कप में पहली बार कदम रखा था और 1992 चैंपियन पाकिस्तान को हराकर उलटफेर किया था. हालांकि वह ग्रुप स्‍टेज से आगे नहीं बढ़ सकी थी. वहीं 2003 विश्‍व कप में भी वह ग्रुप स्‍टेज तक सिमट गई. 2007 विश्‍व कप में इस टीम ने ग्रुप मैच में भारत को पटखनी देकर तहलका मचा दिया. इस मैच में मुर्तजा (चार विकेट) के अलावा तमीम इकबाल, शाकिब अल हसन और मुशफिकुर रहीम ने अर्धशतक जड़कर कर दम दिखाया था. इसके बाद सुपर 8 में साउथ अफ्रीका को भी हराकर बड़ा उलटफेर किया था.

हालांकि, इसके बाद 2011 विश्‍व कप में वह बेदम साबित हुई तो ऑस्ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड की मेजबानी में हुए पिछले विश्‍व कप में वह क्वार्टरफाइनल में भारत से हार गई थी. अब तक खेले पांच विश्‍व कप में इस टीम ने 32 मैच खेलते हुए 11 में जीत हासिल की है तो 20 में हार मिली है. वहीं, एक मैच का कोई रिजल्‍ट नहीं निकला है. बांग्‍लादेश का सफलता प्रतिशत 35.48 है.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading