ICC World Cup: सेमीफाइनल का टिकट पक्का करने के लिए बांग्लादेश को हराना जरूरी, ये कमजोरी डुबा सकती है टीम इंडिया की नैया

ICC cricket world cup 2019 में बर्मिंघम के एजबेस्टन ग्राउंड में आज भारत-बांग्लादेश का मुकाबला होने जा रहा है. टीम इंडिया में जिस खिलाड़ी पर कप्तान विराट कोहली को सबसे ज्यादा भरोसा है, वे हैं महेंद्र सिंह धोनी. धोनी फील्ड सेटिंग में कप्तान की तरह भूमिका निभाते हैं, लेकिन धोनी का व्यक्तिगत प्रदर्शन उतना ठीक नहीं रहा.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 10:41 AM IST
ICC World Cup: सेमीफाइनल का टिकट पक्का करने के लिए बांग्लादेश को हराना जरूरी, ये कमजोरी डुबा सकती है टीम इंडिया की नैया
महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 10:41 AM IST
आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC cricket world cup 2019) के 40वें मैच में आज (2 जुलाई) को इंग्लैंड के बर्मिंघम के एजबेस्टन ग्राउंड में भारत-बांग्लादेश का मुकाबला होने जा रहा है. सेमीफाइनल में जगह पक्की करने के लिए टीम इंडिया को यह मैच जीतना जरूरी है. टीम इंडिया 7 मैच में 11 अंक के साथ पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर है. इस मुकाबले को जीतने के बाद उसके 13 अंक हो जाएंगे. ऐसे में वह सेमीफाइनल में जगह पक्की हो जाएगी. लेकिन, इंग्लैंड से मिली हार के बाद भारतीय टीम की कई कमजोरियां सामने आई हैं. खासकर महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव की बैंटिंग को लेकर सवाल उठने लगे हैं. ऐसे में उम्मीद है कि सेमीफाइनल में टीम इंडिया की जगह पक्की कराने के लिए धोनी इस मैच में बेहतर प्रदर्शन कर आलोचकों का मुंह बंद करने की कोशिश करेंगे.

द्रविड़ की वजह से चुने गए मयंक, रहाणे-रायडू को दी मात!

दरअसल, टीम इंडिया में खिलाड़ियों की फिटनेस की समस्या से भी जूझ रही है. ओपनर शिखर धवन के बाद अब विजय शंकर भी चोट के कारण वर्ल्ड कप से बाहर हैं. धवन की जगह ऋषभ पंत और शंकर की जगह मयंक अग्रवाल टीम में शामिल किए गए. मयंक अग्रवाल आज अपने पहले वर्ल्ड कप का पहला मैच खेलेंगे. वहीं, भुवनेश्वर कुमार पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में चोटिल हो गए थे. राहत की खबर है कि अब वो बांग्लादेश के खिलाफ खेलने के लिए तैयार हैं.

फोटो क्रेडिट- Twitter


आइए, एक नज़र डालते हैं दोनों टीमों की ताकत और कमजोरी पर:-

टीम इंडिया की कमजोरी
>>महेंद्र सिंह धोनी: टीम इंडिया में जिस खिलाड़ी पर कप्तान विराट कोहली को सबसे ज्यादा भरोसा है, वे हैं महेंद्र सिंह धोनी. धोनी फील्ड सेटिंग में कप्तान की तरह भूमिका निभाते हैं. इससे विराट 30 गज के बाहर फील्डिंग करने के लिए फ्री हो जाते हैं, लेकिन धोनी का व्यक्तिगत प्रदर्शन सही नहीं रहा है. इस टूर्नामेंट में वे विकेटकीपिंग के दौरान 9 रन बाई में दे चुके हैं. बल्लेबाजी में धोनी ने 6 मैच में 188 रन बनाए. इस दौरान उनका औसत 47 का रहा, लेकिन स्ट्राइक रेट 100 से भी नीचे 91.26 का रहा. धोनी ने अफगानिस्तान और इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी ओवरों में धीमी गति से रन बनाए, जिससे कई पूर्व क्रिकेटर्स ने उनकी आलोचना की. उम्मीद है कि धोनी इस मैच में बेहतर प्रदर्शन कर आलोचकों का मुंह बंद करने की कोशिश करेंगे.
Loading...

>> मिडिल ऑर्डर: भारतीय टीम में बेहतरीन बल्लेबाज जरूर मौजूद हैं, लेकिन टीम इंडिया की बल्लेबाजी इस वक्त रोहित शर्मा और कप्तान विराट को इर्द-गिर्द घूमती नजर आती है. खास तौर पर टीम इंडिया की मध्यक्रम की बल्लेबाजी टीम की सबसे कमजोर कड़ी है. धोनी के अलावा टीम के मध्यक्रम के अन्य बल्लेबाज केदार जाधव को भी जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी. बांग्लादेश टीम को पता है कि अगर वो भारतीय टीम के शुरुआती विकेट ले लेते हैं, तो उन्हें बाद में ज्यादा परेशानी नहीं होगी. ऐसे में उनका पूरा ध्यान शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को आउट करने पर जरूर होगा.

इंडिया की हार पर बिफरे पाक क्रिकेटर, बोले- कोशिश नहीं की

टीम इंडिया की ताकत
>>रोहित शर्मा और विराट कोहली: टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली टूर्नामेंट में फॉर्म में है. रोहित ने 6 पारियों में 440 रन बनाए. इस दौरान उनका औसत 88.00 और स्ट्राइक रेट 93.82 का रहा. वह इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 3 शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं. दूसरी ओर, विराट कोहली ने 6 मैच में 382 रन बनाए. उनका औसत 63.67 और स्ट्राइक रेट 96.22 का रहा. अब तक के टूर्नामेंट में कोहली ने 5 अर्धशतक लगाए हैं.

फोटो क्रेडिट- Twitter


>>मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह: मोहम्मद शमी जबर्दस्त फॉर्म में चल रहे हैं. शमी ने 3 मैच में 13 विकेट चटकाए. एक बार हेट्रिक ली. इंग्लैंड के साथ हुए मैच में तो उन्होंने पांच विकेट लिए थे, लेकिन टीम जीत नहीं सकी. दुनिया के नंबर एक गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने 5 मैच में 10 विकेट लिए. उन्होंने एक बार मैच में चार विकेट अपने नाम किया. ऐसे में दोनों तेज गेंदबाज बांग्लादेश के खिलाफ भी बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे.

बांग्लादेश की कमजोरी
>>सौम्य सरकार: टीम के अनुभवी बल्लेबाजों में एक ओपनर सौम्य सरकार का प्रदर्शन इस टूर्नामेंट में औसत रहा है. उन्होंने छह पारियों में में सिर्फ 111 रन बनाए. इस दौरान उनका औसत 18.50 और स्ट्राइक रेट 106.73 का रहा है. बांग्लादेश का टीम प्रबंधन चाहेगा कि वे भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन करें.

फोटो क्रेडिट- Twitter


बांग्लादेश की ताकत
>>शाकिब अल हसन: दुनिया के नंबर एक ऑलराउंडर शाकिब ने टूर्नामेंट में अब तक बेहतरीन प्रदर्शन किया है. वे सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में चौथे स्थान पर हैं. उन्होंने 6 पारियों में 95.20 की औसत से 476 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 99.17 का रहा. वे टूर्नामेंट में अब तक दो शतक लगा चुके हैं. शाकिब ने गेंदबाजी में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है.

>>मुशफिकुर रहीम: टीम के अनुभवी बल्लेबाजों में से एक विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम रन बनाने के मामले में टीम में दूसरे नंबर हैं. उन्होंने 6 पारियों में 65.40 की औसत से 327 रन बनाए. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 92.37 का रहा. उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में 83 रन की पारी खेली थी.

IND vs BAN Preview : सेमीफाइनल पर टीम इंडिया की नजरें...मगर ये खिलाड़ी बनेगा मुसीबत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 9:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...