लाइव टीवी

जसप्रीत बुमराह: तेज गेंदबाजी का नया 'शंहशाह', नाम से कांपते हैं बल्‍लेबाज़

Ajay Raj | News18Hindi
Updated: June 2, 2019, 11:05 PM IST

टीम इंडिया के इस स्‍टार गेंदबाज़ ने 22.15 के औसत से वनडे क्रिकेट में 85 विकेट लिए हैं.

  • Share this:
क्रिकेट विश्‍व कप 2019 में टीम इंडिया समेत दुनियाभर की टॉप 10 टीमें खिताब जीतने के लिए दम लगा रही हैं. जबकि 'विराट सेना' को भी क्रिकेट के तमाम दिग्‍गज खिताब का प्रबल दावेदार बता रहे हैं. भारत का चैंपियन बनना काफी हद तक बल्‍लेबाजी तिकड़ी (विराट कोहली, रोहित शर्मा और शिखर धवन) के अलावा उस खास गेंदबाज़ के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा, जिसने पिछले कुछ वर्षों में पूरी दुनिया में अपनी गेंदबाजी का लोहा मनवाया है.

हम बात कर रहे हैं 25 साल के तेज गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह की, जो इस समय वनडे क्रिकेट के नंबर 1 गेंदबाज हैं और उनकी धमक टेस्‍ट और टी20 क्रिकेट में भी बल्‍लेबाजों ने भली-भांति महसूस की है. जबकि इंग्‍लैंड एंड वेल्‍स की मेजबानी में हो रहे इस विश्‍व कप में उनकी गेंदों को समझना बल्‍लेबाजों के लिए टेढ़ी खीर साबित होने वाला है.

यूं शुरू हुआ सफर
जसप्रीत बुमराह अपने अजीबोगरीब गेंदबाजी एक्शन के कारण दुनियाभर के बल्लेबाजों के लिए खौफ बन चुके हैं. जबकि उनकी धीमी और तेज गति की गेंद के बीच फर्क करना पाना बल्‍लेबाजों के लिए चुनौती साबित हो रहा है. आलम ये है कि अब तो भारत के मशहूर संस्‍थान (आईआईटी कानपुर) के एक प्रोफेसर ने भी उनकी गेंदबाजी पर रिसर्च कर डाली है और यह पिछले दिनों भारत में खासी चर्चा का कारण रही थी.

खैर, 2013 के सैयद मुश्‍ताक अली टूर्नामेंट में युवा बुमराह को आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस के कोच जॉन राइट ने देखा था, जहां वह दर्शक के रूप में मौजूद थे. वह गुजरात के इस 19 साल के पेसर की गेंदबाजी और एक्‍शन से खासे प्रभावित हुए और यही वजह रही है कि उन्‍हें (बुमराह) मुंबई इंडियंस टीम ने अपने साथ जोड़ने का ऑफर दे डाला. हालांकि वह मुंबई के लिए 2013 में सिर्फ दो मैच खेले और कोई सफलता हासिल नहीं कर सके, लेकिन टीम मैनेजमेंट ने इस युवा पर भरोसा कायम रखा और आज उनके आंकड़े हर किसी को हैरान कर रहे हैं. उन्‍होंने अब तक 77 मैचों में 26.59 के औसत 82 विकेट लिए हैं. यही नहीं, वह जब से इस टीम से जुड़े हैं तब से वह चार बार चैंपियन बन चुकी है. मुंबई ने 2013, 2015, 2017 और 2019 में खिताब जीता है.

बुमराह डेथ ओवर्स के दमदार गेंदबाज़ हैं. (Photo-AP)


हालांकि तीन साल बाद एक बार फिर सैयद मुश्‍ताक अली टूर्नामेंट उनके लिए टर्निंग प्‍वाइंट साबित हुआ. उन्‍होंने इस टूर्नामेंट में 14 शिकार किए और उनको ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ उसी के देश में होने वाली तीन मैचों की टी20 सीरीज के लिए चोटिल मोहम्‍मद शमी की जगह टीम इंडिया में चुना गया था. इसके बाद जो हुआ वो हैरान करने वाला है, क्‍योंकि तत्‍कालीन कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने उन्‍हें टी20 सीरीज से पहले खेली जा रही वनडे सीरीज के पांचवें और आखिरी वनडे में उतार दिया. 23 जनवरी 2016 को सिडनी में खेले गए इस मैच में युवा बुमराह ने दस ओवर में 40 रन देकर दो विकेट लिए और इसे किसी भी गेंदबाज़ का शानदार आगाज कहा जा सकता है. यकीनन इसके बाद उन्‍होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा है.
Loading...

ऐसे बनी दुनिया में पहचान
इस युवा गेंदबाज़ ने 23 जनवरी 2016 को वनडे क्रिकेट के सहारे इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था और तब से वह 49 वनडे मैचों में 85 विकेट चटका चुके हैं, जो कि दूसरा सर्वोच्‍च प्रदर्शन है. जबकि पहले नंबर पर मौजूद न्‍यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्‍ट ने सबसे अधिक 98 खिलाड़ियों (52 मैच) को पवेलियन लौटाया है. वहीं, 85 विकेट (56 मैच) के साथ साउथ अफ्रीका की सनसनी कगिसो रबाडा तीसरे कामयाब तेज गेंदबाज़ हैं.



बुमराह का है शानदार औसत
टीम इंडिया के इस स्‍टार गेंदबाज़ ने 22.15 के औसत से विकेट लिए हैं. जबकि इस दौरान पाकिस्‍तान के हसन अली ने 24.18 के औसत से तो ट्रेंट बोल्‍ट ने 25.31 औसत से खिलाड़ियों को अपना शिकार बनाया है.



डेथ ओवर्स के बादशाह हैं बुमराह
अपनी यॉर्कर की वजह से 25 साल के जसप्रीत बुमराह डेथ ओवर्स के दमदार गेंदबाज़ बनकर उभरे हैं और उन्‍होंने अपने डेब्‍यू के बाद से वनडे में 41 से 50 ओवर के बीच रिकॉर्ड 291 गेंदें डॉट डाली हैं. मजेदार बात ये है कि उन्‍होंने अपने 85 विकेट में से 45 शिकार डेथ ओवर्स के दौरान ही किए हैं. वहीं, इस दौरान ट्रेंट बोल्‍ट ने 218 गेंदें डॉट डालते हुए 33 शिकार किए हैं.



रखते हैं बेस्ट इकॉनोमी रेट
बुमराह ने अब तक 4.51 इकॉनोमी रेट से विकेट लिए हैं. जबकि इस दौरान कगिसो रबाडा ने 5 और बांग्‍लादेश के स्‍टार तेज गेंदबाज़ मशरफे मुर्तजा का इकॉनोमी रेट 5.07 रहा है. साफ है कि यहां भी बुमराह का दबदबा दिखाई देता है.



दिग्‍गजों में जगह बनाई
वनडे क्रिकेट के इतिहास में 44 पारी के बाद सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाजों में जगह बनाकर बुमराह ने खुद को साबित किया है. इतनी पारियों में पाकिस्‍तान के वकार यूनुस ने 89 विकेट लिए थे, जो कि रिकॉर्ड है. दूसरे नंबर पर वेस्‍टइंडीज के कर्टली एम्ब्रोज (86) हैं तो बुमराह ने 85 विकेट के साथ अपना जलवा बिखेरा है. वहीं, चौथे गेंदबाज़ के रूप में साउथ अफ्रीका के डेल स्‍टेन ने जगह बनाई है. उन्‍होंने 73 विकेट लिए हैं.



जसप्रीत और क्रिकेट
जसप्रीत बुमराह ने अभी तक 49 वनडे में 85 विकेट लिए हैं तो 10 टेस्‍ट में 49 खिलाड़ी पवेलियन लौटाए हैं. जबकि 42 टी20 इंटरनेशनल मैचों में उनके नाम 51 विकेट दर्ज हैं. बुमराह रन देने के मामले में काफी कंजूस हैं और यही वजह है कि टेस्‍ट, वनडे और टी20 इंटरनेशनल मैचों में उनका इकोनॉमी रेट क्रमश: 2.66, 4.51 और 6.72 का है. निश्चित रूप से बुमराह अब तक खेले अपने क्रिकेट से दुनिया के लिए पहेली बने हुए हैं और यही वजह है कि टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली और कोच रवि शास्‍त्री उन्‍हें टीम के लिए अनमोल बताते हुए नहीं थकते. आखिर टीम इंडिया को जीत दिलाने में बुमराह किसी से पीछे नहीं हैं!

नोट-यह आंकड़े विश्‍व कप 2019 के शुरू होने से पहले के हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 2, 2019, 8:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...