ICC Cricket World Cup 2019: क्‍या 44 साल का खिताबी सूखा खत्‍म कर पाएगी न्‍यूजीलैंड?

किवी टीम कप्तान केन विलियमसन की कप्‍तानी में मैदान में है और उन्‍होंने पिछले समय में टीम को दमदार तरीके से लीड करते हुए दुनिया में अपना डंका बजवाया है.

Ajay Raj | News18Hindi
Updated: June 1, 2019, 3:19 PM IST
ICC Cricket World Cup 2019: क्‍या 44 साल का खिताबी सूखा खत्‍म कर पाएगी न्‍यूजीलैंड?
वर्ल्‍ड कप में केन विलियमसन के नेतृत्‍व में खेलेगी न्‍यूजीलैंड. (AP)
Ajay Raj | News18Hindi
Updated: June 1, 2019, 3:19 PM IST
न्यूजीलैंड को विश्व कप की छुपा रुस्तम टीम माना जाता है. वह पांच बार सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही है तो वहीं पिछले विश्व कप में उसने फाइनल में पहुंचकर अपनी ताकत दिखाई थी, लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया से मिली हार ने उसका चैंपियन बनने का सपना तोड़ दिया. इस बार भी कहानी अलग नहीं है और केन विलियमसन की टीम कुछ भी कर सकती है.

वैसे इस बार उसे इंग्लैंड की धरती पर खेलना है और उसके सामने चुनौती बीते प्रदर्शन को दोहराने की है. हालांकि किवी टीम का अगर इंग्लैंड में प्रदर्शन देखा जाए तो यह बड़ी चुनौती लगती है और उसे यहां हमेशा परेशानी हुई है. उसने आखिरी बार चैंपियंस ट्रॉफी में यहां शिरकत की थी लेकिन जल्दी टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी. जबकि उसे इंग्‍लैंड के 2015 के दौरे में वनडे सीरीज में 2-3 से हारी मिली थी. बावूजद इसके वह पिछले 44 साल से चले आ रहे खिताबी सूखे को खत्‍म करना चाहेगी.

केन विलियमसन हैं टीम के कप्‍तान
किवी टीम कप्तान केन विलियमसन की कप्‍तानी में मैदान में है और उन्‍होंने पिछले समय में टीम को दमदार तरीके से लीड करते हुए दुनिया में अपना डंका बजवाया है. सच कहा जाए तो इस टीम की बल्‍लेबाजी और गेंदबाजी में खासा दम है और वह विरोधी के छक्‍के छुड़ा सकती है. टीम में रॉस टेलर और मार्टिन गप्टिल जैसे अनुभवी खिलाड़ी हैं जो बड़ी पारियां खेलने में उस्‍ताद हैं खासकर गप्टिल का जलवा निराला है. टीम के पास कोलिन मुनरो के रूप में एक और खतरनाक बल्लेबाज़ है तो टॉम लाथम ने बल्लेबाजी से हर किसी का दिल जीता है.



वहीं, कोलिन डी ग्रांडहोम, हेनरी निकोलस, जिमी नीशम आदि का ऑलराउंडर खेल मैच का पासा पलट सकता है. ज‍बकि गेंदबाजी की कमान अनुभवी टिम साउदी और ट्रेंट बोल्‍ट के हाथों में होगी. बोल्‍ट की स्विंग और तेजी इंग्लैंड में काम आएगी. वहीं, लॉकी फर्ग्‍यूसन अपनी तेजी से बोल्‍ट और साउदी का अच्‍छा साथ दे सकते हैं. स्पिन में किवी टीम के पास ईश सोढ़ी और मिचेल सैंटनर जैसे अच्छे नाम हैं. हालांकि किवी टीम की सबसे बड़ी परेशानी डेथ ओवर में गेंदबाजी है.

2019 विश्‍व कप टीम : केन विलियमसन (कप्तान), टॉम ब्लंडेल, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन डी ग्रांडहोम, लॉकी फर्ग्‍यूसन, मार्टिन गप्टिल, टॉम लाथम, कोनिल मुनरो, जिमी नीशाम, हेनरी निकोलस, मिचेल सैंटनर, ईश सोढ़ी, टिम साउदी और रॉस टेलर.
Loading...

न्‍यूजीलैंड का विश्‍व कप इतिहास
इस टीम ने विश्‍व कप में खासा दमदार प्रदर्शन किया है. 1975 और 1979 में सेमीफाइनल में जगह बनाई तो अगले दो विश्‍व कप (1983 और 1987) में उसका सफर लीग स्‍टेज से आगे नहीं बढ़ सका. हालांकि अपनी मेजबानी में खेले 1992 में वह एक बार फिर सेमीफाइनल में पहुंची, लेकिन फाइनल की रेस एक बार फिर दूर रह गई. 1996 में क्‍वार्टरफाइनल तो 1999 में सेमीफाइनल तक पहुंची और 2003 में वह सुपर सिक्‍स तक सिमट गई.

हालांकि पिछले तीन विश्‍व कप (2007, 2011 और 2015) में न्‍यूजीलैंड टीम ने खासा दमदार प्रदर्शन किया है. इस दौरान वह दो बार सेमीफाइनल में पहुंची है तो पिछले टूर्नामेंट में फाइनल में पहुंचकर उसने सेमीफाइनल के डर पर जीत हासिल की थी. इस बार वह अपने इंग्‍लैंड में खराब रिकॉर्ड से कैसे पार पाती है उसी पर उसका सफर तय करेगा. हालांकि उसके पास एक ऐसी टीम है जो किसी भी परिस्थिति से निपटने में माहिर है.

जबकि विश्‍व कप में इस टीम ने अब तक 79 मैच खेलते हुए 48 में जीत हासिल की है तो 30 बार उसे हार मिली है. वहीं, एक मैच बेनतीजा रहा है. न्‍यूजीलैंड को इस महाकुंभ में 65.45 फीसदी सफलता मिली है जो ऑस्‍ट्रेलिया (75.30) के बाद सर्वोच्‍च है.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 1, 2019, 7:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...