ICC Cricket World Cup 2019: वर्ल्‍ड कप में खुद को साबित करना चाहेगी 1996 की चैंपियन श्रीलंका

विश्व कप 2019 में श्रीलंका टीम की कमान एक ऐसे खिलाड़ी के पास है जो चार साल बाद वनडे खेल रहा है.

Ajay Raj | News18Hindi
Updated: June 1, 2019, 10:44 AM IST
ICC Cricket World Cup 2019: वर्ल्‍ड कप में खुद को साबित करना चाहेगी 1996 की चैंपियन श्रीलंका
श्रीलंका को विश्‍व कप की सबसे कमजोर टीम माना जा रहा है. (Twitter)
Ajay Raj | News18Hindi
Updated: June 1, 2019, 10:44 AM IST
आईसीसी विश्‍व कप 2019 का आगाज हो चुका है. जबकि 1996 विश्‍व कप की विजेता श्रीलंका अपना पहला मैच न्‍यूजीलैंड के साथ खेलेगी. सच कहा जाए तो दो दशक के इतिहास में यह शायद पहला मौका होगा जब श्रीलंका की टीम क्रिकेट के इस महाकुंभ में कमजोर प्रतिद्धंद्धी के तौर पर गिनी जा रही है. यकीनन श्रीलंका के सामने असली चुनौती अपनी पुरानी छवि को हासिल करना है. कुमार संगाकारा, महेला जयवर्धने, तिलकरत्ने दिलशान, मुथैया मुरलीधरन जैसे दिग्गजों के जाने के बाद श्रीलंका की टीम वो नहीं रही जो हुआ करती थी. इन सभी के जाने के बाद टीम में कभी भी स्थिरता नहीं देखी गई और न ही वो खिलाड़ी इस टीम को मिले जो इसके आगे ले जाएं. हालात कुछ ऐसे हैं कि जिम्बाब्वे ने भी श्रीलंका को उसके घर में आकर वनडे सीरीज में हरा दिया था.

दिमुथ करुणारत्ने की कप्‍तानी में दम भरेगी श्रीलंका
विश्व कप 2019 में श्रीलंका टीम की कमान एक ऐसे खिलाड़ी के पास है जो चार साल बाद वनडे खेल रहा है. जी हां, श्रीलंका ने दिमुथ करुणारत्ने को टीम का कप्तान बनाकर इंग्लैंड भेजा है. हाल ही में करुणारत्ने ने स्कॉटलैंड के खिलाफ वनडे मैच खेला था लेकिन इससे पहले उन्होंने अपना आखिरी वनडे 1 मार्च 2015 में वेलिंग्टन में खेला था. अब दिमुथ क्या कमाल दिखा पाते हैं, यह तो वक्त ही बताएगा. सच कहा जाए तो टीम के नेतृत्व में लगातार बदलाव और खिलाड़ियों के लगातार टीम से अंदर-बाहर होने से श्रीलंका को काफी नुकसान हुआ है.

बल्लेबाजी में टीम के पास कुरणारत्ने के अलावा कुशल मेंडिस और अनुभवी एंजेलो मैथ्यूज ऐसे नाम हैं जो अच्छा कर सकते हैं. वहीं, गेंदबाजी में टीम के पास लसिथ मलिंगा का अनुभव है तो थिसारा परेरा और सुरंगा लकमल भी टीम के काम आ सकते हैं. वैसे इस टीम के काफी खिलाड़ी पहली बार विश्‍व कप खेल रहे हैं और अनुभव की कमी टीम पर भारी पड़ सकती है.



श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), अविश्का फर्नाडो, लाहिरू थिरिमाने, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डी सिल्वा, इसुरू उदाना, मिलिंदा श्रीवर्दना, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, कुशल परेरा (विकेटकीपर), कुशल मेंडिस, जैफ्री वैंडरसे, सुरंगा लकमल, नुवान प्रदीप और लसिथ मलिंगा.

श्रीलंका का विश्‍व कप इतिहास
Loading...

श्रीलंका ने अब तक सभी विश्‍व कप खेले हैं. पहले पांच विश्‍व कप टूर्नामेंट में उसका सफर ग्रुप स्‍टेज से आगे नहीं बढ़ सकता था, लेकिन 1996 विश्‍व कप में चैंपियन बनकर उसने इतिहास रच दिया था. 1999 में ये टीम एक बार फिर ग्रुप स्‍टेज में फिसल गई तो अगले विश्‍व कप (2003) में उसने सेमीफाइनल में जगह बनाकर शानदार पलटवार किया. जबकि 2007 और 2011 में वह खिताब जीतने से चूक गई. वहीं, पिछले विश्‍व कप में इस टीम का सफर क्‍वार्टरफाइनल में खत्‍म हो गया था. श्रीलंका ने इस टूर्नामेंट में अब तक 73 मैच खेले हैं और उसे 35 में जीत तो इतने ही मैचों में हार मिली है. जबकि एक मैच टाई रहा है तो दो का नतीजा नहीं निकला. श्रीलंका का सफलता प्रतिशत 50 फीसदी है, जिसे अच्‍छा कहा जा सकता है.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 1, 2019, 8:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...