लाइव टीवी

कोरोना वायरस के बाद क्रिकेट शुरू करने के लिए आईसीसी ने जारी की गाइडलाइन, करने होंगे ये काम

News18Hindi
Updated: May 22, 2020, 9:13 PM IST
कोरोना वायरस के बाद क्रिकेट शुरू करने के लिए आईसीसी ने जारी की गाइडलाइन, करने होंगे ये काम
क्रिकेट शुरू करने के लिए आईसीसी ने जारी की गाइडलाइन

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने ट्रेनिंग, खेल और खिलाड़ियों की वायरस से सुरक्षा के लिए कई दिशा-निर्देश जारी किये हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने कोरोना वायरस के बाद क्रिकेट को दोबारा शुरू करने के लिए पूरी गाइडलाइन जारी कर दी है. आईसीसी (ICC Guideline) की इस गाइडलाइन में घरेलू क्रिकेटरों से लेकर इंटरनेशनल क्रिकेट खिलाड़ियों की ट्रेनिंग, खेल, ट्रैवल और वायरस से सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देश जारी कर दिये हैं. आईसीसी ने अपनी इस गाइडलाइन को 4 दौर में बांटा है. पहले दौर में खिलाड़ियों को अकेले ट्रेनिंग शुरू करनी है. इसके बाद दूसरे दौर में 3 खिलाड़ियों का ग्रुप ट्रेनिंग शुरू करेगा. तीसरे दौर में छोटे ग्रुप या टीम अपने कोच के साथ ट्रेनिंग कर सकेगी और चौथे दौर में टीमें अपने पूरे स्क्वाड के साथ मैच खेल सकेंगी जिसमें एक-दूसरे को छूने से बचना होगा.

हर टीम को ऐसे शुरू करना होगा क्रिकेट


ट्रेनिंग के लिए आईसीसी के दिशा-निर्देश
आईसीसी (ICC Guideline) ने सभी इंटरनेशनल टीमों को ट्रेनिंग के लिए चीफ मेडिकल अफसर को नियुक्त करने की बात कही है जिसका काम सरकार के नियमों का पालन कराना होगा. इसके अलावा आईसीसी ने टीमों को मैच से पहले आइसोलेशन ट्रेनिंग कराने और कोविड-19 टेस्ट की बात कही है. इसके अलावा आईसीसी ने सभी खिलाड़ियों का कोविड 19 टेस्ट कराने को भी जरूरी बताया है. आईसीसी ने सभी टीमों को निर्देश दिया है कि वो खिलाड़ियों को कोविड-19 के लक्षणों के बारे में रिपोर्ट करने की प्रक्रिया सिखाएं. इसके अलावा आईसीसी ने टीमों को मेडिकल रूम में बेड लगाने के निर्देश दिये हैं. आईसीसी ने कहा है कि वो बेड हर मरीज के आने से पहले और ठीक होने के बाद पूरी तरह से साफ होने चाहिए.



खेलने के लिए आईसीसी के दिशा-निर्देश


आईसीसी ने टीमों को खेलने के लिए भी लंबी-चौड़ी गाइडलाइन जारी की है. आईसीसी ने कहा है कि ऐसी जगह मैच कराए जाएं तो थोड़े सुरक्षित हों और वहां पर खिलाड़ियों को नुकसान नहीं पहुंचने की संभावना हो. मैच आयोजन की जगह पर कोविड-19 से निपटने के सारे इंतजाम हों. हर स्थान पर मैच से पहले डॉक्टरों की नियुक्ति जरूरी होगी जो कि खिलाड़ियों और मैच अधिकारियों को मेडिलक सेवा देंगे. मैच के वेन्यू पर कोरोना वायरस स्पेशलिस्ट अस्पताल होने चाहिए, ताकि इमरजेंसी के हालात में वहां तुरंत पहुंचा जा सके. क्रिकेट के मैदान पर और उसके बाहर साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखना जरूरी है. सभी टीमों को अपने खिलाड़ियों को गेंद पर थूक नहीं लगाने के दिशा-निर्देश देने हैं. मैच के दौरान खिलाड़ियों और अंपायरों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है.

यात्रा के लिए आईसीसी की गाइडलाइन
आईसीसी की गाइडलाइन के मुताबिक सभी टीमों को अपने और दूसरे देश की यात्रा के सभी नियमों का पालन करना होगा. वहां सेल्फ आइसोलेशन, क्वारंटीन के नियमों को मानना जरूरी है. यात्रा के वक्त सभी खिलाड़ियों को सोशल डिस्टेंसिंग और सफाी का विशेष ध्यान रखना है. यात्रा के लिए विशेष विमानों का प्रयोग करने की कोशिश करें. खिलाड़ियों के लिए होटल का एक पूरा फ्लोर बुक करें और हर खिलाड़ी को अलग-अलग कमरा दें और साथ ही होटल के खाने के स्तर का भी ध्यान रखा जाए. इंटरनेशनल टीम मेडिकल डॉक्टर के साथ ही यात्रा करे.

सुरेश रैना का बड़ा बयान- रोहित शर्मा की कप्तानी एमएस धोनी जैसी, विराट कोहली अलग हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 8:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading