लाइव टीवी

पिता ने कहा- हम गरीब हैं, तुम्हें क्रिकेटर नहीं बना सकते, अब बेटा वर्ल्ड कप में करेगा भारत की कप्तानी!

News18Hindi
Updated: December 2, 2019, 12:42 PM IST
पिता ने कहा- हम गरीब हैं, तुम्हें क्रिकेटर नहीं बना सकते, अब बेटा वर्ल्ड कप में करेगा भारत की कप्तानी!
प्रियम गर्ग करेंगे अंडर 19 वर्ल्ड कप में भारत की कप्तानी

मेरठ के रहने वाले प्रियम गर्ग (Priyam Garg) को साउथ अफ्रीका में होने वाले अंडर 19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम की कमान सौंपी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2019, 12:42 PM IST
  • Share this:
साउथ अफ्रीका में अगले साल होने वाले अंडर 19 वर्ल्ड कप (ICC Under 19 World Cup) के लिए टीम इंडिया का ऐलान हो गया है. 14 सदस्यीय इस टीम की कमान यूपी के बल्लेबाज प्रियम गर्ग (Priyam Garg) को सौंपी गई है. अंडर 19 वर्ल्ड कप टीम में कई ऐसे बल्लेबाजों और गेंदबाजों को मौका दिया गया है, जो आगे चलकर भारतीय क्रिकेट का बड़ा नाम बन सकते हैं. अंडर 19 टीम में ध्रुव जुरेल और यशस्वी जायसवाल को मौका दिया गया है. टीम में तिलक वर्मा, दिव्यांश सक्सेना, शाश्वत रावत, दिव्यांश जोशी, शुभांग हेगड़े, रवि बिश्नोई, आकाश सिंह, कार्तिक त्यागी, अथर्व अकोलेकर, कुमार कुशाग्र, सुशांत मिश्रा और विद्याधर पाटिल को मौका मिला है.

4 बार अंडर 19 वर्ल्ड कप जीता है भारत
बता दें टीम इंडिया ने रिकॉर्ड चार बार अंडर 19 वर्ल्ड कप जीता है. 2018 में पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत ने अंडर 19 वर्ल्ड कप जीता था और इस बार टीम इंडिया साउथ अफ्रीका में बतौर डिफेंडिंग चैंपियन मैदान में उतरने वाली है. अंडर 19 वर्ल्ड कप का आगाज 17 जनवरी से होगा और 9 फरवरी को इसका फाइनल होगा. टूर्नामेंट में कुल 48 मैच होंगे और 16 टीमें चार ग्रुप्स में बंटी होंगी. भारतीय टीम चौथे ग्रुप में है और उसे लीग मैचों में जापान, न्यूजीलैंड और श्रीलंका की टीमों से भिड़ना होगा.

अंडर 19 वर्ल्ड कप टीम में यशस्वी जायसवाल को भी मौका


कौन हैं अंडर 19 टीम के कप्तान प्रियम गर्ग?
आइए अब आपको बताते हैं कि आखिर प्रियम गर्ग (Priyam Garg) हैं कौन, जिन्हें वर्ल्ड कप के लिए इंडिया अंडर 19 टीम का कप्तान चुना गया है. प्रियम गर्ग यूपी के मेरठ के रहने वाले हैं और उन्हें भारतीय क्रिकेट का उभरता सितारा माना जाता है. प्रियम गर्ग ने 7 साल की उम्र में सचिन तेंदुलकर को बल्लेबाजी करता देखा और फिर उन्होंने क्रिकेटर बनने का फैसला किया. हालांकि गरीबी की वजह से प्रियम के पिता ने उन्हें क्रिकेट खेलने से मना किया. हालांकि फिर भी प्रियम ने गली में क्रिकेट खेलना जारी रखा. इसके बाद उनके मामा ने प्रियम को मेरठ के विक्टोरिया स्टेडियम में कोचिंग दिलाई और फिर इस बल्लेबाज ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

यशस्वी जायसवाल को अगला विराट कोहली माना जाता है

Loading...

बता दें प्रियम गर्ग (Priyam Garg) के घर से विक्टोरिया स्टेडियम 22 किलोमीटर दूर था और वो बस में लटककर स्टेडियम जाते थे. कई बार वो बस से गिरते-गिरते भी बचे. उनकी मेहनत रंग लाई और उन्हें महज 14 साल की उम्र में यूपी अंडर-14, अंडर 16 में खेलने का मौका मिला. प्रियम ने अंडर-14, अंडर-16 में शानदार प्रदर्शन किया और साल 2018 में उन्हें अंडर 19 टीम में चुना गया. बता दें प्रियम गर्ग ने अंडर-14, अंडर-16 और रणजी ट्रॉफी में दो-दो दोहरे शतक लगाने का कारनामा किया है. प्रियम गर्ग ने 11 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं और उन्होंने 67.83 के औसत से 814 रन बनाए हैं, जिसमें दो दोहरे शतक भी शामिल हैं.

मनीष पांडे ने दिखाया एमएस धोनी जैसा कलेजा, आखिरी 4 गेंद में पलट दिया मैच!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 11:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...