लाइव टीवी

स्मृति मंधाना और स्पिनर्स की बदौलत टॉप टीम के तौर पर सेमीफाइनल में पहुंची टीम इंडिया

IANS
Updated: November 18, 2018, 9:48 AM IST
स्मृति मंधाना और स्पिनर्स की बदौलत टॉप टीम के तौर पर सेमीफाइनल में पहुंची टीम इंडिया
इस जीत के साथ टीम इंडिया ने ग्रुप बी की टॉप टीम के तौर पर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है.

इस जीत के साथ टीम इंडिया ने ग्रुप बी की टॉप टीम के तौर पर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है.

  • IANS
  • Last Updated: November 18, 2018, 9:48 AM IST
  • Share this:
स्मृति मंधाना (83) के बाद स्पिन गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर भारतीय महिला टीम ने शनिवार को प्रोविडेंस स्टेडियम में खेले गए टी-20 विश्व कप के ग्रुप-बी के अपने आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया को 48 रनों से हरा दिया. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मंधाना की आतिशी पारी के दम पर 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए. यह भारत का खेल के सबसे छोटे प्रारुप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर भी है. ऑस्ट्रेलियाई टीम हालांकि इस मजबूत स्कोर के सामने दो गेंद पहले ही 119 रनों पर ढेर होकर मैच हार गई.

ऑस्ट्रेलिया की इस विश्व कप में यह पहली हार है. वहीं भारत ने अपने विजयी क्रम को जारी रखते हुए जीत का चौका लगाया है. दोनों टीमें हालांकि पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुकी हैं. मिताली राज को भारत ने आराम दिया और मंधाना ने अनुभवी खिलाड़ी की गैरमौजूदगी में जिम्मेदारी लेते हुए इस विश्व कप में अपना पहला अर्धशतक भी जमाया. मंधाना ने 55 गेंदों में नौ चौके और तीन छक्कों की मदद से  83 रनों की आतिशी पारी खेली. मंधाना ने इस मैच में टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में अपने 1000 रन भी पूरे कर लिए हैं. वह मिताली राज के बाद सबसे तेज 1000 रन पूरे करने वाली दूसरी खिलाड़ी हैं.

मंधाना के बाद अनुजा पाटिल, दीप्ती शर्मा, पूनम यादव और राधा यादव की स्पिन चौकड़ी ने परेशान किया. इन चारों गेंदबाजों ने आपस में नौ विकेट बांटे. एलिसे हिली चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी करने नहीं आईं. अनुजा ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए बाकी तीन गेंदबाजों ने दो-दो विकेट अपने नाम किए.

ऑस्ट्रेलिया के लिए एलिसे पैरी ने सबसे ज्यादा नाबाद 39 रन बनाए. उन्होंने 28 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया. उनके बाद एशले गार्डनर 20 रनों के साथ टीम की दूसरी सर्वोच्च स्कोरर रहीं.

इससे पहले, भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचाने में कप्तान हरमनप्रीत कौर ने मंधाना का अच्छा साथ दिया और तीसरे विकेट के लिए 68 रन जोड़े. यह साझेदारी तब आई जब भारत ने 49 रनों के स्कोर पर ही अपनी दो बल्लेबाजों को खो दिया था.
ये भी पढ़ें: AUS vs SA: 10 ओवर का हुआ टी20 मुकाबला, द. अफ्रीका ने 21 रन से जीता मैच

मिताली की अनुपस्थिति में मंधाना के साथ तन्या भाटिया को पारी की शुरुआत के लिए भेजा गया. तान्या (2) पांच के कुल स्कोर पर आउट हो गईं. जेम्मिाह रोड्रिगेज (6) भी कुछ खास नहीं कर पाईं. यहां से कप्तान और मंधाना ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाया और तेजी से रन बटोरे. कौर अपने अर्धशतक की ओर बढ़ रही थीं, तभी डेलिसा किममिंसे ने उन्हें 117 के कुल स्कोर पर आउट कर दिया. उन्होंने अपनी आतिशी पारी में 27 गेंदों का सामना करते हुए तीन चौकों के साथ इतने ही छक्के लगाए.कप्तान के जाने के बाद मंधाना अकेली पड़ गईं और एक बार फिर टीम के मध्य क्रम और निचले क्रम की कमजोरी उजागार हुई. वेदा कृष्णामूर्ति (3), डायलाना हेमलता (1) का बल्ला फिर नहीं चला. मंधाना की पारी का अंत 154 के कुल स्कोर पर 19वें ओवर की पहली गेंद पर हुआ. दीप्ति ने आठ रन बनाए. राधा एक रन बनाकर नाबाद रहीं. ऑस्ट्रेलिया के लिए पैरी ने तीन विकेट लिए. गर्डनर, डेलिसे किममिंसे ने दो-दो विकेट लिए. मेगन शट को एक सफलता मिली.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2018, 1:05 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर