WTC Final: नील वैगनर से निपटने के लिए टीम इंडिया में शामिल हुआ 'खास गेंदबाज'

IND VS NZ: नील वैगनर से कैसे निपटेगी टीम इंडिया? (फोटो-एएफपी)

IND VS NZ: नील वैगनर से कैसे निपटेगी टीम इंडिया? (फोटो-एएफपी)

भारत को न्यूजीलैंड (IND VS NZ) के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 जून को खेलना है, ये मुकाबला साउथैंप्टन में होगा. न्यूजीलैंड से निपटने के लिए टीम इंडिया ने एक खास गेंदबाज को अपने स्क्वाड में जगह दी है जो विराट-रोहित जैसे दिग्गजों के लिए बेहद अहम साबित हो सकता है

  • Share this:

नई दिल्ली. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC Final) के फाइनल में अब महज एक महीना बचा है. साउथैंप्टन के मैदान पर 18 जून को भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) की टीम टेस्ट का पहला चैंपियन बनने के लिए भिड़ेंगी. न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबला इतना आसान नहीं रहने वाला क्योंकि इंग्लैंड की पिचों पर कीवी गेंदबाज ज्यादा घातक साबित हो सकते हैं. खासतौर पर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज नील वैगनर (Neil Wagner) जो अपनी रफ्तार के साथ-साथ जबर्दस्त सटीक बाउंसरों के लिए जाने जाते हैं. इसमें कोई शक नहीं कि स्टीव स्मिथ जैसे दिग्गज बल्लेबाज को परेशान करने वाले वैगनर विराट-रोहित की भी मुश्किलें बढ़ा सकते हैं. हालांकि टीम इंडिया ने वैगनर से निपटने के लिए एक ऐसे गेंदबाज को टीम में चुना है जो उन्हें नेट्स पर खास प्रैक्टिस करा सकता है.

बात हो रही है गुजरात के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अरजन नगवसवाला (Arzan Nagwaswalla) की जिन्हें इंग्लैंड दौरे के लिए टीम इंडिया के साथ जाना है. अरजन को बतौर स्टैंड बाय खिलाड़ी चुना गया है और वो नेट्स पर अपनी गेंदबाजी से विराट कोहली और रोहित शर्मा के लिए मुश्किल पैदा करने की कोशिश करेंगे ताकि वो कीवी गेंदबाजों से मिलने वाली चुनौती के लिए तैयार रहें.

नगवसवाला कैसे कराएंगे विराट-रोहित को तैयारी

बता दें नगवसवाला भी नील वैगनर की तरह बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं और वो भी बाउंसर फेंकने में माहिर हैं. अगर अरजन नगवसवाला नेट्स पर वैगनर की लाइन लेंग्थ से विराट-रोहित समेत दूसरे भारतीयों को प्रैक्टिस कराएंगे तो जाहिर तौर पर उन्हें फायदा होगा. खुद अरजन ने ये बात कही. उन्होंने इनसाइड स्पोर्ट से बातचीत में कहा, 'मैं एक प्लान के तहत गेंदबाजी करना पसंद करता हूं जिसमें बल्लेबाज फंसे. मैं टीम इंडिया के बल्लेबाजों के साथ नेट्स पर भी ऐसा करूंगा. मैं उनके लिए मुश्किलें खड़ा करूंगा ताकि वो मैच के लिए तैयार रहें.' बता दें अरजन बाउंसर के साथ-साथ जबर्दस्त इन स्विंग गेंदबाजी भी करते हैं.
ICC के नॉकआउट मैचों में क्यों फेल होती है टीम इंडिया? दीप दासगुप्ता ने बताया राज

नील वैगनर क्यों हैं भारत के लिए खतरा?

नील वैगनर ने पिछले 2-3 सालों में अपना प्रदर्शन बहुत ज्यादा सुधारा है. अपनी आक्रामक गेंदबाजी के दम पर उन्होंने कई दिग्गज बल्लेबाजों को परेशान किया है. 35 साल का ये तेज गेंदबाज 51 टेस्ट में 219 विकेट ले चुका है. वैगनर का रिकॉर्ड हर मजबूत टीम के खिलाफ जबर्दस्त है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने 4 मैचों में 24 विकेट लिये हैं. इंग्लैंड के खिलाफ वैगनर ने 9 मैचों में 37 विकेट चटकाए हैं. साउथ अफ्रीका के खिलाफ वैगनर ने 6 मैचों में 22 विकेट लिये हैं. भारत के खिलाफ वैगनर ने 5 मैचों में 18 विकेट चटकाए हैं. साफ है ये कीवी गेंदबाज वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत के लिए सबसे बड़ा खतरा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज