लाइव टीवी

विस्फोटक बल्लेबाजी के 'शहंशाह' का निधन, 46 साल पहले ही मचा दिया था कोहराम

News18Hindi
Updated: April 6, 2020, 4:17 PM IST
विस्फोटक बल्लेबाजी के 'शहंशाह' का निधन, 46 साल पहले ही मचा दिया था कोहराम
जॉक एडवडर्स अपनी धुआंधार बल्लेबाजी के लिए जाने जाते थे.

67 साल के इस बल्लेबाज ने 1974 से लेकर 1985 के बीच अपनी धुआंधार बल्लेबाजी से प्रशंसकों का मनोरंजन किया.

  • Share this:
वेलिंगटन. चाहे टेस्ट हो, वनडे या अब टी20, क्रिकेट में ताबड़तोड़ बल्लेबाज हर दौर में अपनी चमक बिखेरते रहे हैं. क्रिस गेल, शाहिद अफरीदी और वीरेंद्र सहवाग या फिर डेविड वॉर्नर. ये कुछ नाम है जिन्होंने अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से समय-समय पर क्रिकेट खेलने का अंदाज बदल दिया. मगर क्या आप जानते हैं कि 1974 से लेकर 1985 के बीच भी ऐसा एक बल्लेबाज था जो अपने लंबे-लंबे छक्कों के लिए बेहद मशहूर रहा. न्यूजीलैंड (New Zealand) के इसी विस्फोटक बल्लेबाज जॉक एडवडर्स (Jock Edwards) का सोमवार को निधन हो गया है. उन्हें विस्फोटक बल्लेबाजी का शहंशाह कहा जाता था. उन्हें अपने जमाने का बिग हिटर कहा जाता था.

न्यूजीलैंड के लिए खेले आठ टेस्ट और छह वनडे
न्यूजीलैंड (New Zealand) की तरफ से आठ टेस्ट और छह एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले ‘बिग हिटर’ विकेटकीपर बल्लेबाज जॉक एडवर्ड्स (Jock Edwards) 64 साल के थे. उनकी प्रांतीय टीम सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट प्रोविन्स ने सोमवार को उनके निधन की पुष्टि की. निधन के कारणों का पता नहीं चला है. एडवर्ड्स ने 1974 से 1985 के बीच इस प्रांतीय टीम से 67 प्रथम श्रेणी मैच खेले थे.

टी20 प्रारूप के बल्लेबाज थे जॉक



जॉक एडवर्डस (Jock Edwards) अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी के लिए मशहूर थे. उनके बारे में कहा जाता है कि उनकी बल्लेबाजी शैली टी20 क्रिकेट के अनुरूप थी लेकिन उनके जमाने में यह प्रारूप नहीं हुआ करता था. एडवर्ड्स का टेस्ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ पल 1978 में आकलैंड में रहा था जब उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ दोनों पारियों में अर्धशतक बनाए थे. उन्होंने 8 टेस्ट में 25.13 की औसत से 377 रन बनाए, जबकि 6 वनडे में 23 की औसत से 138 रन बनाए. 92 प्रथम श्रेणी मैचों में उनके नाम 4589 रन दर्ज हैं, जबकि 31 लिस्ट ए मैचों में 588 रन उनके बल्ले से निकले.



टीम इंडिया के खिलाफ खेला आखिरी टेस्ट
जॉक (Jock Edwards) ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 1976-77 में विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर टेस्ट डेब्यू किया था. इसके बाद जब इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड का दौरा किया तो जॉक ने विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी भी बखूबी संभाली. इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड दौरे पर ट्रेंट ब्रिज और ओवल में टेस्ट खेले, लेकिन विकेट के पीछे उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट 1981 में भारत के खिलाफ खेला.

भारत से है खास कनेक्शन
जॉक (Jock Edwards) ने 1976 से लेकर 1981 के बीच छह वनडे भी खेले. उन्होंने क्राइस्टचर्च में भारत के खिलाफ डेब्यू किया. इस मैच में उन्होंने 57 गेंदों पर 41 रन बनाकर टीम को नौ विकेट से जीत दिलाई. इस मैच के बारे में उन्होंने अप्रैल 2011 में दिए एक इंटरव्यू में कहा, मुझे याद है जब मैंने भारत के खिलाफ डेब्यू करते हुए ओपनिंग की थी. तब मुझे 41 रन पर बिशन सिंह बेदी ने आउट किया था. तब दूसरे छोर पर मेरे साथी बल्लेबाज ग्लेन टर्नर तीन-चार रन बनाकर खेल रहे थे. ये उनकी विध्वंसक बल्लेबाजी का ही आलम था कि जब तक उन्होंने 41 रन बनाए तब तक उनके साथी बल्लेबाज 5 रन तक नहीं बना सके थे.

फैंस के लिए आई बड़ी खुशखबरी, तय समय पर शुरू होगा टी20 वर्ल्ड कप!

विमान में बिजनेस क्लास में खिलाड़ियों के साथ नहीं बैठते धोनी,गावस्कर का खुलासा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 6, 2020, 4:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading