होम /न्यूज /खेल /

T20 WC: राहुल करेंगे ओपन, विराट नंबर- 3, तो मिडिल ऑर्डर से किसका कटेगा पत्ता?

T20 WC: राहुल करेंगे ओपन, विराट नंबर- 3, तो मिडिल ऑर्डर से किसका कटेगा पत्ता?

विराट और राहुल की वापसी से मिडिल ऑर्डर में से किसी एक खिलाड़ी को ड्रॉप करना होगा. (News18 Hindi)

विराट और राहुल की वापसी से मिडिल ऑर्डर में से किसी एक खिलाड़ी को ड्रॉप करना होगा. (News18 Hindi)

इस साल के आखिर में एशिया कप और टी20 वर्ल्ड कप की बात करें तो भारत का बड़ा चयन सवाल विराट कोहली और केएल राहुल को टीम में फिट करने के इर्द-गिर्द घूमता है. अगर राहुल ओपन करते हैं और कोहली नंबर 3 पर खेलते हैं तो मिडिल ऑर्डर से किसे ड्रॉप किया जाएगा. टीम के सामने यह बड़ा सवाल है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

एशिया कप 27 अगस्त से 11 सितंबर तक यूएई खेला जाएगा.
टी20 वर्ल्ड कप 16 अक्टूबर से 13 नवंबर तक ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा.
इन दोनों ही टूर्नामेंट में विराट कोहली खेलते हुए नजर आएंगे.

नई दिल्ली. एक साल पहले भी यह कल्पना से परे था कि भारतीय टीम में विराट कोहली की जगह पर सवाल उठाया जा सकता है. कोहली फिट और उपलब्ध हैं, लेकिन शायद एक दशक में पहली बार भारत के पूर्व कप्तान की प्लेइंग इलेवन में उपस्थिति क्रिकेट जगत में चर्चा का विषय हो सकती है. पिछले साल संयुक्त अरब अमीरात में खेला गया टी20 विश्व कप काफी खराब रहा था. इसका कारण था कि भारत का टॉप बल्लेबाजी ऑर्डर बुरी तरह से ढह गया था. जो रन बनाए गए थे, वह भी अच्छी गति से नहीं आए थे. इस बात पर खूब बहस हुई कि केएल राहुल, रोहित और कोहली सबसे छोटे प्रारूप में आदर्श नंबर 1, 2 और 3 हैं या नहीं?

अब 10 महीने बाद भारतीय टीम प्रबंधन अक्टूबर में शुरू होने वाले एक टी20 वर्ल्ड कप 2022 में एक बार फिर से वहीं खड़ा हुआ नजर आ रहा है. अगर भारत एशिया कप और टी20 विश्व कप में अपने शीर्ष तीन को दोहराता है तो तीन अन्य शीर्ष टी20 खिलाड़ियों में से एक को प्लेइंग इलेवन से बाहर बैठना होगा. ऋषभ पंत, सूर्यकुमार यादव और दिनेश कार्तिक इस वक्त टी20 क्रिकेट में कमाल का खेल दिखा रहे हैं.

पंत, सूर्या और कार्तिक के पास हैं ये खूबियां
पंत ‘एक्स-फैक्टर’ हैं, सूर्यकुमार 360-डिग्री हिटर है और कार्तिक एक फिनिशर ( (आखिरी ओवर के विशेषज्ञ बल्लेबाज)) हैं. अगर कोहली या राहुल को जगह देनी है तो क्या भारत इन तीनों में से किसी एक को ड्रॉप करने का जोखिम उठाएगा? यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है और अब तक इसका कोई निश्चित उत्तर नहीं मिला है. हरफनमौला के रूप में हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा की स्थिति मजबूत है. लाइन-अप में कम से कम चार विशेषज्ञ गेंदबाजों की आवश्यकता होती है. इससे भारत के पास केवल पांच विशेषज्ञ बल्लेबाजों का विकल्प बचा है और इसलिए बड़ा सवाल यह है कि किसे ड्रॉप करें?

Asia Cup 2022: IND vs PAK मैच कौन सी टीम जीतेगी? रिकी पोंटिंग ने की बड़ी भविष्यवाणी

राहुल और कोहली ने कर ली है वापसी
राहुल और कोहली अपनी पोजिशन पर दावा करने के लिए वापस आ गए हैं, लेकिन एक बड़ा सवाल यह है कि क्या टी20 इंटरनेशनल की प्लेइंग इलेवन में उनकी स्थिति अस्थिर हो गई है? पिछले साल टी20 विश्व कप के बाद कोहली ने नौ महीने में केवल चार टी20 मैच खेले हैं, जिसमें 17, 52, 1 और 11 रन बनाए हैं. चेतन शर्मा की चयन समिति के लिए चैंपियन बल्लेबाज के खराब फॉर्म के बावजूद उन्हें टीम में लेना होगा.

रोहित ने भी खुद की बल्लेबाजी में किया बदलाव
इस मामले में बड़ा सवाल यह भी है कि क्या टीम प्रबंधन कोहली को अपने हिसाब से खेलने देगा या उन्हें पारी की शुरुआत से ही आक्रामक बल्लेबाजी करनी होगी. रोहित की कप्तानी में टीम आक्रामक बल्लेबाजी कर रही है. वह खुद भी आतिशी तेवर में बल्लेबाजी कर रहे है. टीम अब पूरी तरह से बदल गई है और यहां तक ​​कि कप्तान रोहित ने भी पावरप्ले बल्लेबाजी की जरूरतों के अनुरूप अपने खेल में बदलाव किया है. उन्होंने इसी दौरान 16 टी20 मैच खेले हैं और 145 के प्रभावशाली स्ट्राइक रेट से लगभग 450 रन बनाए हैं.

दीपक हुड्डा भी फॉर्म में, लेकिन जगह बनाना मुश्किल
इंग्लैंड सीरीज से रोहित ने पंत और सूर्यकुमार यादव के साथ दो अलग-अलग सीरीज में अपने शुरुआती साझेदार के रूप में 150 से अधिक स्ट्राइक-रेट पर रन बनाए हैं. दोनों उस नई स्थिति में सहज दिख रहे थे और हाल ही में समाप्त हुई वेस्टइंडीज सीरीज के दौरान सूर्यकुमार पंत से बेहतर थे. दीपक हुड्डा भी शानदार लय में है और उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ पारी का आगाज करते हुए शतक जड़ा था. हुड्डा ने तीसरे क्रम पर भी अच्छी बल्लेबाजी कर प्रभावित किया है. एशिया कप के शुरुआती मैचों में उनके लिए टीम में जगह बनाना मुश्किल होगा, लेकिन ऑफ स्पिन गेंदबाजी के कारण वह मजबूत विकल्प होंगे.

…तो महेंद्र सिंह धोनी की आईपीएल से भी हो जाएगी छुट्टी? बीसीसीआई का विदेशी लीग पर बड़ा फैसला

राहुल ने जिम्बाब्वे के खिलाफ ही कर ली वापसी
राहुल के बारे में पहले कहा गया था कि वह पूरी तरह से फिट नहीं है और एशिया कप से टीम में वापसी करेंगे, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ 28 अगस्त को टीम के पहले मैच को देखते हुए उन्हें मैच अभ्यास देने के लिए जिम्बाब्वे दौरे की टीम में जोड़ा गया. राहुल जिम्बाब्वे में शिखर धवन की जगह टीम का नेतृत्व करेंगे. टीम को हालांकि सबसे ज्यादा माथापच्ची ऋषभ पंत, सूर्यकुमार यादव और दिनेश कार्तिक में से किसी दो को चुनने पर करनी होगी.

राहुल आईपीएल की रन मशीन
अगर चयन समिति के करीबी सूत्रों की माने तो राहुल एशिया कप में ओपनिंग करेंगे, लेकिन वह पाकिस्तान के खिलाफ 28 अगस्त को एशिया कप में बिना प्रैक्टिस के जाने से थोड़े घबराए हुए हैं. इसलिए उन्होंने जिम्बाब्वे वनडे सीरीज में खुद को शामिल करवाया. (मेडिकल टीम ने घोषणा की कि वह अब फिट हैं, हालांकि पहले कहा गया था कि उनके ठीक होने में अधिक समय लगेगा). एशिया कप से पहले उन्हें तैयार होने के लिए लंबे समय तक बल्लेबाजी करने को मिलेगी. लेकिन राहुल अपने शानदार टी20 नंबरों के बावजूद हमेशा एक ऐसे खिलाड़ी रहे हैं, जो पहले 10 ओवरों में एक निश्चित गति से खेलते हैं और केवल अंतिम पांच ओवरों में ही आगे बढ़ते हैं. वह आईपीएल में वर्षों से एक अभूतपूर्व रन-मशीन रहे हैं और उनका अंतरराष्ट्रीय स्ट्राइक-रेट 142 है.

टूर्नामेंट में मैजिक फैक्टर के साथ निरंतरता भी जरूरी
54 खेलों में ऋषभ पंत का टी20 इंटरनेशनल स्ट्राइक-रेट 126 प्लस है. लेकिन बड़े टूर्नामेंट अक्सर निरंतरता के बारे में ज्यादा होते हैं. 1983 में कपिल देव के नाबाद 175 रन मैजिक हैं, जबकि युवराज सिंह के 369 रन और 2011 में 15 विकेट निरंतरता के बारे में हैं. दोनों की जरूरत है और इसलिए पंत को छोड़ने का मतलब है ‘मैजिक’ के विकल्प को खत्म करना.

सूर्यकुमार के मामले में, नॉटिंघम में उस पारी के बाद (जहां उन्होंने एक शानदार रन चेज किया) कोई भी उनके शामिल होने पर सवाल नहीं उठा सकता. वह रैंप शॉट खेल सकते हैं. अंतिम क्षण में अपनी कलाई की स्थिति को बदलकर एक शानदार छक्का मार सकते हैं या स्क्वायर के पीछे ‘पिक-अप पुल-शॉट’ खेल सकता हैं.

दिनेश कार्तिक की बात करें तो उन्होंने आईपीएल में फॉर्म में वापस आने के बाद से शायद ही कोई गलत कदम उठाया हो. जैसा कि कार्तिक ने खुद कहा था कि वह एक हाई रिस्क वाला गेम खेल रहे हैं, जिसमें वह कभी अच्छा करेंगे. और कभी ऐसा दिन भी होगा, जब वह अपना बेस्ट नहीं दे पाएंगे. कम मूवमेंट और यहां तक ​​कि उछाल वाले ऑस्ट्रेलियाई ट्रैक पर कार्तिक अच्छा करेंगे.

(भाषा के इनपुट के साथ)

Tags: Asia cup, Cricket news, Dinesh karthik, KL Rahul, Rishabh Pant, Suryakumar Yadav, T20 World Cup, T20 World Cup 2022, Virat Kohli

अगली ख़बर