Home /News /sports /

कप्तानी छोड़ने के बाद पहली बार सामने आए धोनी, बताया- क्यों विराट हैं कप्तानी के लिए तैयार?

कप्तानी छोड़ने के बाद पहली बार सामने आए धोनी, बताया- क्यों विराट हैं कप्तानी के लिए तैयार?

(Getty images)

(Getty images)

वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी शुक्रवार को पहली बार मीडिया के सामने आए। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया के हर बाउंसर पर बाउंड्री लगाते नजर आए। सभी सवालों के खुलकर जवाब दिए।

    पुणे। वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी शुक्रवार को पहली बार मीडिया के सामने आए। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया के हर बाउंसर पर बाउंड्री लगाते नजर आए। सभी सवालों के खुलकर जवाब दिए। चाहे वह कप्तानी छोड़ने से हों या फिर विराट कोहली से जुड़े हों। इस दौरान उन्होंने कहा- मैंने सही वक्त का इंतजार किया। विराट को इस लेवल तक आने पर मैंने कप्तानी छोड़ दी। हालांकि, एक तरीके से अब मैं अघोषित उपकप्तान हूं।

    इसलिए वनडे और टी-20 के लिए तैयार हैं विराट
    विकेट कीपर बैट्समैन धोनी ने कहा- मेरे लिए भारत में साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज आखिरी थी। इसी वजह से मैं जिम्बाब्वे गया। हमारे यहां स्प्लिट कैप्टेंसी ज्यादा काम नहीं करती है। टेस्ट से रिटायरमेंट के बाद भी मेरे इस विचार में कोई बदलाव नहीं आया। लिमिटेड ओवर की कप्तानी करना बड़ा चैलेंज नहीं है। मेरे हिसाब से विराट इसके लिए अब तैयार हैं। लोग चर्चा करते हैं कि कौन अच्छा कैप्टन है और कौन खराब कैप्टन है। मुझे लगता है कि मौजूदा टीम में तीनों फॉर्मेट में जीतने का दम है।

    अब क्या होगा धोनी का रोल?
    उन्होंने कहा- मैं मेंटर के तौर पर विकेट के पीछे से विराट को सुझाव देता रहूंगा। अब ये विराट पर निर्भर करता है कि वे मेरा सुझाव कितना मानते हैं। 100% की उम्मीद तो मैं भी नहीं करता हूं। सबसे ज्यादा जरूरी यह है कि उस खिलाड़ी में आपको कॉन्फिडेंस जगाना होता है ताकि वो परफॉर्म कर सके। वहीं, अपने बैटिंग ऑर्डर के बारे में बात करते हुए कहा- मेरे लिए जरूरी है कि टीम जीते। 4, 5, 6 या 7 जिस नंबर पर टीम को जरूरत हो मैं बैटिंग करने के लिए तैयार हूं।

    विकेट कीपर अघोषित उप कप्तान होता है
    अपनी भूमिका के बारे में पूछने पर धोनी ने कहा- विकेटकीपर तो हमेशा टीम का उपकप्तान होता है। चाहे टीम मैनेजमेंट उसे ये ओहदा दे या ना दे। मैं विकेट के पीछे मौजूद रहूंगा और जितनी मदद विराट की कर सकता हूं और सलाह दे सकता हूं वो मैं करूंगा। बतौर विकेटकीपर आपका पता होता है कि बैट्समैन क्या पोजिशन ले रहा है, बॉल किस तरह घूम रही है। वहीं, अपने फैसले के बारे में कहा- मैं जिंदगी में कभी भी पछतावा नहीं करता। ये मेरे लिए एक अच्छे सफर की तरह है। मैं अच्छे पीरियड से भी गुजरा और बुरे पीरियड से भी। जब सीनियर्स गए तो नए प्लेयर्स आए। उन्होंने खुद को साबित किया। ...और बाल तो अब बड़े नहीं होंगे।

    Tags: Cricket, England, India, Mahendra Singh Dhoni

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर