होम /न्यूज /खेल /

IND vs AUS: खुद जश्न मनाने की जगह कप्तान रहाणे ने एक-एक खिलाड़ी को गले लगाकर थपथपाई पीठ

IND vs AUS: खुद जश्न मनाने की जगह कप्तान रहाणे ने एक-एक खिलाड़ी को गले लगाकर थपथपाई पीठ

पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने अगले तीनों टेस्ट में जीत हासिल की.

पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने अगले तीनों टेस्ट में जीत हासिल की.

IND vs AUS, Gabba Win: भारत ने सीरीज अपने नाम करने के साथ ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) की गाबा में 32 वर्षों से चली आ रही बादशाहत भी खत्म कर दी. इस सीरीज जीत के बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने एक-एक खिलाड़ी को गले लगाकर शाबाशी और बधाई दी.

अधिक पढ़ें ...
    खुद जश्न मनाने की जगह कप्तान रहाणे ने एक-एक खिलाड़ी को गले लगाकर थपथपाई पीठनई दिल्ली. अपने दो युवा बल्लेबाजों शुभमन गिल (Shubman Gill) और ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की आकर्षक अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारत ने चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में तीन विकेट से ऐतिहासिक जीत दर्ज की. भारत ने सीरीज अपने नाम करने के साथ ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) की गाबा में 32 वर्षों से चली आ रही बादशाहत भी खत्म कर दी. इस सीरीज जीत के बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने एक-एक खिलाड़ी को गले लगाकर शाबाशी और बधाई दी.

    भारत ने एडिलेड में पहला टेस्ट मैच गंवाने के बाद शानदार वापसी की और ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर लगातार दूसरी बार सीरीज में 2-1 से हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने पास बरकरार रखी. भारत ने यह जीत तब दर्ज की जबकि उसके कई शीर्ष खिलाड़ी चोटिल होने या अन्य कारणों से टीम में नहीं थे. टीम इंडिया के विराट कोहली, इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, रविचंद्रन अश्विन, केएल राहुल, जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जडेजा जैसे सीनियर खिलाड़ी अलग-अलग वजहों से अंत तक टीम के साथ नहीं रह सके.



    India vs Australia: टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत पर बोले ऑस्ट्रेलियाई अखबार- न कोई बहाना, न जवाब

    पाकिस्तानी क्रिकेट फैंस बोले-भारत ही ऑस्ट्रेलिया को उसके घर पर हरा सकता है, पाकिस्तान के बस की बात नहीं

    ऐसे में टीम इंडिया ने युवा और अनुभवहीन खिलाड़ियों के दम पर ऑस्ट्रेलिया जैसी दिग्गज टीम को उसके घर में मात दी. इस जीत के बाद भारतीय खिलाड़ियों हाथों में तिरंगा लेकर गाबा मैदान का चक्कर लगाया और जश्न मनाया. इस दौरान कप्तान अजिंक्य रहाणे भी काफी खुश नजर आए और उन्होंने हर खिलाड़ी के गले लग कर बधाई दी और अपनी खुशी जाहिर की.









    बता दें कि शुभमन गिल शतक से चूक गए, लेकिन उन्होंने 91 रन की प्रवाहमय पारी खेली जबकि पंत ने आक्रामकता और रक्षण की अच्छी मिसाल पेश करके नाबाद 89 रन बनाए. भारत के सामने 328 रन का लक्ष्य था और उसने सात विकेट पर 329 रन बनाकर गाबा में अपनी पहली जीत दर्ज की. इन सबके बीच चेतेश्वर पुजारा की 211 गेंदों पर खेली गई 56 रन की पारी खेलकर फिर से अपना जुझारूपन दिखाया. उन्होंने अपने इन दोनों युवा साथियों को खुलकर खेलने का मौका दिया. पुजारा ने गिल के साथ 240 गेंदों पर 114 और पंत के साथ 141 गेंदों पर 61 रन की उपयोगी साझेदारियां की. ऑस्ट्रेलिया ने गाबा में आखिरी टेस्ट मैच 1988 में वेस्टइंडीज के खिलाफ गंवाया था. इसके बाद से उसे इस मैदान पर कभी हार नहीं मिली.undefined

    Tags: Ajinkya Rahane, Border Gavaskar Trophy, Brisbane Test, Gabba Test, India vs Australia, Rishabh Pant, Shubman gill

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर