LIVE NOW

Highlights, Ind Vs Aus, T20 Women Final: 99 रन पर ऑल आउट हुई टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया ने 5वीं बार जीता खिताब

लाइव क्रिकेट स्कोर (Live Cricket Score), India vs Australia, ICC Women T20 World cup final 2020 Live Match (इंडिया V ऑस्ट्रेलिया, महिला टी20 वर्ल्ड कप फाइनल २०२०): ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रन से मात दी

Hindi.news18.com | March 8, 2020, 3:47 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated March 8, 2020

आईसीसी महिला टी20 वर्ल्डकप, 2020

Final | 08 March, 2020 | मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी, मेलबर्न

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रनों से हराया

Man of the Match: एलिसा हीली

बल्लेबाज़RB4s6sSR
राजेशवरी गायकवाड130033.33
गेंदबाज़OMRWKTWDNBECON
मेगन शूट3.10184105.68
जेसिका जोनासेन40203205

हाइलाइट्स

3:47 pm (IST)
3:37 pm (IST)
पूनम यादव के रूप में भारत को आखिरी झटका लगा. शूट ने पूनम को गार्डनर के हाथों कैच आउट करवाकर भारत की पारी को 99 रनों पर ही समेट दिया. भारत 85 रन से मुकाबला हार गई. इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने पांचवीं बार खिताब अपने नाम कर लिया है.

3:32 pm (IST)
19वें ओवर की पहली गेंद पर जोनासन ने राधा यादव को मूनी के हाथों कैच आउट करवा दिया और इसी के साथ 97 रन पर भारत का 9वां विकेट भी गिर गया. 

3:30 pm (IST)
शूट ने अपने ओवर की शुरुआत राधा यादव को आउट करके किया, इसके बाद तीसरी गेंद पर उन्होंने ऋचा घोष को केरी के हाथों कैच करवाकर भारत को  8वां झटका दे दिया. घोष ने 18 रन की पारी खेली.

3:27 pm (IST)

मुकाबला भारत के  हाथ से लगभग अब निकल ही चुका है. शूट ने शिखा पांडे  को मूनी के हाथों कैच करवाकर भारत को 7वां झटका दिया. शूट की गेंद को 

शिखा ने एक्‍स्ट्रा कवर की ओर खेला, मगर शूट मिड ऑफ से दौड़ी और कैच लपक लिया.

3:23 pm (IST)
भारत की रही सही उम्‍मीद को भी केरी ने खत्म कर दिया. दीप्ति शर्मा ने केरी की लेंथ  बॉल पर लॉन्ग ऑन पर मूनी को कैच थमा दिया. दीप्ति ने 33 

रन की पारी खेली. 

3:19 pm (IST)

भारत के हाथ से मुकाबला साफ साफ निकलते नजर आ रहा है. 15 ओवर में टीम पांच विकेट के नुकसान पर सिर्फ 81 रन ही बना पाई. दीप्ति 28 और ऋचा

घोष 10 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रही हैं. भारत के सामने लक्ष्य काफी बड़ा है. ऐसे में  उन्हें आक्रामक बल्लेबाजी करने ही होगी. 

3:03 pm (IST)
दीप्ति और वेदा के बीच जो साझेदारी पनप रही थी, उसे डेलिसा ने तोड़ी. डेलिसा की गेंद पर जोनासन ने जम्प करके वेदा का सुपर कैच लिया. 58 रन पर  भारत ने अपने पांच विकेट गंवा दिए हैं. 

2:58 pm (IST)

शुरुआती झटकों के बाद दीप्ति शर्मा और वेदा कृष्‍णमूर्ति पारी  को संभालने की कोशिश कर रही है. दोनों ने मिलकर 10वें ओवर की चौथी गेंद पर भारत के 

50 रन पूरे कर दिए हैं. मगर दोनों को यहां पर आक्रामक बल्लेबाजी की जरूरत है.

2:44 pm (IST)

ऑस्ट्रेलियाई अटैक के आगे भारत का शीर्ष क्रम पूरी तरह से फ्लॉप रहा. भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर का खराब प्रदर्शन फाइनल में भी जारी  रहा.

जोनासन की गेंद पर हरमनप्रीत का बाहरी किनारा लगा और गेंद पर गार्डनर के हाथों में. आज  हरमनप्रीत का बर्थडे भी है, मगर वह इस दिन को यादगार नहीं बना

पाई. खराब प्रदर्शन के साथ इस टूर्नामेंट में भारतीय कप्तान का सफर खत्म हो गया. हरमनप्रीत चार रन ही बना पाई. 

LOAD MORE
मेलबर्न. भारत को 85 रन से हराकर ऑस्ट्रेलिया ने पांचवीं बार टी20 का खिताब अपने नाम  कर लिया है.  185 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम सिर्फ 99 रन ही बना सकी. भारत की शुरुआत काफी निराशजनक रही थी. पारी की तीसरी ही गेंद पर विस्फोटक बल्लेबाज शेफाली वर्मा दो रन पर आउट हो गई. इसके बाद तानिया भाटिया चोटिल हो गई और उन्हें रिटायर्ड हर्ट होना पड़ा. इन दो झटकों के तुरंत बाद दूसरे ओवर की आखिरी गेंद पर जेमिमा ने जोनासन की गेंद पर निकोला कैरी को कैच ‌थमा दिया. भारत इन झटकों से बाहर निकल भी नहीं पाया था कि चौथे ओवर की पहली गेंद पर अनुभवी बल्लेबाज स्‍मृति मंधाना भी अपना  विकेट गंवा बैठी. मंधाना के बाद कप्तान  हरमनप्रीत  कौर भी एक बार फिर फ्लॉप रही और 4 रन पर जोनासन की गेंद पर गार्डनर को कैच थमा दिया.

हालांकि इसके बाद दीप्ति शर्मा और वेदा कृष्‍णामूर्ति ने पारी को संभालने की कोशिश की, मगर वेदा का विकेट गिरते ही 28 रन की साझेदारी टूट गई. भारत ने इसके साथ ही 58 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद दीप्ति, शिखा पांडे, ऋचा घोष, राधा यादव और पूनम यादव के विकेट निर्धारित अंतराल पर गिरते रहे. भारत की आकर से सर्वाधिक 33 रन दीप्ति शर्मा ने बनाए.

इससे पहले एलिसा हीली और बेथ मूनी के शानदार अर्धशतक के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने भारत को जीत के लिए 185 रनों का लक्ष्य दिया था. हीली ने 75 और मूनी ने नाबाद 78 रनों की पारी खेली. हालांकि आखिरी के ओवर्स में गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया की रन गति को थोड़ा धीमा जरूर किया, मगर हीली  और मूनी ने भारत पर दबाव बनाने जितने रन स्कोरबोर्ड पर पहले ही टांग दिए थे.

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का फैसला किया. मगर भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. दीप्ति शर्मा के पहले ही ओवर में शेफाली वर्मा ने एलिसा हीली का बड़ा कैच कवर्स पर छोड़ दिया.  इसके बाद चौथे ओवर में राजेश्वरी गायकवाड़ ने अपनी ही तीसरी गेंद पर बेथ मूनी का कैच छोड़ दिया.  दोनों सलामी बल्लेबाजों को भारत ने जीवनदान दिया, जिसके बाद दोनों ने बड़ी पारी खेली. दोनों के बीच 115 रन की साझेदारी हुई. जिसे राधा यादव ने तोड़ा. राधा ने हीली  को डीप में वेदा कृष्‍णामूर्ति के हाथों कैच करवा दिया.

इसके बाद दी‌प्ति शर्मा ने एक ही ओवर में मेग लेनिंग और एशलीग गार्डनर का विकेट लेकर भारतीय फैंस को जश्न बनाने का मौका दिया. पूनम यादव ने 19वें ओवर में रिचेल हेंस ‌को अपना शिकार बनाया. हालांकि भारतीय गेंदबाजी आखिरी के ओवर में अपनी लय में लौटे.

टीम इंडिया प्लेइंग इलेवन: शेफाली वर्मा, स्‍मृति मंधाना, हरमनप्रीत  कौर, जेमिमा रोड्रिग्स, दीप्ति शर्मा, तानिया भाटिया, वेदा कृष्‍णामूर्ति, शिखा पांडे, राधा यादव, पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़

ऑस्ट्रेलियन प्लेइंग इलेवन: एलिसा हीली, बेथ मूनी, मेग लैनिंग, एशलीग गार्डनर, रेशल हैंस, जेस जोनासेन, सोफी मोलिनक, डेलिसा किमिन, निकोला कैरी, जॉर्जिया वेयरहम, मेगन शूट

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज