होम /न्यूज /खेल /पुजारा ने की रोहित-गिल की तारीफ, बोले- इनकी वजह से खेल पाया अपना स्वाभाविक खेल

पुजारा ने की रोहित-गिल की तारीफ, बोले- इनकी वजह से खेल पाया अपना स्वाभाविक खेल

IND vs ENG: दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में पुजारा 15 रन बनाकर रनआउट हुए (PIC: AP)

IND vs ENG: दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में पुजारा 15 रन बनाकर रनआउट हुए (PIC: AP)

IND vs AUS: टीम इंडिया के टेस्ट स्पेशलिस्ट पुजारा ने बताया कि कैसे शुभमन गिल (Shubman Gill) और रोहित शर्मा (Rohit Sharm ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम की नई ‘दीवार’ और साहसी खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को हाल ही में खत्म हुई बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) में कई बाउंसर्स का सामना करना पड़ा. भारतीय टीम को जीत दिलाने के लिए पुजारा करियर के लिए खतरा बनने वाले इन बाउंसर्स का सामना करते रहे, लेकिन मजबूती से क्रीज पर टिके रहे. ब्रिस्बेन के गाबा (Gabba Test) में खेले गए सीरीज के चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में पुजारा ने तकरीबन 11 बार अपने शरीर पर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की गेंदों को झेला. इस दौरान उन्हें कई बार फिजियो की जरूरत भी पड़ी, लेकिन पुजारा ने हार नहीं मानी. ‘रॉक ऑफ राजकोट’ ने इस तरह भारत को गाबा टेस्ट में जीत दिलाने में मदद की और भारत ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर लगातार दूसरी बार अपना कब्जा जमाया.

    चेतेश्वर पुजारा 2018-19 की ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) में खेली गई बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में ‘मैन ऑफ द सीरीज’ रहे थे. उस दौरान भी उन्होंने सीरीज में जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. इस बार पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में 271 रन बनाए और भारत की तरफ से दूसरे अधिकतम रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे. इस सीरीज के अंतिम तीन मैचों की कप्तानी अजिंक्य रहाणे कर रहे थे, क्योंकि एडिलेड टेस्ट के बाद विराट कोहली पैटरनिटी लीव पर थे. ऑस्ट्रेलिया में मिली जीत में अहम योगदान देने वाले पुजारा ने हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में खुद को लाइमलाइट से दूर कर भारतीय ओपनर जोड़ी रोहित शर्मा और शुभमन गिल की जमकर तारीफ की.

    IND VS ENG: भारतीय टीम ने पास किया पहला कोरोना टेस्ट, बीसीसीआई ने दिया बड़ा ‘तोहफा’

    टीम इंडिया के टेस्ट स्पेशलिस्ट पुजारा ने बताया कि कैसे शुभमन गिल (Shubman Gill) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की आक्रमणकारी बल्लेबाजी शैली ने उन्हें टिम पेन की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई के खिलाफ अपना स्वाभाविक खेल खेलने का रास्ता दिया. उन्होंने कहा कि उन्हें आक्रामक खिलाड़ी जैसे रोहित और शुभमन के साथ खेलने में मजा आता है. पुजारा ने कहा, ”ये दोनों ही आक्रामक खिलाड़ी हैं, जो किसी रूप में मेरी मदद करते हैं. अगर आपका दूसरा साथी गेंदबाज के साथ आक्रामक खेलता है तो इससे मुझे अपना स्वाभाविक खेल खेलने में मदद मिलती है.”

    हैम्स्ट्रिंग इंजरी से उबरने के बाद रोहित शर्मा सिडनी में खेले गए तीसरे और गाबा में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में भारतीय टीम का हिस्सा बने थे. वहीं, शुभमन गिल ने पृथ्वी शॉ के खराब परफॉर्मेंस के बाद इस सीरीज में अपना टेस्ट डेब्यू किया था. शुभमन के लिए यह सीरीज शानदार और यादगार रही. उन्होंने 3 टेस्ट में 247 रन बनाए. इनमें दो अर्द्धशतक शामिल हैं. गाबा टेस्ट मैच की दूसरी पारी में शुभमन ने 91 रन की पारी खेली, जिसने भारत के लिए जीत के रास्ते खोले.

    IND VS ENG: इंग्लैंड के खेमे में जसप्रीत बुमराह का खौफ, कहा- उनके खिलाफ तैयारी करना बेहद मुश्किल

    इस दौरान पुजारा ने टीम इंडिया के लिए अपने करियर के शुरुआती चरण के दौरान महान सलामी बल्लेबाज और पूर्व भारतीय कप्तान वीरेंद्र सहवाग के साथ बल्लेबाजी को याद किया गया. उन्होंने कहा, ”मैंने वीरू पाजी (वीरेंद्र सहवाग) के साथ भी बल्लेबाजी की है. जहां वह अपनी खतरनाक बल्लेबाजी से विरोधी टीम के गेंदबाजों पर दबाव बनाए रखते थे. साझेदारी बनाने का यह एक शानदार तरीका है.”

    Tags: Border Gavaskar Trophy, Cheteshwar Pujara, Cricket news, India vs Australia, Rohit sharma, Shubman gill

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें