अपना शहर चुनें

States

IND vs AUS: स्टीव वॉ ने अनिल कुंबले को बताया 'भारत की बॉलिंग का राहुल द्रविड़'

स्टीव वॉ ने अनिल कुंबले की जमकर तारीफ की (Anil Kumble/Instagram)
स्टीव वॉ ने अनिल कुंबले की जमकर तारीफ की (Anil Kumble/Instagram)

यह अनिल कुंबले का ही प्रभाव था कि स्टीव वॉ को लगता है कि राहुल द्रविड़ की बल्लेबाजी के बराबर गेंदबाजी कर रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 9:58 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इसमें कोई शक नहीं है कि ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव वॉ (Steve Waugh) की कप्तानी में अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेला है. पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 57 टेस्ट मैचों की कप्तानी की है और उनकी जीत का प्रतिशत 72 रहा है. उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 41 जीत हासिल की है. स्टीव 19997 में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान बने और 2004 में रिटायर होने तक कंगारू टीम के कप्तान रहे. उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार 16 टेस्ट मैच जीतने का रिकॉर्ड बनाया था, जिसे भारत ने मार्च 2001 में तोड़ा था.

ऑस्ट्रेलिया के लिए 168 टेस्ट मैच खेलने वाले स्टीव वॉ कुछ वक्त पहले ही भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की जमकर तारीफ की है. अब उन्होंने पूर्व भारतीय लेग स्पिनर अनिल कुंबले (Anil Kumble) के बारे में बात की है. वॉ ने बताया कि ऐसा क्या है, जो कुंबले को लीजेंड बनाता है.

अमिताभ बच्चन ने शेयर की भविष्य की महिला क्रिकेट टीम, क्या जीवा बनेंगी कप्तान?



क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू पर शेयर एक वीडियो में स्टीव वॉ ने कहा, ''मुझे नहीं लगता कि मैंने किसी भी ऐसे शख्स के खिलाफ खेला है, जिसने अनिल कुंबले जितना देश के खिलाफ खेलने का आनंद लिया है. वह उनके लिए सबकुछ था. हम अचानक उन्हें एक लेग स्पिनर की तरह नहीं खेल रहे थे. हमने उन्हें धीमी गति के गेंदबाज की तरह खेल रहे थे.''



स्टीन वॉ ने कहा, ''उनके पास गति का एक महान परिवर्तन था. यह सब वैरिएशन के बारे में था, क्रीज के इस्तेमाल के बारे में था. उन्होंने इन दोनों को थोड़ा मिक्स किया था. विकेट में भी कुछ खुरदरापन या असमानता जैसा कुछ था. और उनके पास कई ट्रिक थीं.'' कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में 619 विकेट लिए हैं. वह भारतीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. वहीं, टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले वह तीसरे गेंदबाज हैं. इस लिस्ट में उनसे आगे श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरण और ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न हैं.

अनिल कुंबले ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 20 टेस्ट मैचो में 21.33 की औसत से 111 विकेट झटके हैं. इसमें 10 बार उन्होंने 5 विकेट लेने का कारनामा भी किया है. 2003-04 की बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में (स्टीव वॉ की अंतिम सीरीज थी) कुंबले ने तीन टेस्ट मैचों में 24 विकेट हासिल किए थे. यह अनिल कुंबले का ही प्रभाव था कि स्टीव वॉ को लगता है कि राहुल द्रविड़ की बल्लेबाजी के बराबर गेंदबाजी कर रहे थे.

Syed Mushtaq Ali: 19 साल के यशस्‍वी ने श्रीसंत की गेंदों पर जमकर उड़ाए चौके- छक्‍के, खेली आतिशी पारी

स्टीव वॉ ने आगे कहा, ''अनिल कुंबले एक भयंकर प्रतिद्वंदी थे. वह हमेशा आप पर भारी थे और आपको कभी एक इंच भी नहीं दिया. मैंने उन्हें हमारे खिलाफ कभी खराब गेंदबाजी करते हुए नहीं देखा. वह बॉलिंग लाइन अप में कुछ-कुछ राहुल द्रविड़ की तरह थे. कप्तान जानते थे कि उन्हें अनिल कुंबले से क्या मिलेगा. वह हमेशा वहां टीम के साथ थे.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज