IND vs AUS: ‘घर के शेर’ हैं भारत के बल्लेबाज, देखिए पिछले 10 मैच का रिपोर्ट कार्ड

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में सिर्फ एक बार 250 रन से ज्यादा बना सकी है.

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में सिर्फ एक बार 250 रन से ज्यादा बना सकी है.

लगता है कि भारतीय बल्लेबाज (Indian Batsman) आज भी ‘घर के शेर’ हैं. पिछले 10 टेस्ट मैच के आंकड़े इस बात पर मुहर लगाते हैं. इन 10 मैच में 5 देश और 5 विदेश में खेले गए हैं. भारतीय टीम विदेश में 5 मैच में सिर्फ एक पारी में 250 रन का आंकड़ा पार कर सकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 9:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बहुत पुरानी बात नहीं है जब भारतीय टीम (Team India) को ‘घर का शेर’ कहा जाता था. सौरव गांगुली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने यह छवि बदलनी शुरू की, जिसे अंजाम तक एमएस धोनी की टीम ने पहुंचाया. अगर आप भारतीय क्रिकेट पर बारीक नजर रखते हैं तो यह भी जानते होंगे कि ‘घर का शेर’ वाली छवि बदलने में सबसे अहम भूमिका गेंदबाजों की रही है. भारतीय बल्लेबाज (Indian Batsman) तो लगता है कि आज भी ‘घर के शेर’ ही हैं. कम से कम पिछले 10 टेस्ट मैचों के आंकड़े इस बात पर मुहर लगाते हैं. इत्तफाक से इन 10 मैचों में 5 देश और इतने ही विदेश में खेले गए हैं.

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) इस समय ऑस्ट्रेलिया दौरे (India vs Australia) पर है. दोनों टीमों के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border-Gavaskar Trophy) की लड़ाई चल रही है. सीरीज का पहला मैच ऑस्ट्रेलिया और दूसरा मैच भारत ने जीता. अब यह जंग सिडनी जा पहुंची है, जहां तीसरा टेस्ट मैच (IND vs AUS 3rd Test) खेला जा रहा है और भारत के सामने हार मुंह बाए खड़ी है.

Youtube Video


भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में 244 रन बनाकर आउट हो गई. सिडनी की पिच बल्लेबाजों के मुफीद मानी जाती है. ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 338 रन बनाकर दिखा दिया था कि इस पिच पर बड़ा स्कोर संभव है. लेकिन जब भारतीय बल्लेबाज आए तो फिर वही ढाक के तीन पात. भारतीय टीम ठीक-ठाक शुरुआत के बाद फिर समर्पण कर बैठी. एक समय जो टीम 4 विकेट पर 195 रन बनाकर खेल रही थी, वह 244 रन बनाकर पैवेलियन जा बैठी.
यह भी पढ़ें: IND vs AUS: भारत ने बनाया खराब रिकॉर्ड, एक पारी में 3 बल्लेबाज रन आउट हुए

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब भारतीय टीम ने विरोधी गेंदबाजों के सामने सरेंडर किया है. दरअसल, विदेश में अक्सर यही होता है. वह तो भला हो गेंदबाजों का, जो बल्लेबाजों के शर्मनाक प्रदर्शन को भी अपने लाजवाब प्रदर्शन में छिपा जाते हैं. बहुत पीछे जाने की जरूरत नहीं है. मौजूदा भारतीय टीम में ही मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार नहीं हैं. जबकि बल्लेबाजों में विराट कोहली को छोड़ दें तो यह नहीं कह सकते कि कोई अन्य प्रमुख बल्लेबाज चोट या किसी और कारण से बाहर है.

भारत के बल्लेबाजों के प्रदर्शन को अगर हम देश और विदेश के पैमाने पर देखें तो जमीन-आसमान का अंतर दिखता है. अक्टूबर 2019 से अब तक की बात करें तो भारत 10वां टेस्ट मैच खेल रहा है. भारतीय टीम ने इनमें से पहले 5 मैच भारत में खेले. वह इनमें से एक भी मैच में ऑलआउट नहीं हुई. साल 2019 में खेले गए इन पांचों मैच में भारत ने या तो पारी के अंतर से जीत दर्ज की या 200 रन से. (देखें टेबल)



भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में 244 रन बनाकर आउट हो गई.
भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट में 244 रन बनाकर आउट हो गई.


जो भारतीय टीम 2019 में घर में शानदार जीत दर्ज कर रही थी, वही 2020 में विदेश जाते ही बुरी तरह शिकस्त खाने लगी. हार-जीत तो किसी भी खेल का हिस्सा है, लेकिन विदेश जाते ही भारतीय बल्लेबाजों ने जो समर्पण किया, वह टीम इंडिया के प्रशंसकों का दिल दुखाने वाला रहा. भारतीय टीम 2020 में दो मैच न्यूजीलैंड और दो मैच ऑस्ट्रेलिया में खेली. उसने इन मैचों में सिर्फ एक बार 300 का आंकड़ा पार किया और वह मैच जीत भी गई. बाकी तीनों मैच हार गई. स्पष्ट है कि यदि बल्लेबाज टीम को ठीक-ठाक स्कोर देते हैं तो गेंदबाज उसे जीत में तब्दील करने में माहिर हैं.

यह भी पढ़ें: IND VS AUS: जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज पर नस्लीय टिप्पणी, सिडनी में दी गई भद्दी गालियां

अब भारतीय टीम सिडनी में टेस्ट मैच खेल रही है. यह अक्टूबर 2019 के बाद से भारत का 10वां टेस्ट मैच है. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया भारत पर 197 रन की बढ़त ले चुका है और दूसरी पारी में उसके 8 विकेट बाकी हैं. ऐसा लग रहा है कि भारत को 300 रन से बड़ा टारगेट मिलने वाला है. अब देखना होगा कि टीम इंडिया के बल्लेबाज सिडनी टेस्ट की चौथी पारी में अपने प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरा उतरते हैं या फिर समर्पण करते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज