IND vs END: अश्विन vs रूट-स्टोक्स और आर्चर vs ‘विराट ब्रिगेड’! बहुत दिलचस्प होंगे ये मुकाबले

India vs England: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज शुरू हो चुकी है.

India vs England: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज शुरू हो चुकी है.

India vs England: भारत और इंग्लैंड के बीच बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज शुरू हो चुकी है. इस सीरीज में तीन मुकाबलों पर सबकी नजर है. पहला- रविचंद्रन अश्विन बनाम जो रूट-बेन स्टोक्स, दूसरा जेम्स एंडरसन आर्चर बनाम कोहली-रोहित और जोफ्रा आर्चर बनाम गिल-पुजारा-रहाणे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 3:41 PM IST
  • Share this:
भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज शुरू हो चुकी है. इस सीरीज में तीन मुकाबलों पर सबकी नजर है. पहला- रविचंद्रन अश्विन बनाम जो रूट-बेन स्टोक्स, दूसरा जेम्स एंडरसन आर्चर बनाम कोहली-रोहित और जोफ्रा आर्चर बनाम गिल-पुजारा-रहाणे. इंग्लैंड इन दिनों अपने तेज क्रिकेटरों के लिए रोटेशन पॉलिसी अपना रहा है. इसके तहत एंडरसन, ब्रॉड, क्रिस वोक्स और सैम करेन को कुछ मैचों में रेस्ट दिया जाना तय है. लेकिन आर्चर को सभी चार टेस्ट मैचों में मौका दिया जाना तय लग रहा है. भारत के कई खिलाड़ी चोट के बाद वापसी कर रहे हैं. ऐसे में किसी खिलाड़ी को रेस्ट दिए जाने की उम्मीद कम है.

अश्विन बनाम जो रूट-बेन स्टोक्स

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का ऑस्ट्रेलिया दौरे पर प्रदर्शन याद करें तो सबसे पहले उनकी जुझारू बैटिंग याद आती है. उन्होंने सिडनी टेस्ट में बड़ी बहादुरी के साथ बैटिंग कर भारत को हार से बचाया था. लेकिन ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अश्विन की इससे भी बड़ी कामयाबी स्टीव स्मिथ और मार्नस लैबुशेन को खामोश रखना था. भारतीय टीम उम्मीद कर रही होगी कि वे इंग्लैंड के खिलाफ भी ऐसा ही प्रदर्शन करें, खासकर जो रूट और बेन स्टोक्स के खिलाफ, जो स्वीप शॉट बड़ी खूबसूरती से खेलते हैं.

जोफ्रा आर्चर बनाम पुजारा-रहाणे
जोफ्रा आर्चर पिछले सालों में दुनिया के सबसे खतरनाक गेंदबाज बनकर उभरे हैं. एशेज 2019 में आर्चर और स्टीव स्मिथ के मुकाबले ने दुनियाभर का ध्यान खींचा था. स्मिथ ने उस सीरीज में 700 से ज्यादा रन बनाए, लेकिन आर्चर के सामने कभी भी पूरे नियंत्रण से बैटिंग करते नहीं दिखे. हालांकि, अभी यह पूरे यकीन के साथ नहीं कहा जा सकता कि आर्चर उसी अंदाज में भारतीय बल्लेबाजों को परेशान कर पाएंगे. हाल ही में गिल, पुजारा और रहाणे ने स्टार्क-कमिंस-हेजलवुड के ऑस्ट्रेलियाई अटैक को भोथरा साबित किया था. आर्चर के पास आईपीएल में ही सही, लेकिन भारत में खेलने का भरपूर अनुभव है. इंग्लिश कप्तान जो रूट को उम्मीद रहेगी कि आर्चर इसका फायदा उठाने में कामयाब रहेंगे.

एंडरसन-ब्रॉड बनाम रोहित-कोहली

लेट स्विंग अगर नियंत्रित तरीके से की जाए तो वह अच्छे-अच्छे बल्लेबाजों को संकट में डाल देती है. इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड को ऐसी गेंद करने में महारत हासिल है. ये दोनों गेंदबाज मिलकर 1000 से अधिक टेस्ट विकेट ले चुके हैं. यकीनन, भारतीय पिचों पर उन्हें ज्यादा मदद नहीं मिलेगी, लेकिन इंग्लिश टीम उम्मीद कर रहेगी कि वे विराट कोहली और रोहित शर्मा के विकेट दिला सकेंगे. ये दोनों ऐसे बल्लेबाज हैं, जो पुजारा या रहाणे के मुकाबले शॉट खेलने के मौके की तलाश में ज्यादा रहते हैं. ऐसे में लेट स्विंग उन्हें परेशान कर सकती है. कम से कम इंग्लैंड तो यही उम्मीद कर रहा होगा.



यह भी पढ़ें: IND VS ENG: जो रूट ने ठोका स्पेशल अर्धशतक, भारतीय खिलाड़ी ने की आधार कार्ड बनाने की बात

तो यह तय मान लीजिए कि यह मुकाबला सिर्फ दो टीमों के बीच नहीं है. टीमों के मुकाबले के बीच कुछ खिलाड़ियों के बीच आपस में भी एक जंग चलती रहेगी. अब देखना यह है कि खिलाड़ियों की इस जंग में कौन बाजी मारता है और किस टीम को इसका फायदा मिलता है.

(डिस्क्लेमर: यह लेखक के निजी विचार हैं.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज