IND vs ENG: अक्षर पटेल ने 33 साल बाद दिलाई नरेंद्र हिरवानी की याद, दिखाया वैसा ही जादू

पिंक बॉल टेस्ट में आमतौर पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है. लेकिन अहमदाबाद में अक्षर पटेल ने 6 विकेट झटककर कमाल किया. फोटो: पीटीआई

पिंक बॉल टेस्ट में आमतौर पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है. लेकिन अहमदाबाद में अक्षर पटेल ने 6 विकेट झटककर कमाल किया. फोटो: पीटीआई

IND vs ENG, Axar Patel magic: डे नाइट टेस्ट मैच के पहले दिन ही स्पिनरों ने दिखा दिया कि ये मैच पहले हुए मैच से अलग होगा. खासकर स्पिनर अक्षर पटेल ने जिस तरह से प्रदर्शन किया, उसे देखकर क्रिकेट फैंस को 1988 में नरेंद्र हिरवानी के प्रदर्शन की याद आ गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 8:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में टीम इंडिया ने तीसरे टेस्ट मैच में पहले ही दिन घुटनों पर ला दिया. खासकर टीम के स्पिनरों ने सभी आशंकाओं को पीछे छोडते हुए इंग्लिश टीम के 9 खिलाडियों को आउट किया. तेज गेंदबाजों में सिर्फ ईशांत शर्मा को एक विकेट मिला. मैच में कमाल किया अक्षर पटेल ने. चेन्नई में डेब्यू करने वाले अक्षर ने अपने दूसरे टेस्ट में भी इंग्लैंड को परेशान कर दिया. अक्षर ने 21.4 ओवर में 38 रन देकर 6 विकेट लिए. उम्मीद है कि वह दूसरी पारी में भी ऐसा ही कुछ कमाल करेंगे. अक्षर पटेल ने अपनी दमदार परफॉर्मेंस से टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर नरेंद्र हिरवानी की याद दिला दी है.

अक्षर पटेल ने अब तक अपने दो टेस्ट में तीन पारियों में ही (इसमें एक पारी बाकी है) 13 विकेट झटक लिए हैं. उन्होंने अपने पहले टेस्ट में एक पारी में 5 विकेट लिए थे. वहीं अपने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में 6 विकेट झटक लिए हैं. अगर नरेंद्र हिरवानी और अक्षर पटेल की स्टाइल की बात करें तो दोनों अलग अलग हैं. अक्षर पटेल स्लो लेफ्ट आर्म गेंदबाज हैं. वहीं नरेंद्र हिरवानी लेग ब्रेक गेंद करते थे. उन्होंने अपने पहले ही मैच में 16 विकेट झटककर पूरी दुनिया को चौंका दिया. ये विकेट उन्हेांने वेस्ट इंडीज जैसी टीम के खिलाफ लिए थे.

तब हिरवानी ने अपने डेब्यू मैच में ले लिए थे 16 विकेट
1988 में वेस्ट इंडीज टीम भारत के दौरे पर आई थी. चौथा टेस्ट चेन्नई में खेला जा रहा था. इस मैच में भारत ने नरेंद्र हिरवानी को मौका दिया. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 382 रन बनाए. इसके जवाब में जब वेस्ट इंडीज बल्लेबाजी करने उतरी तो उनका सामना एक नए नवेले स्पिनर नरेंद्र हिरवानी से हुआ. हिरवानी ने 18.3 ओवर में 61 रन देकर 8 विकेट झटक लिए. वेस्ट इंडीज 184 रनों पर आउट हो गई. दूसरी पारी में भारत ने 217 रन बनाकर पारी घोषित कर दी. वेस्ट इंडीज की जब दूसरी पारी शुरू हुई तब भी वही कहानी दोहराई गई और हिरवानी ने 15.2 ओवर में 75 रन देकर फिर से 8 विकेट ले लिए.
अक्षर को 38 वनडे मैच के बाद मिला टेस्ट में मौका


अक्षर पटेल को 38 वनडे मैच खेलने के बाद टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला है. पहले मैच में उन्होंने 7 विकेट लिए, लेकिन दूसरे मैच में अब तक 6 विकेट ले लिए हैं. दूसरी पारी में वह कुछ इसी तरह का इतिहास रच सकते हैं.

लंबा नहीं चला हिरवानी का करियर
नरेंद्र हिरवानी ने पहले ही मैच में 16 विकेट लेकर क्रिकेट प्रेमियों को हैरत में डाल दिया था. लेकिन इसके बाद उनका करियर ज्यादा लंबा नहीं चला. उन्होंने भारत की ओर से 17 टेस्ट मैच खेले. इन मैचों में 66 विकेट लिए. हिरवानी ने 1996 में अफ्रीका के खिलाफ अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज