फिनिशर की भूमिका में नजर आए सैम करेन, कप्तान जोस बटलर को दिखी धोनी की झलक

सैम करेन ने भारत के खिलाफ 95 रन की नाबाद पारी खेली, उन्हें इसके लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया (Twitter)

सैम करेन ने भारत के खिलाफ 95 रन की नाबाद पारी खेली, उन्हें इसके लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया (Twitter)

सैम भारत के खिलाफ निर्णायक वनडे में फिनिशर की भूमिका में नजर आए जिसके लिए महेंद्र सिंह धोनी जाने जाते हैं. सैम ने अंत तक इंग्लैंड की जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा. कार्यवाहक कप्तान जोस बटलर को भी उनमें धोनी की झलक नजर आई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2021, 11:12 AM IST
  • Share this:
पुणे. भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को सीरीज के तीसरे वनडे (IND vs ENG 3rd ODI) में रविवार को सात रन से हरा दिया. इस जीत के साथ मेजबान टीम ने सीरीज भी 2-1 से जीत ली. मुकाबले में एक वक्त सैम करेन (Sam Curran) ने भारत के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी थीं लेकिन गेंदबाजों ने उन्हें जीत से दूर रखा. जब मैच के बाद इंग्लैंड के कार्यवाहक कप्तान जोस बटलर (Jos Buttler) से सैम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस बल्लेबाज में महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की झलक नजर आई.

पुणे के एमसीए स्टेडियम में भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और एक बार फिर 300 से ज्यादा का स्कोर बनाया. भारतीय पारी 48.2 ओवर में 329 रन पर सिमटी. टीम इंडिया को रोहित शर्मा (37) और शिखर धवन (67) ने शानदार शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 103 रन जोड़े. फिर विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (78) ने अपने वनडे करियर का बेस्ट स्कोर बनाया और हार्दिक पंड्या के साथ पांचवें विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी भी की. हार्दिक ने भी 64 रन की बेहतरीन पारी खेली. इंग्लैंड के पेसर मार्क वुड ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए.

इसे भी देखें, शार्दुल की गेंद पर विराट कोहली ने लपका करिश्माई कैच और पलट गया मैच

330 रन के टारगेट का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने 9 विकेट खोकर 322 रन बनाए लेकिन जीत से केवल 7 रन दूर रह गई. सैम करन अंत तक क्रीज पर टिके रहे और उन्होंने 83 गेंदों की अपनी पारी में 9 चौके, 3 छक्के जड़े. सैम ने 95 रन बनाए. उनके अलावा डेविड मलान ने 50 रन का योगदान दिया. भारत के पेसर शार्दुल ठाकुर ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए जबकि भुवनेश्वर कुमार को तीन विकेट मिले. सैम को उनकी जुझारू पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.
सैम भारत के खिलाफ निर्णायक वनडे में फिनिशर की भूमिका में नजर आए जिसके लिए महेंद्र सिंह धोनी जाने जाते हैं. सैम ने अंत तक इंग्लैंड की जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा. मेहमान टीम 200 रन पर सात विकेट खो चुकी थी और जीत के लिए उसे 130 रन और चाहिए थे. ऐसे में हर कोई यही मान रहा था कि भारतीय गेंदबाज आसानी से तीन विकेट और निकालकर जीत दिला देंगे लेकिन सैम इतनी आसानी से लौटने वाले नहीं थे.सैम ने निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ स्कोर को आगे बढ़ाया और वह अंत तक जमे रहे. उन्हें देखकर टीम के कार्यवाहक कप्तान जोस बटलर तक को लगा कि क्रीज पर सैम नहीं बल्कि महेंद्र सिंह धोनी जमे हैं. मैच के बाद बटलर ने कहा कि इस मैच के बारे में सैम करेन से बात करने के लिए धोनी सबसे सही शख्स होंगे। उन्होंने कहा कि सैम भी अपनी इस पारी के बाद धोनी से बात करना चाहेंगे.

बटलर ने कहा, 'मुझे पूरा यकीन है कि सैम अपनी इस पारी के बारे में महेंद्र सिंह धोनी से बात करना चाहेंगे. जिस तरह वह खेल रहे थे, ऐसे ही लग रहे थे कि धोनी ऐसी परिस्थितियों में मैदान पर जमते. आज के मैच के बारे में बात करने के लिए वह सैम के लिए सही व्यक्ति होंगे. सभी जानते हैं कि वह कितने अच्छे फिनिशर हैं. धोनी के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने से आप काफी कुछ सीख सकते हैं.'

सैम इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के पिछले सीजन में धोनी की कप्तानी वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के लिए खेल चुके हैं. उन्होंने तब भी अच्छा प्रदर्शन किया और इसी के चलते उन्हें चेन्नई की टीम मैनेजमेंट ने कभी टॉप ऑर्डर में तो कभी फिनिशर की भूमिका में उतारा. सैम के करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक 21 टेस्ट, 8 वनडे और 13 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. पुणे में तीसरे वनडे में उन्होंने इस फॉर्मेट का अपना बेस्ट स्कोर बनाया. उन्होंने टेस्ट में 741 रन बनाने के अलावा 44 विकेट झटके हैं जबकि वनडे में उनके नाम 132 रन और 7 विकेट हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज