IND VS ENG: इंग्लिश मीडिया ने कहा पिच खराब थी- टीम इंडिया के अंक काटे जाने चाहिए

इंग्लैंड की टीम ने सीरीज का पहला मैच जीता लेकिन अंतिम दोनों मैच हार गई.

इंग्लैंड की टीम ने सीरीज का पहला मैच जीता लेकिन अंतिम दोनों मैच हार गई.

IND VS ENG: भारत और इंग्लैंड के बीच मोटेरा में खेला गया दूसरा टेस्ट दो ही दिन में खत्म हो गया. इसके बाद से भारतीय पिच पर सवाल खड़े हो रहे हैं. हालांकि अंतिम फैसला आईसीसी को लेना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 8:39 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच मोटेरा (Motera Test) में खेला गया तीसरा टेस्ट दो दिन में खत्म हो गया. मैच के दो दिन में पूरा होने पर हालांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली और इंग्लिश कप्तान जो रूट ने सीधे तौर पर पिच को दोष नहीं दिया. इंग्लिश टीम इस हार के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की रेस से बाहर हो गई. चार मैच की सीरीज में टीम इंडिया 2-1 से आगे है. अंतिम मैच 4 मार्च से इसी मैदान पर होना है. टीम इंडिया को फाइनल में पहुंचने के लिए अंतिम टेस्ट को सिर्फ ड्रॉ करने की जरूरत है.

इंग्लिश मीडिया हालांकि इस हार को पचा नहीं पा रहा है और पिच पर दोष देने में जुटा है. टेलीग्राफ ने लिखा, यह पिच खेलने के लिहाज से पूरी तरह अनफिट थी. मैच दो ही दिन में पूरा हो गया. टीम इंडिया के वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के अंक भी काटे जाने चाहिए और पिच पर भी बैन लगना चाहिए. हालांकि टेलीग्राफ ने आगे कहा कि इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड शायद ही पिच को लेकर आईसीसी से कोई आधिकारिक शिकायत करेगा. इसके दो कारण हैं. पहला, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल नजदीक है. अंतिम मैच भी मोटेरा के मैदान पर ही होना है. ऐसे में वेन्यू को लेकर सवाल नहीं उठाया जा सकता. दूसरा, इस साल टीम इंडिया को भी इंग्लैंड का दौरा करना है और पांच मैचों की टेस्ट सीरीज होनी है. अगर इंग्लैंड पिच को लेकर आईसीसी से शिकायत करता है तो भारत दौरे के लिए मना कर सकता है और इसका सीधा असर इंग्लिश बोर्ड के रेवेन्यू पर पड़ेगा. ऐसे में मुमकिन थोड़े-बहुत शोर-शराबे के बीच यह मामला अधिक तूल नहीं पकड़ने वाला.

वहीं, गार्डियन ने पिच से अधिक सवाल टीम मैनेंजमेंट पर उठाए हैं. अखबार ने लिखा, टीम इसके पहले चेन्नई की पिच पर भी स्पिन गेंदबाजों का अच्छे से सामना नहीं कर सकी थी. इसके अलावा टीम के चयन में भी गड़बड़ी हुई. टीम इंडिया ने जहां तीन स्पिन गेंदबाजों को उतारा तो इंग्लैंड सिर्फ एक स्पिन गेंदबाज के साथ उतरी. हमारे बल्लेबाजों को स्पिन गेंदबाजों के सामने बल्लेबाजी करना सीखना होगा. इसके अलावा बीबीसी ने लिखा कि टीम इंडिया ने दो ही दिन में इंग्लैंड पर आसान जीत दर्ज की. हालांकि दोनों ही टीमें इस पर पिच पर अच्छा नहीं खेल सकीं. टीम इंडिया भी पहली पारी में सिर्फ 145 रन ही बना सकी.  इंग्लैंड की टीम टॉस जीतकर पहली पारी में बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर सकी, यह भी हार का मुख्य कारण रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज