• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IND vs ENG: 'टीम को लगता है कि पुजारा का तरीका सही नहीं तो वे किसी और को आजमा सकते हैं'

IND vs ENG: 'टीम को लगता है कि पुजारा का तरीका सही नहीं तो वे किसी और को आजमा सकते हैं'

IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में चेतेश्वर पुजारा से काफी उम्मीद जताई जा रही है (PIC: AP)

IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में चेतेश्वर पुजारा से काफी उम्मीद जताई जा रही है (PIC: AP)

IND vs ENG: मजबूत डिफेंस और तकनीक के लिए पहचाने जाने वाले चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को खराब गेंदों पर रन नहीं बना पाने के कारण हाल के वर्षों में आलोचना का सामना करना पड़ा है.

  • Share this:

    मुंबई. महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने दबाव का सामना कर रहे चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) का इंग्लैंड के खिलाफ (India vs Engalnd) एक छोर पर डटे रहने के लिए समर्थन किया है, लेकिन कहा कि अगर भारतीय टीम को लगता है कि उनका खेलने का तरीका काम नहीं कर रहा है तो वह ‘किसी और’ को आजमा सकते हैं. मजबूत डिफेंस और तकनीक के लिए पहचाने जाने वाले पुजारा को खराब गेंदों पर रन नहीं बना पाने के कारण हाल के वर्षों में आलोचना का सामना करना पड़ा है. उन्हें हाल में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WET) फाइनल के दौरान भी आलोचना की सामना करना पड़ा था.

    सुनील गावस्कर ने सोमवार को एक वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ”पुजारा ने एक निश्चित तरीके से खेलने के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जगह बनाई है, उसे उस तरीके पर विश्वास रखना होगा. अगर टीम को उसके तरीके पर भरोसा नहीं है तो वे किसी और को आजमाने की सोच सकते हैं.” पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ”लेकिन इस तरीके ने उसके लिए काम किया है, भारत के काम आया है. वह एक छोर पर डटा रहता है जबकि शॉट खेलने वाले खिलाड़ी के पास दूसरे छोर पर शॉट खेलने का मौका होता है, क्योंकि उसे पता है कि एक छोर पर मजबूत खिलाड़ी खड़ा है.”

    IND vs ENG: वसीम जाफर ने खास मैसेज शेयर कर बताया पहले टेस्ट का प्लेइंग-XI, दो स्पिनर शामिल

    उन्होंने कहा, ”मुझे लगता है कि उन्हें अपने ऊपर विश्वास रखना होगा और उस तरीके से खेलना जारी रखना होगा, जिसे वह सर्वश्रेष्ठ समझते हैं क्योंकि वर्षों से उन्होंने भारत के लिए शानदार काम किया है.” पुजारा डब्ल्यूटीसी के दो साल के पिछले चक्र के दौरान एक भी शतक नहीं जड़ा पाए और इस दौरान 30 से कम की औसत से रन बनाए. पुजारा बुधवार (4 अगस्त) से इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम में शुरू हो रही पांच मैचों की सीरीज (IND vs ENG) के दौरान खेलते नजर आएंगे.

    वहीं, पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों के लिए ड्यूक गेंद के खिलाफ उतरना एक बेहतरीन परीक्षा होगी. भारत इंग्लैंड में अपनी पिछली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज हारा है, जिसकी वजह उनके द्वारा लाया गया औसत से कम बल्लेबाजी प्रदर्शन रहा. इसी संदर्भ में लक्ष्मण चाहते हैं कि भारतीय बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन करें. वह चाहते हैं कि चेतेश्वर पुजारा बढ़त बनाए, जो खराब दौर से गुजर रहे हैं. पुजारा ऑस्ट्रेलिया में एक सीरीज के बाद लगातार स्कोर कर पाने में नाकाम रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया सीरीज के बाद पुजारा ने सिर्फ एक अर्धशतक बनाया, जो इस साल फरवरी में इंग्लैंड सीरीज में था.
    IND VS ENG: मयंक अग्रवाल की चोट के बावजूद केएल राहुल से ओपनिंग नहीं कराएंगे विराट-शास्त्री?

    लक्ष्मण ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत में कहा, ”इसमें कोई शक नहीं कि पुजारा इस वक्त जिस दौर से गुजर रहे हैं, वह उसके बारे में सचेत होंगे. जहां तक ​​उन बड़े अर्धशतकों को बनाने या उन शतकों को बनाने की बात है और आप पुजारा से नंबर 3 की स्थिति में बहुत उम्मीद करते हैं, क्योंकि दोनों सलामी बल्लेबाजों के साथ यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्थिति है.”

    लक्ष्मण का मानना ​​​​है कि अगर पुजारा राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के उस परफॉर्मेंस को दोहरा सकते हैं, तो भारत अजेय होगा. हालांकि, मौजूदा समय में पुजारा के परफॉर्मेंस को देखते हुए, यह कहना मुश्किल होगा कि क्या वह 2007 के द्रविड़ को दोहराने में सक्षम होंगे या नहीं.

    (भाषा के इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज