अपना शहर चुनें

States

IND VS ENG: इशांत से पहले इस गेंदबाज ने भी मोटेरा में खेला था 100वां टेस्ट, हम जीते भी थे

इशांत ने टेस्ट करिअर की शुरुआत 2007 में की थी.
इशांत ने टेस्ट करिअर की शुरुआत 2007 में की थी.

तेज गेंदबाज इशांत शर्मा मोटेरा स्टेडियम में 100 टेस्ट खेलने का रिकॉर्ड बना सकते हैं. वे कपिल देव के बाद 100 टेस्ट खेलने वाले दूसरे भारतीय तेज बनने से सिर्फ एक टेस्ट दूर हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 4:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) मोटेरा (Motera Test) में नया मुकाम हासिल कर सकते हैं. भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच तीसरा टेस्ट 24 फरवरी से शुरू होगा. यहां इशांत 100 टेस्ट खेलने का रिकॉर्ड बना सकते हैं. इशांत के पहले बतौर भारतीय तेज गेंदबाज सिर्फ कपिल देव ने ही 100 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं. 2007 में टेस्ट करिअर शुरू होने वाले इशांत ने 80 वनडे और 14 टी20 इंटरनेशनल भी खेले हैं. हालांकि उन्होंने 2016 के बाद कोई भी इंटरनेशनल लिमिटेड ओवर का मुकाबला नहीं खेला है.

इशांत के पहले टीम इंडिया के पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने भी इसी मैदान पर अपना 100वां टेस्ट मैच खेला था. दिसंबर 2005 में हुए इस मुकाबले में टीम इंडिया ने श्रीलंका को 259 रन से हराया था. 100वां टेस्ट खेल रहे अनिल कुंबले ने इस मैच में 7 विकेट लिए थे और 50 रन भी बनाए थे. यानी अब तक भारतीय खिलाड़ियों के लिए मोटेरा का स्टेडियम भाग्यशाली रहा है. ऐसे में यदि इशांत मोटेरा में उतरते हैं तो वे भी कुंबले की तरह 100वां टेस्ट मैच जीत के साथ यादगार बनाना चाहेंगे. इशांत के टेस्ट करिअर की बात की जाए तो उन्होंने 99 टेस्ट में 302 विकेट लिए हैं. 11 बार पांच विकेट और एक बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है. वे टेस्ट में एक अर्धशतक के साथ 736 रन बना चुके हैं. वनडे में इशांत ने 80 मैच में 115 विकेट जबकि 14 टी20 में 8 विकेट झटके.

https://hindi.news18.com/news/sports/cricket-world-biggest-cricket-stadium-motera-can-make-the-world-record-of-most-fans-3478871.html



सिर्फ 3 फीसदी भारतीय खिलाड़ी ही 100 से अधिक टेस्ट खेल सके हैं
टीम इंडिया की ओर से 100 से अधिक खेलने वाले खिलाड़ियों की बात की जाए तो अब तक 10 खिलाड़ी ऐसा कर चुके हैं. सचिन तेंदुलकर ने सबसे ज्यादा 200 टेस्ट खेले हैं. भारत की ओर से टेस्ट में 302 खिलाड़ी उतरे हैं. यानी कुल खिलाड़ियों में से सिर्फ 3 फीसदी खिलाड़ी ही 100 से अधिक टेस्ट खेल सके हैं. इसके अलावा राहुल द्रविड़ (163), वीवीएस लक्ष्मण (134), अनिल कुंबले (132), कपिल देव (131), सुनील गावस्कर (125), दिलीप वेंगसरकर (116), सौरव गांगुली (113), हरभजन सिंह (103) और वीरेंद्र सहवाग (103) भी ऐसा कर चुके हैं. पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजरुद्दीन 99 टेस्ट ही खेल सके और टेस्ट का शतक पूरा करने से एक मैच दूर रह गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज