• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IND vs ENG: इंग्लैंड के 'संकटमोचक' ओली पोप के रोल मॉडल हैं रूट, बताया- कैसे की सफल वापसी

IND vs ENG: इंग्लैंड के 'संकटमोचक' ओली पोप के रोल मॉडल हैं रूट, बताया- कैसे की सफल वापसी

IND vs ENG: ओली पोप ने ओवल टेस्ट की पहली पारी में 81 रन बनाए. (AP)

IND vs ENG: ओली पोप ने ओवल टेस्ट की पहली पारी में 81 रन बनाए. (AP)

IND vs ENG: भारत और इंग्लैंड के बीच ओवल (Oval Test) में खेले जा रहे चौथे टेस्ट में ओली पोप (Ollie Pope) इंग्लैंड के संकटमोचक बने. एक वक्त टीम ने 62 रन के स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए थे. लेकिन पोप ने 81 रन की पारी खेलकर टीम को बढ़त दिलाई. अपनी वापसी पर उन्होंने कहा कि मैंने निराशाजनक चीजों को नजरअंदाज करना सीख लिया है. इसी वजह से मैं सफल वापसी कर पाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    लंदन. भारत और इंग्लैंड के बीच ओवल में खेले जा रहे चौथे टेस्ट में ओली पोप (Ollie Pope) इंग्लैंड के संकटमोचक बने. एक वक्त टीम ने 62 रन के स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए थे. लेकिन पोप ने एक छोर संभाले रखा. उन्होंने पहले जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) के साथ छठे विकेट के लिए 89 रन और फिर मोईन अली (35) के साथ 71 रन जोड़ते हुए टीम को 99 रन की अहम बढ़त दिलाई. पोप को इस मैच में जोस बटलर (Jos Buttler) की जगह प्लेइंग-11 में मौका दिया गया था. बटलर दोबारा पिता बनने वाले हैं. इसी वजह से वो ओवल टेस्ट नहीं खेले. हालांकि, पोप ने 81 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड के टीम मैनेजमेंट के इस फैसले को सही साबित किया.

    पोप ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा कि मेरे लिए घरेलू मैदान पर अर्धशतक लगाना खुशी की बात है. मेरे लिए वापसी आसान नहीं थी. मैंने निराशाजनक चीजों को नजरअंदाज करना सीख लिया है. इसी वजह से मैं सफल वापसी कर पाया. जनवरी 2020 में दक्षिण अफ्रीका में अपना पहला शतक बनाने वाला 23 वर्षीय यह बल्लेबाज इस साल अपनी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलने में नाकाम रहा है. इस मुकाबले में भी 81 रन (159 गेंद में) की पारी से पहले इस साल का उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर फरवरी में भारत के खिलाफ चेन्नई में 34 रन था.

    टीम से अंदर-बाहर होना कठिन: पोप
    उन्होंने आगे कहा कि यह कठिन (टीम से अंदर-बाहर होना) है, मुझे लगा कि यह कभी-कभी निराशाजनक होता है. ईमानदारी से कहूं तो यह सीखने का मौका है. मैंने सीखा है कि निराशाजनक बातों से कैसे निपटना है. मैं दूसरी बातों को नजरअंदाज कर के अपने खेल को लेकर जितना हो सके उतना आश्वस्त होना चाहता हूं.

    ‘मेरा करियर स्टॉप-स्टार्ट वाला रहा है’
    अगस्त 2020 में पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान अपने कंधे की चोट को याद करते हुए उन्होंने कहा कि मेरा करियर ‘स्टॉप-स्टार्ट (रुकावट से भरा)’वाला रहा है. मैंने लगभग चार साल पहले अपनी शुरुआत की थी. इस दौरान कई बार टीम से अंदर-बाहर होता रहा हूं और कंधे के ऑपरेशन भी हुए हैं. कंधे की इस चोट के कारण उन्हें लगभग चार महीने तक खेल से दूर रहना पड़ा था.

    IND vs ENG: उमेश यादव ने भारत की बड़ी कमजोरी बताई, जिसका दूसरे दिन उठाना पड़ा खामियाजा

    पोप की बल्लेबाजी में दिखी रूट की झलक
    पोप की बल्लेबाजी में रूट की झलक नजर आती है. वो खुद ही इंग्लिश कप्तान को अपना रोल मॉडल मानते हैं. उन्होंने अपनी बल्लेबाजी को लेकर रूट से बात की थी. ओवल में भी पोप ने रूट के अंदाज में ही बल्लेबाजी की. वो पिच पर टिके रहे और जैसे ही खराब गेंद मिली, उस पर करारे शॉट्स लगाए. उन्होंने शार्दुल ठाकुर की गेंद पर लगातार 3 चौके लगाए. रूट भी पूरी सीरीज में इसी तरह की बल्लेबाजी कर रहे हैं. वो क्रीज पर समय बिताते हैं और जब भी कमजोर गेंद मिलती है, उस पर रन बटोरने का मौका नहीं छोड़ते.

    यह भी पढ़ें: Ind vs Eng: भारत को जीत के लिए चाहिए होगी कम से कम 250 रनों की लीड, जानें ओवल में चौथी पारी का रिकॉर्ड

    ‘ओवल में शतक ना लगा पाने का मलाल’
    ओवल के मैदान पर पोप की बल्लेबाजी औसत 19 पारियों में 101.8 की है और वह भारत के खिलाफ शतक पूरा करने से चुकने के कारण निराश है. उन्होंने कहा कि यह मेरे घरेलू मैदान पर पहला टेस्ट है और मेरे लिए वास्तव में एक खास मौका था. आप अपने घरेलू मैदान पर खचाखच भरे दर्शकों के सामने शतक लगाने का सपना देखते हैं. उम्मीद है कि मुझे भविष्य में कुछ और मौके मिलेंगे. लेकिन अभी के लिए मुझे टीम को अच्छी स्थिति में लाने में योगदान देने में खुशी हो रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज