IND vs ENG: अहमदाबाद की पिच पर क्यों खुलकर नहीं खेल पा रहे टीम इंडिया के खिलाड़ी?

टीम इंडिया पहले और तीसरे टी20 में पहले बल्लेबाजी करते हुए 160 रन के स्काेर तक नहीं पहुंच सकी.

टीम इंडिया पहले और तीसरे टी20 में पहले बल्लेबाजी करते हुए 160 रन के स्काेर तक नहीं पहुंच सकी.

पांच मैचों की टी20 सीरीज (India vs England) में इंग्लैंड की टीम 2-1 से आगे है. ऐसे में इंग्लिश टीम गुरुवार को होने वाले चौथे मैच को जीतकर सीरीज पर कब्जा करना चाहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 12:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) के बल्लेबाज टी20 सीरीज (India vs England) में अब तक खुलकर बल्लेबाजी नहीं कर सके हैं. टेस्ट सीरीज के अंतिम दोनों मैच भी इसी मैदान पर खेले गए थे. उसमें भी टीम सिर्फ एक बार 300 से अधिक का स्कोर बना सकी थी. पांच मैचों की टी20 सीरीज में इंग्लिश टीम 2-1 से आगे है. यदि गुरुवार को होने वाले मैच को इंग्लिश टीम जीत लेती है तो सीरीज पर कब्जा कर लेगी. इंग्लिश टीम सीरीज जीतकर भारत में नया रिकॉर्ड बनाना चाहेगी.

टीम इंडिया को पहले और तीसरे टी20 मैच में पहले बल्लेबाजी का मौका मिला. दोनों ही मैच में शुरुआत में तेज गेंदबाजों को मदद मिली थी. इंग्लिश तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड 150 किमी/घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं. उन्हें यहां अच्छा बाउंस भी मिल रहा था. इन तेज गेंदबाजों के खिलाफ हमारे बल्लेबाज कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके. दोनों ही मैच में हम पहले ही 6 ओवर में मैच से लगभग बाहर हो गए थे. क्योंकि हमने तीन महत्वपूर्ण विकेट गंवा दिए थे. टेस्ट सीरीज में यहां स्पिन गेंदबाजों को मदद मिली थी. ऐसे में टीम इंडिया ने ऐसी ही पिच को लेकर रणनीति बनाई थी. लेकिन तीन टी-20 मैचों के रिकॉर्ड को देखें तो अब तक इसके उलट ही हुआ है.

इंग्लिश तेज गेंदबाज मार्क वुड ने दो मैच में 8 ओवर 6 की इकोनॉमी से रन दिए हैं और सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए हैं. सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की बात करें तो टॉप-5 में तीन इंग्लिश तेज गेंदबाज हैं. तीसरे टी20 में उम्मीद लगाई जा रही थी कि इंग्लिश टीम ऑलराउंडर मोइन अली को मौका देगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. मतलब मेहमान टीम का पूरा जोर अपने तेज गेंदबाजों पर है. टीम इंडिया को मैच में दबदबा बनाना है तो पहले 6 ओवर में इंग्लिश गेंदबाजों के सामने खुलकर खेलना होगा. दूसरे टी20 में कप्तान विराट कोहली और ईशान किशन ने ऐसा ही किया था.

तेज गेंदबाज नवदीप सैनी को देना होगा मौका
दूसरी ओर भारत के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार, शार्दुल ठाकुर और हार्दिक पंड्या की बात करें तो तीनों की स्पीड 130-135 किमी/घंटा के आस-पास रही है. यानी हमारे गेंदबाजों के पास इंग्लिश तेज गेंदबाजों जैसी गति नहीं है. इसलिए अब तक हम शुरुआती 6 ओवर में इंग्लैंड के बल्लेबाजों को अधिक परेशान नहीं कर सके हैं. ऐसे में उम्मीद है कि चौथे मैच में टीम इंडिया नवदीप सैनी को मौका दे सकती है. सैनी 140 से अधिक की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं. पूर्व भारतीय खिलाड़ी गौतम गंभीर भी नवदीप को टीम में शामिल किए जाने के पक्ष में हैं.

यह भी पढ़ें: IND VS ENG: केएल राहुल की जगह लेंगे सूर्यकुमार यादव? जानिए भारत की संभावित Playing 11

इंग्लैंड दो सीरीज जीतने वाली पहली विदेशी टीम बन सकती है



टीम इंडिया ने घर में 20 द्विपक्षीय टी20 सीरीज खेली हैं. सिर्फ 4 में टीम इंडिया को हार मिली है. अंतिम बार फरवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया ने हमें दो मैचों की सीरीज में 2-0 से हराया था. इसके अलावा इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड से भी एक-एक बार हार मिली है. इंग्लिश टीम यदि चौथा मैच जीत लेती है तो भारत में दो टी20 सीरीज जीतने वाली पहली टीम बन जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज