WTC: भारत वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप जीता तो बनेगा इतिहास, 2 फॉर्मेट का पहला विश्व खिताब जीतने का मौका

पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने अगले तीनों टेस्ट में जीत हासिल की.

पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने अगले तीनों टेस्ट में जीत हासिल की.

टीम इंडिया ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली है. टीम ने चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को पारी और 25 रन से हराकर फाइनल में जगह पक्की की.

  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (Wolrd test Championship) के फाइनल में पहुंच गई है.  टीम अब 18 से 22 जून तक लॉर्ड्स में होने वाले फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ेगी. टीम इंडिया ने चौथे टेस्ट (India vs England) में इंग्लैंड को पारी और 25 रन से हराया. इसके साथ टीम ने सीरीज पर 3-1 से कब्जा कर लिया. टीम को चेन्नई में हुए पहले टेस्ट में हार मिली थी. लेकिन इसके बाद टीम ने शानदार वापसी करते हुए तीनों मैच जीते और सीरीज पर कब्जा किया. जीत में स्पिन गेंदबाजों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

टीम इंडिया इसके पहले 2007 में हुए टी20 वर्ल्ड कप के पहले सीजन के फाइनल में पहुंची थी. तब टीम ने फाइनल में पाकिस्तान को हराकर खिताब भी जीता था. अब टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला सीजन भी जीतना चाहेगी. अगर टीम टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल जीत लेती है तो क्रिकेट के तीन में से दो फॉर्मेट के पहले सीजन का खिताब जीतने वाली पहली टीम बन जाएगी. टीम इंडिया तीनों फॉर्मेट के दो डेब्यू टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने वाली इकलौती टीम भी है. टीम ने टी20 के अलावा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी जगह बनाई. 1975 में हुए पहले वनडे वर्ल्ड कप फाइनल विंडीज और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ था. 2007 में हुए पहले टी20 वर्ल्ड का फाइनल भारत और पाक के बीच हुआ और अब टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल भारत और न्यूजीलैंड के बीच होगा.

6 में से 5 सीरीज में जीत मिली



टीम इंडिया ने चैंपियनशिप में अब तक 17 मुकाबले खेले और 12 में जीत दर्ज की. इस दौरान टीम ने सिर्फ एक सीरीज गंवाई. टीम ने सबसे पहले विंडीज को उसी के घर में दो मैचों की सीरीज में 2-0 से हराया. इसके बाद घर में दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से और बांग्लादेश को 2-0 से हराया. इसके बाद टीम को न्यूजीलैंड में 0-2 से हार मिली. इसके बाद टीम ने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन करते हुए सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की. इसके बाद अंतिम सीरीज में इंग्लैंड को 3-1 से हराया. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में हर टीम को छह सीरीज खेलनी थी. तीन सीरीज घर में और तीन सीरीज घर के बाहर खेलनी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज